ताज़ा खबर
 

राजस्‍थान: 7 साल की बच्‍ची का रेप के बाद घोंटा गला, खेत में फेंकी लाश

बीते पांच महीनों में झालावाड़ क्षेत्र में बलात्कार की दूसरी घटना है। इससे पहले फरवरी में, एक छह साल की बच्ची इसी तरह अपने घर के बाहर खेलते वक्त गायब हो गई थी। उसे भी बलात्कार के बाद मार डाला गया था। उसकी लाश खेतों से बरामद की गई थी।

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo credit- Indian express)

राजस्थान में सात साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी गई। उसका शरीर पिछली शाम को घर के पास खेत से बरामद किया गया। ये घटना राजधानी जयपुर से 340 किमी दूर झालावाड़ की है। पुलिस ने बताया कि लड़की शुक्रवार को घर के बाहर खेलते वक्त गायब हो गई थी। जब वह घर नहीं लौटी तो उसके माता-पिता ने अगली सुबह पुलिस से संपर्क किया और शिकायत दर्ज करवाई। खोजबीन के बाद शनिवार की शाम पुलिस ने उसकी लाश उसके घर से कोई 200 मीटर दूर बरामद की। रात में ही उसका शरीब एंबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया। इस मामले की जांच के लिए विशेष जांच दल गठित किया गया है।

झालावाड़ के एसपी आनंद शर्मा ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया, ”इस मामले में बच्ची के शव का पोस्टमार्टम करवाया गया है। ये बात तय है कि पहले उसके साथ दुष्कर्म हुआ ​और फिर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी गई। हमने फरेंसिक टीम, एक साइबर एक्सपर्ट और कोटा से डॉग स्क्वॉड को बुलाया है। हम इस मामले में जल्द से जल्द सुलझाकर अपराधी को गिरफ्तार करेंगे। इस मामले की जांच के लिए विशेष जांच दल गठित किया गया है।”

लड़की के परिजनों ने पोस्टमार्टम के बाद उसका अंतिम संस्कार कर दिया। लड़की के पिता ने कहा,”उसने शाम के छह बजे रोटी खाई थी और घर के बाहर खेलने के लिए चली गई। मेरी बड़ी बेटी घर के अंदर आ गई थी। बाद में जब वह बाहर गई तो उसे ढूंढ नहीं पाई।” वैसे बता दें कि ये बीते पांच महीनों में झालावाड़ क्षेत्र में बलात्कार की दूसरी घटना है। इससे पहले फरवरी में, एक छह साल की बच्ची इसी तरह अपने घर के बाहर खेलते वक्त गायब हो गई थी। उसे भी बलात्कार के बाद मार डाला गया था। उसकी लाश खेतों से बरामद की गई थी। पिछले हफ्ते झालावाड़ जिले में ही 65 साल के बुजुर्ग ने, जो कि रेलवे का रिटायर्ड कर्मचारी भी है, कथित तौर पर एक किशोरी के साथ छेड़खानी की थी।

झालावाड़ में रेप और हत्या की इस घटना ने प्रदेश का सियासी तापमान बढ़ा दिया है। इस घटना के लिए राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष सचिन पायलट ने वसुंधरा राजे सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा,” सीएम वसुंधरा राजे के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार कानून-व्यवस्था के मोर्चे पर पूरी तरह से विफल रही है। दुष्कर्म के मामलों में बढ़ोत्तरी का कारण सरकार की अनदेखी है। खराब कानून—व्यवस्था की स्थिति के कारण राज्य में अपराधी फल-फूल रहे हैं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App