राजद में मचा घमासान: तेजप्रताप का तेजस्वी के सलाहकार पर आरोप, कहा- भाई से बात नहीं करने दे रहे

तेजप्रताप यादव ने कहा कि जब हम तेजस्वी से बात कर रहे थे संजय यादव ने हमें बात करने से रोक दिया और तेजस्वी को लेकर चले गए।

राजद नेता तेजप्रताप यादव ने तेजस्वी यादव के सलाहकार संजय यादव पर दोनों भाईयों के बीच में आने का आरोप लगाया है। (फोटो- एएनआई: ट्विटर/@sanjuydv )

राजद परिवार में मचा घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। तेजप्रताप यादव के करीबी आकाश यादव को छात्र राजद के अध्यक्ष पद से हटाए जाने के बाद ही लालू परिवार में घमासान मचा हुआ है। लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव का गुस्सा तेजस्वी यादव के सलाहकार संजय यादव पर फिर से निकला है। शुक्रवार को तेजस्वी यादव से मुलाक़ात नहीं होने के बाद तेजप्रताप यादव ने संजय यादव पर आरोप लगाते हुए कहा कि वो मुझे मेरे भाई से ना ही मिलने दे रहे है और ना ही बात करने दे रहे हैं।

दरअसल शुक्रवार को तेजप्रताप यादव अपने भाई तेजस्वी यादव से मिलने राबड़ी देवी के आवास पर पहुंचे थे। लेकिन थोड़े देर के बाद ही वो गुस्से में आवास से बाहर निकल आये। इस दौरान जब उनसे मीडिया कर्मियों ने सवाल पूछा तो तेजप्रताप का सारा गुस्सा तेजस्वी यादव के सलाहकार पर फूट पड़ा। तेजप्रताप यादव ने कहा कि जब हम तेजस्वी से बात कर रहे थे संजय यादव ने हमें बात करने से रोक दिया और तेजस्वी को लेकर चले गए।    

आगे तेजप्रताप ने कहा कि मुझे बात नहीं करने दिया और ना ही मिलने दिया जा रहा है। ये दोनों भाईयों के बीच में आ रहे हैं। इस दौरान तेजप्रताप यादव ने गुस्से वाले अंदाज में कहा कि संजय यादव मुझे तेजस्वी से बात करने से रोकने वाला कौन होता है? मुझे अपने ही भाई से बात करने से रोका जा रहा है। 

पिछले दिनों तेजप्रताप यादव के करीबी आकाश यादव को हटाकर गगन कुमार को छात्र राजद का अध्यक्ष बनाया गया था। प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने गगन कुमार को छात्र राजद का अध्यक्ष नियुक्त किया। इस फैसले के बाद से ही तेजप्रताप यादव प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह और तेजस्वी यादव के सलाहकार संजय यादव पर हमलावर हो गए हैं।

बुधवार को भी तेजप्रताप यादव ने ट्वीट कर दोनों पर हमला बोला था। तेजप्रताप ने अपने ट्वीट में लिखा था कि प्रवासी सलाहकार से सलाह लेने में अध्यक्ष जी ये भूल गए कि पार्टी संविधान से चलता है और राजद का संविधान कहता है कि बिना नोटिस दिए आप पार्टी के किसी पदाधिकारी को पदमुक्त नहीं कर सकते।आज जो हुआ वो राजद के संविधान के खिलाफ हुआ।

इसके अलावा एक और ट्वीट में तेजप्रताप यादव ने लिखा कि जिस प्रवासी सलाहकार के इशारों पर पार्टी चल रही है वो हरियाणा में अपने परिवार से किसी को सरपंच नहीं बनवा सकता। वो ख़ाक मेरे अर्जुन को मुख्यमंत्री बनाएगा। वो प्रवासी सलाहकार सिर्फ लालू परिवार और राजद में मतभेद पैदा कर सकता है।

इतना ही नहीं तेजप्रताप के द्वारा मोर्चा खोले जाने के बाद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने भी मीडिया के द्वारा पूछे गए एक सवाल पर कह दिया था कि हू इज तेज प्रताप। जगदानंद सिंह के इस बयान पर तो तेजप्रताप यादव एकदम आग बबूला हो गए। तेजप्रताप ने जगदानंद सिंह पर सीधा वार करते हुए कहा दिया कि जगदानंद सिंह जाकर लालू जी से पूछें कि हू आई एम। जगदानंद सिंह तानाशाह की तरह काम करते हैं और वे पार्टी का संविधान भूल गए हैं।  

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।