X

उम्र भर जेल में नहीं रहना चाहता नाबालिग से बलात्‍कार का दोषी आसाराम, लगाई दया याचिका

पीटीआई से जोधपुर केंद्रीय कारागार के अधीक्षक कैलास त्रिवेदी ने कहा, '' हमें आसाराम की दया याचिका मिली है। हमने इस दया याचिका पर जिला प्रशासन और पुलिस से रिपोर्ट मांगी है।'' रिपोर्ट के मिलने के बाद, जेल प्रशासन इसे राजस्थान के जेल महानिदेशक को भेज देगा।

स्वयंभू संत और कथावाचक आसाराम फिलहाल नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म के अपराध में जेल में बंद है। अब आसाराम ने राजस्थान के गवर्नर के पास उम्रकैद की सजा माफ करवाने के लिए दया याचिका डाली है। आसाराम को 25 अप्रैल को जोधपुर की अदालत ने उम्रकैद की सजा सुनाई थी। कोर्ट ने आसाराम को साल 2013 में अपने आश्रम में एक नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म का दोषी पाया था। फैसले को चुनौती देते हुए, आसाराम ने 2 जुलाई को हाई कोर्ट का रुख किया था। लेकिन उनकी याचिका की सुनवाई को सूचीबद्ध किए जाने पर अभी फैसला नहीं हुआ है।

जुलाई में आसाराम के वकील निशांत बोरा ने मीडिया को बताया था,”हमने आसाराम पर सुनाए गए जोधपुर कोर्ट के फैसले को हाई कोर्ट में चुनौती देने का फैसला किया है। हाई कोर्ट ने इस संबंध में ट्रायल कोर्ट के रिकॉर्ड मांगे हैं।” फिलहाल आसाराम की दया याचिका मिलने के बाद, गवर्नर ने याचिका को गृह विभाग को विस्तृत रिपोर्ट के लिए भेज दिया है।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, आसाराम ने गवर्नर को भेजी अपनी दया याचिका में उम्रकैद की सजा को माफ करने की मांग की है। आसाराम ने अपनी याचिका में इस सजा को उम्र के मुकाबले बेहद कठोर बताया है। विभाग ने इस याचिका को केंद्रीय कारागार, जोधपुर के प्रशासन को अग्रसारित किया है। जिसके बाद विभाग ​ने जिला प्रशासन और पुलिस से रिपोर्ट तलब की है।

पीटीआई से बातचीत करते हुए जोधपुर केंद्रीय कारागार के अधीक्षक कैलास त्रिवेदी ने कहा, ” हमें आसाराम की दया याचिका मिली है। हमने इस दया याचिका पर जिला प्रशासन और पुलिस से रिपोर्ट मांगी है।” रिपोर्ट के मिलने के बाद, जेल प्रशासन इसे राजस्थान के जेल महानिदेशक को भेज देगा। बता दें कि 16 साल की एक लड़की ने आसाराम के खिलाफ शिकायत की थी। शिकायत में ये कहा गया था कि आसाराम ने जोधपुर के मनाई में बने अपने आश्रम में बुलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया था। ये वाकया 15 अगस्त 2013 की रात को हुआ था। पीड़िता बच्ची, उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर की रहने वाली थी। वह मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में आसाराम के आश्रम में रहकर पढ़ा करती थी।

  • Tags: Asaram Bapu, Rajasthan News,
  • Outbrain
    Show comments