ताज़ा खबर
 

‘जमानत की शर्त’ पर मुकरी रांची गर्ल, बोली- नहीं बांटूंगी कुरान, सुब्रमण्यन स्वामी समेत कई दिग्गजों ने किया समर्थन

रिचा ने कहा, 'मैंने कोई पोस्ट नहीं लिखी। मैंने सिर्फ कहीं से मिली हुई पोस्ट को कट और पेस्ट करके शेयर कर दिया। दूसरे समुदाय के लोग भी ऐसा लिखते हैं लेकिन उन्हें कभी हनुमान चालीसा बांटने के लिए नहीं कहा गया। यह सही नहीं है।'

Ranchi Girl Quran 2रिचा भारती (फोटो-एएनआई)

झारखंड की राजधानी रांची में मंगलवार (16 जुलाई) को स्थानीय अदालत ने एक छात्रा को जमानत की शर्त के रूप में कुरान बांटने का आदेश दिया था। कथित तौर पर धार्मिक भावनाएं आहत करने वाली एक फेसबुक पोस्ट करने के चलते उसे यह सजा सुनाई गई थी। हालांकि एएनआई के मुताबिक रिचा भारती नाम की इस छात्रा ने अदालत के आदेश पर असंतोष जाहिर किया। बता दें कि सिविल कोर्ट मजिस्ट्रेट मनीष सिंह ने रिचा को अंजुम इस्लामिया कमेटी और चार अन्य स्कूल-कॉलेज में कुरान की प्रतियां दान करने को कहा था।

एएनआई से बातचीत में रिचा ने कहा, ‘मैं अदालत का सम्मान करती हूं लेकिन मैं इस फैसले से संतुष्ट नहीं हूं। मुझे एक साधारण सी फेसबुक पोस्ट के चलते मस्जिद जाकर कुरान देनी पड़ेगी। मेरे भगवान के बारे में कुछ लिखने में कुछ भी गलत नहीं है।’ रिचा ने अपने ऊपर लग रहे धार्मिक भावनाएं आहत करने वाले आरोपों को खारिज कर दिया। उसने कहा, ‘मैंने कोई पोस्ट नहीं लिखी। मैंने सिर्फ कहीं से मिली हुई पोस्ट को कट और पेस्ट करके शेयर कर दिया। दूसरे समुदाय के लोग भी ऐसा लिखते हैं लेकिन उन्हें कभी हनुमान चालीसा बांटने के लिए नहीं कहा गया। यह सही नहीं है।’ बता दें कि रिचा को उनके खिलाफ 12 जुलाई को एक आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर दर्ज हुए मुकदमे के बाद गिरफ्तार कर लिया गया था।

रिचा के साथ हुआ यह वाकया सामने आने के बाद कई हिंदू वादी संगठन और दक्षिण पंथी नेता भी उसके समर्थन में उतर आए हैं। बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से लिखा, ‘मैंने झारखंड सरकार में मंत्री और मेरे दोस्त सरयू राय से इस मामले को देखने के लिए कहा है। मैंने इस बहादुर लड़की को भी उनसे मिलने के लिए कहा है।’ वहीं कपिल मिश्रा ने लिखा, ‘संविधान का उल्लंघन किया है तो संविधान की कॉपी बांटने के लिए कहे। धर्मनिरपेक्ष देश का धर्मनिरपेक्ष न्यायालय किसी को कुरान की कॉपी बांटने का आदेश कैसे दे सकता है।’ बीजेपी नेता तेजिंदर पाल बग्गा भी रिचा के समर्थन में उतरे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Tripura: बीएसएफ के जवानों ने पशु तस्करों से ‘आजाद’ कराई थीं 45 गाय, प्राइवेट गोशाला में हुई सबकी मौत
2 मध्य प्रदेशः मानसून की सुस्ती से मायूस मेहमान
3 राजस्थानः साइबर अपराध की घटनाओं को रोकने में पुलिस विफल