ताज़ा खबर
 

मेघालयः 18 दिनों से खदान में फंसे 15 मजदूरों को बचाने की मुहिम जारी, 70 फीट तक भरा पानी निकालना बड़ी चुनौती

जयंतिया हिल्स की खदान में 15 मजदूर 18 दिनों से फंसे हैं। 350 फीट गहरी इस खदान में 70 फीट तक पानी भरा है।

मेघालय की खदान में रेस्क्यू (फोटोः PTI)

मेघालय में पूर्वी जयंतिया हिल्स स्थित 370 फीट गहरी एक कोयला खदान में 18 दिनों से फंसे 15 मजदूरों को निकालने का मिशन रविवार को भी जारी है। इस मिशन में नौसेना, वायुसेना, कोल इंडिया और ओडिशा फायर डिपार्टमेंट के साथ-साथ निजी कंपनी किर्लोस्कर समेत कई और टीमें भी जुटी हुई हैं। रविवार को खदान से पानी निकालने के लिए जद्दोजहद शुरू हो गई है। पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक रविवार को दोपहर डेढ़ बजे नौसेना के जवानों ने खदान के अंदर पहुंचकर पानी का वास्तविक स्तर को नापने की शुरुआत की थी। अब तक खदान से सिर्फ तीन मजदूरों के हेलमेट मिल पाए हैं।

…यूं फंस गए मजदूर खदान में

उल्लेखनीय है कि 13 दिसंबर को मजदूर खदान में काम कर रहे थे, इसी दौरान पास में बहने वाली लैटीन नदी का पानी भरने से वे अंदर ही फंस गए। यहां एनजीटी की तरफ से रोक लगाए जाने के बावजूद खनन का काम जारी था। रविवार को इस ऑपरेशन में कई हाई-पावर पंप लगाए गए हैं। इसके साथ ही नौसेना के 11 गोताखोर भी इस मिशन से जुड़े हैं। एनडीआरएफ (राष्ट्रीय आपदा राहत बल) ने नौसेना की मदद के लिए कुछ विशेष नावें भी उतारी हैं।

70 फीट तक भरा है पानी, उम्मीदें अब भी कायम

यहां रेस्क्यू की शुरुआत में एनडीआरएफ के पास उच्च क्षमता के पंप नहीं होने से देरी हुई। करीब दो हफ्ते बाद एयरफोर्स से पंप पहुंचाने के लिए मदद मांगी गई। अफसरों की ढिलाई से भी प्रक्रिया में देरी हो गई। प्राप्त जानकारी के मुताबिक 350 फीट गहरी इस खदान में करीब 70 फीट तक पानी भरा है। फिलहाल कोशिशें जारी हैं। कुछ महीनों पहले थाइलैंड की एक गुफा में फंसी फुटबॉल टीम को निकालने में भी इसी तरह की मशक्कत करनी पड़ी थी। ऐसे में रेस्क्यू में जुटे दलों की उम्मीदें कायम हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App