ताज़ा खबर
 

Pulwama Attack: डीएम का ऑर्डर- सारे पाकिस्‍तानी खाली करें हमारा जिला, भारतीय न रखे कोई नाता

Pulwama Attack: पुलवामा हमले के बाद बीकानेर के डीएम ने एक आदेश जारी कर पाकिस्तानी नागरिकों को 48 घंटे के भीतर जिला छोड़ देने का आदेश दिया है।

Author February 20, 2019 2:52 PM
Pulwama Attack: पुलवामा हमले के बाद विरोध प्रदर्शन करते लोग फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

Pulwama Terror Attack: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के मद्देनजर बीकानेर में मौजूद सभी पाकिस्तानी नागरिकों को 48 घंटे के भीतर जिला छोड़कर जाने के आदेश दिए गए हैं। बीकानेर के डीएम कुमारपाल गौतम ने सोमवार को सीआरपीसी की धारा 144 के तहत आदेश जारी किया कि बीकानेर राजस्व सीमा में रह रहे पाकिस्तानी नागरिक 48 घंटे के भीतर जिला छोड़कर चले जाएं। आदेश में कहा गया है कि बीकानेर पाकिस्तान की सीमा के निकट है। इस कारण पाकिस्तानी नागरिकों के यहां रहने, घूमने एवं ठहरने से आंतरिक सुरक्षा को गंभीर खतरा पैदा हो सकता है जिसके मद्देनजर ये कदम उठाया गया है। इसके साथ ही डीएम ने बीकानेर की सीमा क्षेत्र में बने होटलों को भी आदेश दिया है कि वे अपने यहां पाकिस्तानी नागरिकों को पनाह न दें।

बीकानेर के डीएम कुमारपाल गौतम ने कहा कि पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले से आम लोगों में पाकिस्तान के खिलाफ आक्रोश के चलते यह आदेश दिया गया है। डीएम ने बीकानेर की सीमा क्षेत्र में बने होटलों में पाकिस्तानी नागरिकों को पनाह देने पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। यह आदेश दो महीने के लिए लागू किया गया है। आदेश के अनुसार बीकानेर की राजस्व सीमा में स्थित किसी भी धर्मशाला, होटल एवं अस्पताल इत्यादि में पाकिस्तानी नागरिकों के रहने एवं ठहरने पर भी प्रतिबंध लगाया गया है।

Pulwama Terror Attack: यहां देखे लाइव अपडेट्स

आदेश में कहा गया है कि बीकानेर जिले में रहने वाले भारतीय नागरिक, पाकिस्तान के नागरिकों से प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से व्यापारिक संबंध नहीं रखेगें या पाकिस्तानी नागरिकों को किसी भी प्रकार का रोजगार नहीं देंगे। इसके साथ ही पाकिस्तान से प्राप्त हो रही ‘स्पूफ कॉल’ के मद्देनजर कोई भी नागरिक किसी भी दूरसंचार माध्यम से किसी भी प्रकार की सैन्य या संवेदनशील जानकारी का अनजान व्यक्तियों से आदान-प्रदान नहीं करेगा।

क्या है स्पूफ कॉलः स्पूफ कॉल वह फोन कॉल होती है जिसमें फोन उठाने वाले व्यक्ति को फोन करने वाले व्यक्ति के असली नंबर के बजाए कोई और नंबर दिखाई देता है। आदेश में कहा गया है कि यदि किसी भी पाकिस्तानी नागरिक को इस आदेश से कोई आपत्ति है तो वह डीएम के सामने उपस्थित होकर अपना पक्ष रख सकता है। साथ ही कहा गया कि जिन पाकिस्तानी नागरिकों का विदेशी नागरिक पंजीयन अधिकारी (एफआरओ) के पास रजिस्ट्रेशन है, उन पर यह आदेश लागू नहीं होगा। जिला मजिस्ट्रेट के आदेश तत्काल प्रभाव से सोमवार से लागू हो गए। आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति पर कार्रवाई की जाएगी। (एजेंसी इनपुट के साथ) 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App