ताज़ा खबर
 

राजस्थान: मुसलमानों के त्यौहार बारावफात पर कई जगह हिंसा

जश्ने ईद मिलादुन्नबी के अवसर पर निबांहेड़ा में निकाले जा रहे जुलूस के दौरान ही विवाद के बाद भीड़ हिंसक हो गई और उसने दूसरे समुदाय की कई दुकानों को निशाना बनाया। गुस्साई भीड़ ने एक दुकान और तीन बाइकों को आग के हवाले कर दिया।

Author जयपुर | December 3, 2017 4:10 AM
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

चित्तौड़गढ़ जिले के निंबाहेड़ा कस्बे, जोधपुर शहर और बिसाऊ कस्बे में मामूली विवाद के बाद दो गुटों में हिंसक झड़पें हुर्इं। निबांहेड़ा व बिसाऊ कस्बे में शनिवार को बारावफात के जुलूस के दौरान हिंसा भड़क गई। पुलिस ने हिंसक भीड़ पर लाठियां बरसा कर हालात पर काबू पाया। जोधपुर में बारावफात के जुलूस को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात करना पड़ा। उपद्रवियों ने दस से ज्यादा वाहनों को आग लगा दी और कई दुकानों में भी आगजनी की गई। भीलवाड़ा में भी तनाव के कारण इंटरनेट पर पाबंदी लगाई गई। पुलिस के मुताबिक जश्ने ईद मिलादुन्नबी के अवसर पर निबांहेड़ा में निकाले जा रहे जुलूस के दौरान ही विवाद के बाद भीड़ हिंसक हो गई और उसने दूसरे समुदाय की कई दुकानों को निशाना बनाया। गुस्साई भीड़ ने एक दुकान और तीन बाइकों को आग के हवाले कर दिया। इस दौरान भीड़ ने पुलिस पर भी भारी पथराव किया। हालात से निपटने के लिए आस पास के
थानों से पुलिस बल बुलाना पड़ा। इसके बाद पुलिस ने लाठियां बरसा कर भीड़ को तितर-बितर किया। हिंसक झड़पों में आधा दर्जन लोग जख्मी हो गए। पथराव में तीन पुलिसकर्मी भी घायल हो गए। उन्हें स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शहर के मोतीबाजार इलाके में दोनों पक्षों के बीच विवाद के चलते उपद्रव हुआ।

इसी तरह से झुंझनूं जिले के बिसाऊ कस्बे में भी धार्मिक जुलूस के दौरान भीड़ हिंसक हो गई और उसने कई दुकानों और वाहनों में आग लगा दी। बिसाऊ में भी पुलिस को लाठियां बरसा कर हालात काबू करना पड़ा। भीलवाड़ा शहर में भी शनिवार को तनाव व्याप्त रहा। प्रशासन ने उपद्रव की आशंका के चलते जिले में शनिवार को इंटरनेट सेवाओं पर पाबंदी लगा दी। इसके साथ ही भीलवाड़ा शहर समेत जिले के कई कस्बों में शनिवार को धारा 144 लागू कर जुलूस निकलवाया गया। राज्य पुलिस मुख्यालय ने शनिवार को सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों को सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किए थे। इसके बावजूद कई शहरों में तोड़फोड़ व आगजनी की घटनाएं हो गई। इससे पहले शुक्रवार देर रात जोधपुर शहर में भी उपद्रव हो गया था। जोधपुर में ईद मिलादुन्नबी के त्योहार से पहले हुए दो पक्षों पैदा हुए तनाव के बाद प्रशासन सतर्क था। जोधपुर पुलिस कमिश्नर अशोक राठौड़ ने बताया कि शनिवार को हालात काबू में रहे। धार्मिक जुलूस के दौरान अतिरिक्त पुलिस बल तैनात रहा। राठौड़ ने बताया कि पुलिस ने 15 उपद्रवियों को हिरासत में लिया है। पुलिस के अनुसार बच्चे से मारपीट की घटना ने तूल पकड़ लिया था। इसमें बड़े भी शामिल हो गए और तोड़फोड़ व आगजनी पर उतर आए। व्यापारियों के मोहल्ले और सुभाष चौक के इलाके में उपद्रव फैला। तनाव के कारण इन इलाकों में शनिवार को भी बाजार पूरी तरह से बंद रहे। उपद्रवियों के पथराव में पांच पुलिस क र्मियों को चोटें आई।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App