ताज़ा खबर
 

फारूख अब्दुल्ला बोले- जम्मू कश्मीर में राज्यपाल शासन के लिए सही वक्त

जम्मू में भूमि विवाद में भाजपा नेताओं की कथित संलिप्तता को लेकर महबूबा मुफ्ती सरकार की खामोशी पर सवाल उठाते हुए जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने राज्य में तुरंत राज्यपाल शासन लगाने की मांग की है।

Author श्रीनगर | May 22, 2018 4:06 PM
जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला

जम्मू में भूमि विवाद में भाजपा नेताओं की कथित संलिप्तता को लेकर महबूबा मुफ्ती सरकार की खामोशी पर सवाल उठाते हुए जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने राज्य में तुरंत राज्यपाल शासन लगाने की मांग की है। नेशनल कॉन्फ्रेंस के संरक्षक और लोकसभा सदस्य अब्दुल्ला ने कहा कि उनकी पार्टी कभी भी राज्यपाल शासन को बढ़ावा देने वाली नहीं रही है , लेकिन राज्य में बढ़ती अशांति पर काबू पाने का यही एक मात्र रास्ता लगता है। उन्होंने कहा कि पीडीपी भाजपा सरकार में राज्य तेजी से अराजकता की ओर बढ़ रहा है। अब्दुल्ला ने कहा , ‘‘ हमें लगता है कि राज्यपाल के लिए यही सही वक्त है कि वह शासन अपने हाथ में ले लें।

विधानसभा को निलंबित कर दिया जाए और राज्य के लोगों को लोकतंत्र के फल का आनंद लेने दें। ’’ उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष निर्मल ंिसह और उप मुख्यमंत्री कवींद्र गुप्ता समेत शीर्ष भाजपा नेताओं द्वारा जम्मू के नगरोटा में सेना के गोला-बारूद डिपो के नजदीक एक कंपनी के मार्फत जमीन खरीदने को लेकर हुए विवाद का हवाला दिया। अब्दुल्ला ने कहा , ‘‘ राज्य सरकार चुप क्यों है ?’’ निर्मल ने 2,000 वर्ग मीटर के प्लॉट पर मकान का निर्माण करना शुरू कर दिया है , जिसके बाद जम्मू स्थित 16 वीं कोर के कमांडर ले जनरल सरणजीत ंिसह ने कड़ा विरोध किया। यह प्लॉट 2014 में खरीदी गई 12 एकड़ भूमि का हिस्सा है।

अब्दुल्ला के मुताबिक , राज्य के तीनों क्षेत्र ठगा महसूस कर रहे हैं। लोगों को लगता है कि कोई शासन नहीं है और कुछ भी आगे बढ़ता नहीं लगता है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा , ‘‘ हाल में आपने देखा होगा कि कैसे एक पूर्व उप मुख्यमंत्री और तत्कालीन विधानसभा अध्यक्ष कई भूमि सौदों और अन्य गतिविधियों में शामिल रहे हैं जो गैर कानूनी हैं। इसपर कोई कार्रवाई नहीं की गई है और सेना के अलावा कोई नहीं बोल रहा है। ’’ निर्मल ंिसह पूर्व उप मुख्यमंत्री हैं जबकि गुप्ता विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष हैं। दोनों ने ही कुछ भी गलत करने से इनकार किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App