ताज़ा खबर
 

राज्यसभा की एक सीट पर बीजेपी के दो उम्मीदवार, जानें- किसे सपोर्ट करेगी पार्टी? कौन हैं जफ़र इस्लाम?

निर्वाचन अधिकारी ने ब्रज भूषण दुबे ने बताया कि जांच में जफर इस्लाम और नारायण शुक्ला के नामांकन पत्र सही पाए गए हैं।

भाजपा नेता जफर इस्लाम। (Twitter/syedzafarBJP)

उत्तर प्रदेश में सपा से राज्यसभा सांसद अमर सिंह के निधन से खाली हुई एक सीट पर उपचुनाव होने हैं। उप चुनाव में भाजपा उम्मीदवार के तौर पर सैय्यद जफर इस्लाम और गोविंद नारायण शुक्ला ने नामांकन पत्र दाखिल किए हैं। जांच में भी दोनों के नामांकन सही पाए गए हैं। हालांकि एक सीट पर भाजपा के दो उम्मीदवारों के मैदान में होने से मामला काफी दिलचस्प हो गया है। कल यानी 4 सितंबर नामांकन पत्र वापस लेने की आखिरी तारीख है। ऐसे में दोनों में से कौन अपना नामांकन पत्र वापस लेता है इसपर सभी की नजरें बनी हुई हैं।

निर्वाचन अधिकारी ब्रज भूषण दुबे ने बताया कि जांच में जफर इस्लाम और नारायण शुक्ला के नामांकन पत्र सही पाए गए हैं। निर्दलीय महेश कुमार के प्रस्तावक और अन्य औपचारिकताएं पूरी नहीं होने के कारण उनका नामांकन रद्द कर दिया गया।

कौन हैं जफर इस्लाम?
सैय्यद जफर इस्लाम भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं और पार्टी हाईकमान ने उन्हें राज्यसभा उप चुनाव में प्रत्याशी बनाया है। मध्य प्रदेश में ज्यतिरादित्य सिंधिया को भाजपा में शामिल कराने में उनकी बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका रही। उन्होंने बड़ी सफाई के साथ एमपी में ‘ऑपरेशन लोट्स’ को कामयाब करवाया। इसी ईनाम के तौर पर उन्हें राज्यसभा उम्मीदवार बनाया गया है।

Bihar, Jharkhand Coronavirus LIVE Updates

राजनीति में आने से पहले इस्लाम एक विदेशी बैंक के लिए काम करते थे। करीब सात साल पहले वो नरेंद्र मोदी से प्रभावित होकर भाजपा में शामिल हुए। बाद में उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया गया। बताया जाता कि उनके पीएम मोदी से भी अच्छे संबंध हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि उनका नामांकन वापस नहीं होगा। दूसरी तरफ गोविंद नारायण शुक्ला भाजपा के पुराने कार्यकर्ता हैं और मौजूदा समय में प्रदेश में पार्टी के संगठन महामंत्री हैं।

उल्लेखनीय है कि जफर इस्लाम अस्वस्थता के चलते अपना नामांकन दाखिल करने निर्वा​चन अधिकारी के दफ्तर खुद नहीं पहुंच सके थे। यूपी भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की मौजूदगी में संसदीय कार्यमंत्री सुरेश खन्ना ने जफर इस्लाम का पर्चा दाखिल किया था। उनका नामांकन खारिज ना हो जाए इसलिए बीते मंगलवार को गोविंद नारायण शुक्ला ने भी नामांकन पत्र दाखिल किया था। अब दोनों का नामांकन सही पाया है पाए जाने पर माना जा रहा है कि शुक्ला अपना नामांकन वापस ले लेंगे।

Next Stories
1 UNSC में फिर पाकिस्तान की करारी हार, दो भारतीयों को आतंकी घोषित करने के मंसूबों पर फिरा पानी
2 चीन युद्ध के बाद पहली बार संसद सत्र में नहीं पूछे जाएंगे सवाल, जानिए प्रश्नकाल से जुड़े सवालों के जवाब
ये पढ़ा क्या?
X