ताज़ा खबर
 

वर्ल्ड के टॉप-10 हैरीटेज होटल्स की सूची में शामिल हुआ जयपुर का रामबाग पैलेस, जानिए इस ऐतिहासिक महल के बारे में

एक ब्रिटिश पत्रिका द्वारा जयपुर के ताज रामबाग पैलेस होटल को विश्व की शीर्ष 10 विरासत होटल में शामिल किया है।
ताज रामबाग पैलेस होटल

एक ब्रिटिश पत्रिका द्वारा जयपुर के ताज रामबाग पैलेस होटल को विश्व की शीर्ष 10 विरासत होटल में शामिल किया है। यह घोषणा पर्यटन प्रकाशन ट्रैवल वीकली ने बुधवार को की। इस वैश्विक सूची में रामबाग पैलेस को छठे नंबर पर रखा गया और देश का कोई अन्य विरासत होटल इस सूची में जगह नहीं बना पाया है। पत्रिका ने जानी-मानी पर्यटन कंपनी कॉक्स एंड किंग्स के हवाले से बताया कि 19वीं सदी का यह होटल धनाढ्य पर्यटकों में सबसे लोकप्रिय है और सबसे ज्यादा बिक्री होती है। यह मूल रूप से जयपुर के महाराजा का हंटिंग लॉज था, जिसे साल 1957 में होटल में बदला गया था। पत्रिका ने होटल के बारे में कहा, “अब महल में 78 पुनस्र्थापित कमरे और सुइट्स हैं। इसमें नक्काशीदार संगमरमर के जाले है, बलुआ पत्थर की जालियां है जिसकी हाथ से नक्काशी की गई है। होटल की आंतरिक सजावट विस्तृत है। होटल के महाप्रबंधक मनीष गुप्ता ने बताया कि रैंकिंग ने केवल शीर्ष श्रेणी के लक्जरी और सेवाओं को प्रदान करने की उनकी प्रतिबद्धता को दोहराया है। उन्होंने कहा, “ग्राहक की खुशी हमेशा ताज समूह द्वारा प्रबंधित रामबाग पैलेस की विशेषता रही है।

आपको बता दें कि इस महल में पहला रूम सन् 1834 में “गार्डन हाउस” बनाया गया था जो कि राजकुमार राम सिंह 2 के लिए बनाया था। कई समय पश्चात यहां के महाराजा सवाई माधोसिंह ने 1887 में एक बड़ा “शाही शिकार कक्ष” नामक कक्ष बनाया था। 20वीं शताब्दी में रामबाग महल का “सैम्युल स्वींटन जैकब” ने कुछ डिज़ाईनें बनाकर विस्तार किया था।उसके पश्चात महाराजा सवाई मानसिंह २ ने इसको अपना राजकीय महल बना दिया था।भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति से पूर्व इसे अंग्रेजों ने राजकीय भवन बना दिया था। 1956में यह घोषणा की गई कि इसे एक लग्ज़री होटल बना दी जाये , कुछ समय पश्चात इसे होटल के नाम से जाना जाने लगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.