ताज़ा खबर
 

मुस्लिम मजदूर को मार और जला कर वीडियो वायरल कराने वाले शंभू के लिए 516 लोगों ने दिए तीन लाख रुपए

इस अकाउंट में जमा कराया गया ज्यादातर पैसा इंटरनेट बैंकिंग के जरिए कराया गया है।

Author राजसमंद | December 14, 2017 13:48 pm
आरोपी शंभू लाल रेगर, (इंसेट) मुस्लिम मजदूर अफराजुल।

दीप मुखर्जी

पश्चिम बंगाल के एक मुस्लिम मजदूर की राजस्थान के राजसमंद में हत्या कर उसे जिंदा जलाने वाले शंभू लाल रेगर के नाम पर 516 लोगों ने करीब 3 लाख रुपए दान दिया है। पुलिस ने इस मामले में एक बैंक अकाउंट को जब्त किया है जो कि शंभू लाल की पत्नी सीता के नाम पर बताया जा रहा है। आरोपी फिलहाल पुलिस न्यायिक हिरासत में हैं। इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान पुलिस अधिकारियों ने बताया कि देशभर से 516 लोगों ने रेगर की पत्नी सीता के नाम से बने अकाउंट में 3 लाख रुपए जमा कराए हैं। इसके साथ ही पुलिस ने दो बिजनेसमैन को भी गिरफ्तार किया है जिनपर आरोप है कि वे दान की गई राशी की पर्ची की फोटो को सोशल मीडिया के जरिए फैला रहे थे।

पुलिस ने यह कार्यवाही सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे एक मैसेज के बाद की, जिसमें एक बैंक की डिटेल दी गईं थी जिसके जरिए रेगर के परिवार को आर्थिक मदद पहुंचाने की अपील की जा रही थी। उदयपुर रैंज के आईजी आनंद श्रीवास्तव ने कहा “हमने एक अकाउंट जब्त किया है जिसमें रेगर के नाम पर राशी इकट्ठा की जा रही थी। अकाउंट जब्त करने से पहले इसमें अलग-अलग लोगों द्वारा करीब 3 लाख रुपए जमा कराए गए हैं। फिलहाल हम उन सभी लोगों की जांच कर रहे हैं जिन्होंने इस अकाउंट में पैसे जमा कराए हैं और साथ ही यह भी पता लगाया जा रहा है कि कहीं आरोपी के साथ उनका कोई संबंध तो नहीं है।”


राजसमंद के सर्किल ऑफिसर राजेंद्र सिंह राव ने बताया कि ऐसा एक राज्य नहीं है जहां से इस अकाउंट में पैसा न जमा कराया गया हो। इस अकाउंट में जमा कराया गया ज्यादातर पैसा इंटरनेट बैंकिंग के जरिए कराया गया है। वहीं दूसरी तरफ पुलिस ने उदयपुर जिला के पड़ोसी राज्यों में धारा 144 लगा दी है और इंटरनेट सर्विस को सस्पेंड कर दिया गया है। पुलिस ने ऐसा इसलिए किया है क्योंकि उन्हें जानकारी मिली है कि कुछ हिंदुत्व संगठन गुरुवार को आरोपी शंभू लाल रेगर के समर्थन में उतरकर एक रैली का आयोजन कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App