ताज़ा खबर
 

अनुसूचित जाति पर आपत्तिजनक टिप्पणी: सलमान के खिलाफ राजस्थान में प्रदर्शन, आयोग ने थमाया नोटिस

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने सभी पक्षों से अनुसूचित जाति और जनजाति अत्याचार रोकथाम कानून 2015 के तहत एक्शन टेकेन रिपोर्ट मांगा है।

सलमान खान।

राजस्थान की राजधानी जयपुर में प्रदर्शनकारियों ने एक सिनेमा हॉल के बाहर लगे ‘टाइगर जिंदा है’ फिल्म के पोस्टर फाड़कर उसे आग के हवाले कर दिया। प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि अभिनेता सलमान खान ने एक टीवी शो में अनुसूचित जाति समुदाय के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की है। इसके मद्देनजर राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने भी सूचना एवं प्रसार मंत्रालय, दिल्ली पुलिस और मुंबई पुलिस के कमिश्नर से सात दिनों के अंदर जवाब मांगा है।बता दें कि इस मामले में बॉलीवुड एक्टर सलमान खान और अभिनेत्री शिल्पा शेट्ठी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है।

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने सभी पक्षों से अनुसूचित जाति और जनजाति अत्याचार रोकथाम कानून 2015 के तहत एक्शन टेकेन रिपोर्ट मांगा है। दिल्ली सफाई कर्मचारी आयोग के पूर्व अध्यक्ष हरनाम सिंह द्वारा लिखित शिकायत मिलने के बाद यह नोटिस जारी किया है। हरनाम सिंह ने अपनी शिकायत में कहा है कि टीवी शो में बॉलीवुड एक्टर और एक्ट्रेस ने भंगी शब्द का इस्तेमाल किया है जो पूरी दुनिया में फैली वाल्मीकि समाज का अपमान है।

बता दें कि जब सलमान खान एक टीवी शो में अपनी नई फिल्म ‘टाइगर जिंदा है’ का प्रोमोशन करने आए थे तब उन्होंने अपने नृत्यकला के बारे में बोलते हुए इस शब्द का इस्तेमाल किया था। इसके बाद शिल्पा शेट्ठी ने भी उसे दोहराया था।

इसबीच, शुक्रवार (22 दिसंबर) को सलमान खान और कैटरीना कैफ की फिल्म टाइगर जिंदा है रिलीज हो गई है। अली अब्बास जफर के निर्देशन में बनी यह फिल्म दर्शकों के लिए मसाला एंटरटेनर वाली कहानी से भरपूर है। फिल्म में एक बार फिर से भारतीय रॉ एजेंट और पाकिस्तानी आईएसआई एजेंट साथ आए हैं। पिछली फिल्म ‘टाइगर’ में जहां दोनों प्यार के लिए लड़ते हुए दिखाई दिए थे। वहीं इस बार टाइगर और जोया आतंकियों के चंगुल में फंसी नर्सों को बचाने के मिशन पर निकले हैं।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App