ताज़ा खबर
 

फिर कातिल बनी भीड़: अलवर में गाय तस्करी के शक में पीट कर मार डाला

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अलवर के रामगढ़ में मृतक दो गायों को लेकर जा रहा था। किसी तरह स्थानीय लोगों को इसकी खबर लग गई। इसके बाद वहां भीड़ इकट्ठा हो गई। लोगों ने अकबर पर हमला कर दिया, और उसे पीटने लगे। इस घटना में उसकी मौत हो गई है।

घटनास्थल पर पहुंची पुलिस खोजी कुत्तों की मदद से सुराग इकट्ठा कर रही है।

राजस्थान के अलवर में गो तस्करी के शक में एक शख्स की पीट पीटकर हत्या कर दी गई है। ये घटना अलवर के रामगढ़ की है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक शुक्रवार (20 जुलाई) रात को भीड़ ने अकबर नाम के शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी। पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई है और केस की जांच कर रही है। सुराग जमा करने के लिए पुलिस खोजी कुत्तों का सहारा ले रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अलवर के रामगढ़ के लल्लावंडी गांव में मृतक दो गायों को लेकर जा रहा था। किसी तरह स्थानीय लोगों को इसकी खबर लग गई। इसके बाद वहां भीड़ इकट्ठा हो गई। लोगों ने अकबर पर हमला कर दिया, और उसे पीटने लगे। इस घटना में उसकी मौत हो गई है। पुलिस ने इस केस में अबतक किसी को गिरफ्तार नहीं किया है। रिपोर्ट के मुताबिक मृतक हरियाणा के कोलगांव का रहने वाला था।एएनआई के मुताबिक अलवर के एएसपी अनिल बेनिवाल ने कहा है कि अभी तक ये स्पष्ट नहीं हो पाया है कि वे गाय स्मगलर थे या नहीं। पुलिस का कहना है कि वे आरोपियों की पहचान की कोशिश कर रहे हैं, और इस मामले में तुरंत गिरफ्तारी की जाएगी।

अलवर की इस घटना पर AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने भी प्रतिक्रिया दी है। ओवैसी ने ट्वीट कर अपना गुस्सा निकाला। उन्होंने लिखा, “धारा-21 के तहत भारत में गायों को जीने का मौलिक अधिकार है, और एक मुस्लिम की हत्या की जा सकती है क्योंकि उन्हें जीने का मौलिक अधिकार नहीं है। मोदी शासन के चार साल- लिंच राज।”

बता दें कि साल 2017 में अलवर में ही पहलू खान नाम के शख्स की गो तस्करी के आरोप में कुछ लोगों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इस घटना पर देश भर में जबर्दस्त प्रतिक्रिया हुई थी। हरियाणा का रहने वाला पहलू खान राजस्थान से गायें खरीद कर ला रहा था। इस दौरान भीड़ ने उसे पशु तस्कर समझकर उस पर हमला कर दिया था। बाद में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App