यूपी में धर्मांतरणः आरोपियों में डॉक्टर, इंजीनियर और PhD होल्डर, बोले डिप्टी CM- यह खतरनाक खेल है…

इस्लामिक दावा सेंटर से मिले दस्तावेजों से पता चला है कि धर्म बदलने वालों में डॉक्टर, इंजीनियर और PhD होल्डर भी मौजूद हैं। उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का कहना है कि यह एक खतरनाक खेल है।

Keshav prasad maurya, mirzapur news, keshav prasad maurya news, keshav prasad maurya on conversion, keshav prasad maurya on dharmantaran, keshav prasad maurya in mirzapur, keshav prasad maurya visit mirzapur, धर्मांतरण, केशव प्रसाद मौर्या, मिर्जापुरः, यूपी कोई चारागाह, conversion racket, conversion racket up, conversion racket in uttar pradesh, up news, up news in hindi, uttar pradesh news, uttar pradesh news in hindi, Mirzapur News in Hindi, Latest Mirzapur News in Hindi, Mirzapur Hindi Samachar, up religious conversion news, UP Police action on forcefully conversion,यूपी में जबरन धर्मांतरण रैकेट का पर्दाफाश, यूपी एटीएस धर्मांतरण रैकेट, jansatta
उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य। (Express photo by Cheena Kapoor/File)

उत्तर प्रदेश में अवैध धर्मांतरण के मामले की आतंकवाद विरोधी दस्ते (ATS) जांच कर रही है। एटीएस की टीम ने इस्लामिक दावा सेंटर (IDC) से जुड़े कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। इस दौरान इस्लामिक दावा सेंटरसे मिले दस्तावेजों से पता चला है कि आरोपियों में डॉक्टर, इंजीनियर और PhD होल्डर भी मौजूद हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस्लामिक दावा सेंटर से ताल्लुक रखने वाले मोहम्मद उमर गौतम और मुफ्ती जहांगीर कासमी द्वारा बीते डेढ़ साल में करवाए गए धर्मांतरण के 81 पन्ने का विवरण सामने आया है। चौंकने वाली बात यह है कि धर्म बदलने वालों में ज़्यादातर पढे लिखे लोग हैं। इसमें सरकारी नौकरी करने वाले, बीटेक तक पढ़ाई कर चुका शिक्षक, एमबीए पास कर नौकरी कर रहा युवक, सीनियर सॉफ्टवेयर इंजीनियर, दिल्ली के अस्पताल की स्टाफ नर्स, गुजरात का एमबीबीएस डॉक्टर, इलेक्ट्रिकल्स में डिप्लोमा होल्डर एमफार्मा, पीएचडी कर चुके युवा शामिल हैं।

इसको लेकर यूपी के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का कहना है कि यह एक खतरनाक खेल है। उप-मुख्यमंत्री ने कहा “कोई गुमराह करके, विदेशी पैसे का लालच देकर धर्मांतरण करेगा तो यूपी कोई चारागाह नहीं है जो चरते रहेंगे।उन पर कठोर करवाई की जाएगी।

केशव प्रसाद मौर्य ने कहा “इस खतरनाक खेल में तमाम देशी और विदेशी शक्तियां जहर घोल रही हैं। इसकी बहुत गहराई से छानबीन की जा रही है। जो भी दोषी पाया जाएगा उसे कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी।”

जनसंख्या नियंत्रण कानून के सवाल पर केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सरकार इस पर गंभीरता से विचार कर रही है। कहा कि ना तो तुष्टीकरण की राजनीति होगी ना ही किसी के साथ भेदभाव किया जाएगा। यूपी के बंटवारे पर केशव मौर्य ने कहा कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।