चार धाम यात्रा के ल‍िए 42 हजार तीर्थ यात्रियों का रजिस्ट्रेशन

यात्रा और पर्यटन से जुड़े कारोबारियों के लिए राज्य सरकार ने 200 करोड़ रुपए का आर्थिक पैकेज जारी क‍िया है। पर्यटन विभाग की ओर से अब तक लगभग 15 हजार लोगों को 7 करोड़ की धनराशि वितरित की जा चुकी है।

Pilgrimage, Uttarakhand
चार धामों की यात्रा करना सभी हिंदू तीर्थयात्रियों की इच्छा होती है। सरकार की ओर से इसकी व्यवस्था की गई है। (फोटो- फाइनेंशियल एक्सप्रेस)

उत्तराखंड में इन दिनों चार धाम यात्रा चल रही है। यात्रा के ल‍िए 42 हजार से अधिक लोगों को ई-पास जारी किए जा चुके हैं। अब तक चार धामों में साढ़े पांच हजार से ज्‍यादा लोग दर्शन कर चुके हैं। चार धाम यात्रा और पर्यटन से जुड़े कारोबारियों के लिए राज्य सरकार ने 200 करोड़ रुपए का आर्थिक पैकेज जारी क‍िया है।

उत्‍तराखंड सरकार का दावा है क‍ि चारों धाम के होटल, रेस्टोरेंट, टैक्सी संचालक आदि के साथ ही पर्यटन क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए एकमुश्त सहायता राशि उपलब्ध करायी गई है। पर्यटन विभाग की ओर से अब तक लगभग 15 हजार लोगों को 7 करोड़ की धनराशि वितरित की जा चुकी है। यह धनराशि लाभार्थियों के खाते में सीधे जमा कराये जा रही है। 

मुख्यमंत्री पुष्‍कर स‍िंह धामी का कहना है क‍ि चार धाम से जुड़े लोगों के ह‍ितों का ख्‍याल रखा जाएगा। देवस्थानम बोर्ड के तहत बनाई गई उच्च स्तरीय समिति द्वारा चारधाम से जुड़े तीर्थ पुरोहित की बात सुनकर सरकार के समक्ष अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी।

कमेटी में चारों धामों से दो-दो तीर्थ पुरोहितों को भी शामिल किया जायेगा। मुख्यमंत्री के इस आश्‍वासन के बाद तीर्थ पुरोहितों ने अपना आंदोलन स्थगित कर दिया है। यात्रा से उम्‍मीद है क‍ि कोविड-19 की दूसरी लहर के बाद बंद पड़े कारोबार को संजीवनी मिलेगी।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।