ताज़ा खबर
 

लालू की पार्टी के वरिष्ठ नेता बोले- 24 विधायक कभी भी छोड़ सकते हैं नीतीश का साथ

राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने नया शिगूफा छोड़ा है। उन्होंने नीतीश कुमार की पार्टी में टूट का दावा करते हुए कहा है कि 24 विधायक उनके संपर्क में हैं। जल्द ही सभी विधायक जदयू छोड़कर राजद की सदस्यता लेंगे। जिस तरह से पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने एनडीए का साथ […]

Author नई दिल्ली | March 8, 2018 5:41 PM
राजद के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह( फोटो-सोशल मीडिया)

राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने नया शिगूफा छोड़ा है। उन्होंने नीतीश कुमार की पार्टी में टूट का दावा करते हुए कहा है कि 24 विधायक उनके संपर्क में हैं। जल्द ही सभी विधायक जदयू छोड़कर राजद की सदस्यता लेंगे। जिस तरह से पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने एनडीए का साथ छोड़कर राजद की तरफ रुख किया, उससे रघुवंश प्रसाद सिंह के बयान के सियासी गलियारे में निहितार्थ निकाले जा रहे हैं। यही नहीं रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि एनडीए के एक और सहयोगी उपेंद्र कुशवाहा से भी बातचीत चल रही है। वे भी एनडीए का साथ छोड़कर राजद के साथ आ सकते हैं।

द टेलीग्राफ में छपी रिपोर्ट के मुताबिक राजद के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि नीतीश की पार्टी में उनके दो दर्जन से अधिक विधायक उपेक्षित महसूस कर रहे हैं। वे किसी भी समय जनता दल यूनाइटेड का साथ छोड़कर राजद के साथ खड़े दिख सकते हैं। जदयू के असंतुष्ट विधायकों का मानना है कि नीतीश कुमार ने महागठबंधन का साथ छोड़कर जनता के जनमत का अपमान किया है। रघुवंश ने कहा कि असंतुष्ट विधायक सही मौके की तलाश कर रहे हैं। मौका मिलते ही वे नीतीश का साथ छोड़ेंगे।

बता दें कि बिहार में इस वक्त राज्यसभा चुनाव की सरगर्मी चल रही है। इसके बाद विधान परिषद के भी चुनाव हैं। ऐसे में विधायकों के तोड़-फोड़ को लेकर राजनीतिक दलों में बेचैनी है। बिहार की कुल छह राज्यसभा सीटों के लिए 23 मार्च को मतदान होगा। 12 मार्च तक सभी पार्टियों के उम्मीदवार नामांकन दाखिल कर सकेंगे। ऐन वक्त पर पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने एनडीए से नाता तोड़कर राजद से हाथ मिलाया। माना जा रहा है कि राजद से वे राज्यसभा जाना चाहते हैं। संख्या बल को देखते हुए राजद से दो लोगों का राज्यसभा जाना तय माना जा रहा है। जबकि आधे दर्जन से अधिक नेता दावेदारी कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App