ताज़ा खबर
 

राकेश सिन्हा आज पेश करेंगे जनसंख्या विनियमन विधेयक

राज्यसभा की कार्य सूची में 14वें क्रमांक पर राकेश सिन्हा के नाम पर निजी सदस्य विधयेक के रूप में यह दर्ज है। 13 जुलाई ‘विश्व जनसंख्या दिवस’ के रूप में मनाया जाता है।

Author नई दिल्ली | July 12, 2019 12:15 AM
राज्यसभा सांसद राकेश सिन्हा

सुशील राघव
देश की तेजी से बढ़ती जनसंख्या और उसकी वजह से सामने आ रहीं समस्याओं के समाधान के लिए राज्यसभा सांसद राकेश सिन्हा शुक्रवार को ‘जनसंख्या विनियमन विधेयक-2019’ पेश करेंगे। राज्यसभा की कार्य सूची में 14वें क्रमांक पर राकेश सिन्हा के नाम पर निजी सदस्य विधयेक के रूप में यह दर्ज है। 13 जुलाई ‘विश्व जनसंख्या दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। एक अनुमान के मुताबिक भारत अगले कुछ सालों में चीन को पीछे छोड़ कर भारत पृथ्वी का सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश बन जाएगा।

दो बच्चों के छोटे परिवार के आदर्श को इस विधेयक के माध्यम से पुनर्जीवित किया जाएगा। इस विधेयक के जरिए राज्यों और केंद्र सरकारों की ओर से प्रजनन स्वास्थ्य सेवाओं को हर व्यक्ति के लिए उपलब्ध, उसकी पहुंच में और उसके सामर्थ्य के हिसाब से बनाने पर जोर दिया जाएगा। राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था के उभरते सामाजिक, आर्थिक, स्वास्थ्य, पोषण, महामारी विज्ञान, पर्यावरण और अन्य विकासात्मक आवश्यकताओं के साथ जनसंख्या स्थिरीकरण के लक्ष्य को हासिल करने के लिए जनसंख्या विनियमन विधेयक-2019 को पेश किया जा रहा है।

देश की युवा और गतिशील जनसंख्या आयु संरचना के माध्यम से लंबे समय में राष्ट्रीय प्रगति की संभावनाओं पर जनसंख्या की गति के निहितार्थ को पहचानने के लिए इस विधेयक को लाया जा रहा है। स्थायी तरीके से जनसांख्यिकीय क्षमता का दोहन और जनसंख्या समूहों व क्षेत्रों में प्रचलित जनसांख्यिकीय और सामाजिक आर्थिक विषमताओं को दूर करने में मदद करने और सभी को एक समान अवसर देने के लिए चाहे वह किसी भी आयु, लिंग, धर्म, जाति, वर्ग, वंश, रिहाइश, भाषा आदि को क्यों न हो ताकि पूर्ण विकास क्षमता के लक्ष्य को पाया जा सके।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App