ताज़ा खबर
 

राज्यसभा में गूंजा ‘चमकी बुखार’ का मुद्दा, सांसदों ने की मोदी सरकार से तत्काल हस्तक्षेप की मांग

Encephalitis (Chamki Fever) Symptoms, Causes, Precautions, Treatment, Prevention: बिहार में दिमागी बुखार से करीब 130 बच्चों की मौत का मुद्दा राज्यसभा सदन में उठाया गया। इस दौरान पीड़ित परिवारों को मुआवजा देने की मांग की गई।

Author नई दिल्ली | June 21, 2019 3:52 PM
राज्यसभा में उठा बिहार में बच्चों की मौत का मुद्दा फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

बिहार में दिमागी बुखार से करीब 130 बच्चों की मौत का मुद्दा शुक्रवार (21 जून) को राज्यसभा में उठा और सदस्यों ने केंद्र से तत्काल हस्तक्षेप करने और पीड़ित परिवारों को पर्याप्त मुआवजा देने की मांग की। उच्च सदन में शून्यकाल में सदस्यों ने यह मुद्दा उठाया। सभापति एम वेंकैया नायडू ने इस घटना पर शोक जताते हुए कहा कि सदन उन बच्चों को श्रद्धांजलि देता है। इसके बाद सदस्यों ने अपने स्थानों पर कुछ क्षणों का मौन रखकर दिवंगत बच्चों को श्रद्धांजलि दी। नायडू ने कहा कि बिहार में बच्चों की मौत के मुद्दे पर चर्चा के लिए दिए गए कार्य स्थगन प्रस्ताव को नामंजूर कर दिया और यह विषय शून्यकाल में उठाने की अनुमति दी।

हर साल 24 लाख बच्चे होते हैं कुपोषण के शिकारः सीपीआई (कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया) के विनय विश्वम ने कहा कि सरकार इसे दुर्घटना बता रही है लेकिन इसे गरीब बच्चों की ‘हत्या’ कहा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आधिकारिक तौर पर 130 बच्चों की मौत हो चुकी है और अस्पतालों में न तो कोई दवाई है और न ही इस रोग के इलाज के लिए जरूरी सुविधाएं हैं। उन्होंने कहा कि बच्चे कुपोषण के शिकार हैं और हर साल देश में करीब 24 लाख बच्चों की कुपोषण के कारण मौत हो जाती है।उन्होंने सरकार से अनुरोध किया कि वह स्थिति में सुधार के लिए तत्काल कदम उठाए और प्रभावित परिवारों को पर्याप्त मुआवजा प्रदान करे।
National Hindi News, 21 june 2019 LIVE Updates: दिनभर की खबरें जानने के लिए यहां क्लिक करें

योग के महत्व का हुआ जिक्रः कांग्रेस सहित विपक्ष के कई सदस्य इस विषय पर चर्चा की मांग कर रहे थे लेकिन आसन ने इसकी अनुमति नहीं दी। इससे पहले नायडू ने शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस होने का भी जिक्र किया। इस क्रम में उन्होंने योग के महत्व का भी जिक्र किया। शून्यकाल में नायडू ने न्यूजीलैंड और कोलंबो में पिछले दिनों हुए आतंकवादी हमलों का भी जिक्र किया। सदस्यों ने बिहार में बच्चों और कोलंबो में बम विस्फोटों की घटनाओं में मारे गए लोगों की याद में अपने स्थानों पर खडे होकर कुछ क्षणों का मौन रखा और उन्हें श्रद्धांजलि दी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App