ताज़ा खबर
 

राजस्थान: हिन्दू युवती से प्यार करने वाले मुस्लिम युवक की पीट-पीटकर हत्या, लड़की के परिवार पर आरोप

सैफ अली के एक दोस्त ने बताया कि वह अपने मां-बाप का एक मात्र औलाद था और परिवार की कमाई का भी एकमात्र स्रोत था। सैफ के दोस्त का दावा है कि लड़की सैफ से शादी करना चाहती थी, लेकिन अली अपने धर्म की वजह से शादी करने से हिचकिचा रहा था।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः freepik)

राजस्थान के बीकानेर में एक मुस्लिम युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सैफ अली (22) नाम का ये शख्स एक हिन्दू लड़की के प्यार करता था। लड़की के परिवार वाले इस रिश्ते के सख्त खिलाफ थे। पुलिस के मुताबिक ये घटना मंगलवार (1 मई) के देर रात की है। पुलिस ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा है कि लड़के पर हमला इस वजह से हुआ क्योंकि वह हिन्दू लड़की से रिलेशनशिप में था। रिपोर्ट के मुताबिक सैफ अली एक फल मंडी में काम किया करता था। मंगलवार को ये युवक रात 9 बजे लड़की से मिलने रामपुरा बस्ती में गया हुआ था। बीकानेर के एसपी सवाई सिंह गोदारा ने हिन्दुस्तान टाइम्स को बताया कि लड़की के परिवार वाले लड़के को पीटने की योजना बना चुके थे। पुलिस के मुताबिक लड़की के परिवार वाले सैफ अली को एक कार में करनी औद्योगिक क्षेत्र में ले गये। ये इलाका शहर के बाहर आता है। पुलिस के मुताबिक यहां पर लड़की के परिवार वालों ने सैफ को खूब पीटा और उसके दोनों पैर तोड़ दिये। इसके बाद उसे एक गंदे पानी के तालाब में फेंककर फरार हो गये।

एक चश्मीदद ने इस घटना की सूचना पुलिस को दी। पुलिस की टीम घटनास्थल पर पहुंची और बुरी तरह घायल सैफ को अस्पताल ले गयी। डॉक्टरों के मुताबिक सैफ की टांगें बेहद खराब हालत में थी। डॉक्टरों ने उसका इलाज किया, लेकिन सुबह साढ़े तीन बजे उसकी मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक मौत की सही वजह पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगी। पुलिस ने इस मामले में बंटी, लड़की के चचेरे भाई, शिवा माली, राजा सोनार, गोपाल खाटी, बबलू माली और दो अन्य लोगों के खिलाफ हत्या, हत्या के लिए अपहरण, गलत तरीके से रोकना समेत आईपीसी की कई धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने अब तक बंटी, विजय सिंह और विजेन्द्र नाम के तीन आरोपियों को हिरासत में ले लिया है।

बुधवार को कड़ी सुरक्षा के बीच लड़के शव को दफना दिया गया। सैफ अली के एक दोस्त ने बताया कि वह अपने मां-बाप का एक मात्र औलाद था और परिवार की कमाई का भी एकमात्र स्रोत था। सैफ के दोस्त का दावा है कि लड़की सैफ से शादी करना चाहती थी, लेकिन अली अपने धर्म की वजह से शादी करने से हिचकिचा रहा था। बता दें कि राजस्थान पिछले कुछ महीनों से साम्प्रदायिक घटनाओं की चपेट में रहा है। इससे पहले राजसमंद में शंभूलाल रेगर नाम के एक शख्स ने पश्चिम बंगाल के एक मजदूर मोहम्मद अफराजूल को बेरहमी से मार दिया था। पिछले साल ही गौतस्करी के शक में कुछ लोगों ने पहलू खान नाम के शख्स की हत्या कर दी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App