ताज़ा खबर
 

कोलकाता एयरपोर्ट पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल को दिखाए काले झंडे

कोलकाता से लौटते वक्त रिजर्व बैंक के गवर्नर को हवाई अड्डे के बाहर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए और उनके विरोध में नारेबाजी भी की।
रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल। (File Photo)

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर उर्जित पटेल को आज (गुरुवार को) कोलकाता एयरपोर्ट पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के गुस्से का सामना करना पड़ा। कोलकाता से लौटते वक्त उन्हें हवाई अड्डे के बाहर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए और उनके विरोध में नारेबाजी भी की। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नोटबंदी और उसके बाद कैश की कमी पर नाराजगी जाहिर की। इससे पहले तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और कुछ बड़े नेताओं ने भी आरबीआई गवर्नर का विरोध किया और उन्हें काले झंडे दिखाए। इन नेताओं ने नोटबंदी को वापस लेने की मांग की। पटेल कोलकाता में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के क्षेत्रीय कार्यालय में एक बैठक में शामिल होने आए थे।

रिजर्व बैंक के कोलकाता दफ्तर के गेट पर आज दूसरे दिन तृणमूल कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने आरबीआई गवर्नर से करेंसी सप्लाई करने की मांग की। और उनके खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया। इस बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरबीआई गवर्नर से मुलाकात की और  नोटबंदी से आम लोगों को हो रही परेशानियों से उन्हें अवगत कराया। साथ ही मुख्यमंत्री बनर्जी ने जल्द से जल्द स्थिति सामान्य करने की मांग की।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 8 नवंबर को रात 8 बजे 500 और 1000 के पुराने नोटों के इस्तेमाल पर पाबंदी की घोषणा की थी। उसके बाद से लोग अपने-अपने पैसों को जमा करने के लिए बैंकों में लंबी कतारों में खड़े दिखे। नोटबंदी के फैसले के 37 दिन बाद भी लोग अपने जमा किए हुए पैसे बैंकों से नहीं निकाल पा रहे हैं। इससे लोगों में एक तरफ गुस्सा है तो दूसरी तरफ व्यापारियों में भी निराशा है। छोटे-छोटे व्यापारियों का धंधा चौपट है। कई फैक्ट्रियों में उत्पादन कम गया है। मांग भी कमजोर पड़ गई है।

 

वीडियो देखिए- डिजिटल पेमेंट बढ़ाने के लिए मोदी सरकार का नया ऐलान- 15000 लोगों को रोज 1000 रुपए का इनाम

वीडियो देखिए- संसद में जारी गतिरोध से नाराज़ आडवाणी; कहा- “मुझे लगता है कि इस्तीफा दे दूं”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.