scorecardresearch

मुस्लिम मजदूर को मारकर जलाने वाले के पक्ष में सड़कों पर उतरे लोग, पथराव के बाद लाठीचार्ज, 80 गिरफ्तार

भगवाधारी दक्षिणपंथी गुटों के कार्यकर्ताओं को भवनों की छतों पर चढ़कर नारेबाजी व पत्थरबाजी करते देखा गया।

Shambhu Lal, Rajasamand, Mohammad Afrajul, West Bengal, Udaipur, jaipur, Indian muslims, Rajasthan, hate crime, Hindi news, News in Hindi, Jansatta
सोशल मीडिया में शंभूलाल रेगर के समर्थन में लिखे जा रहे पोस्ट। इस ग्रुप का नाम है “स्वच्छ राजसमंद स्वच्छ भारत” जिसे प्रेम माली द्वारा बनाया गया है।
राजस्थान के राजसमंद में मुस्लिम मजदूर की हत्या के बाद से ही तनाव फैला है। कई संगठन आरोपी शंभूलाल के समर्थन में गोलबंद कर रहे हैं और उसके लिए चंदा इकट्ठा कर रहे हैं। प्रशासन ने उदयपुर और राजसमंद में लोगों के समूह में इक्ट्ठा होने पर रोक लगा दी है। यहां पर धारा 144 लगी हुई है। बावजूद इसके लोग बड़ी संख्या में जमा हो गये। भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने इन पर लाठी चार्ज किया। इसके जवाब में भीड़ ने पत्थरबाजी की। प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि अब तक 175 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है, जिनमें ज्यादातर दक्षिणपंथी हिंदू गुटों के कार्यकर्ता हैं। साथ ही, रैली निकालकर व नारेबाजी कर आदेशों का उल्लंघन करने के लिए कई लोगों को हिरासत में लिया गया है। दोनों शहरों में शुक्रवार को इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई थी। हालांकि स्कूल व कॉलेज खुले हुए थे। एक समुदाय विशेष का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने की घटना के विरोध में हिंदू संगठनों की ओर से रैलियां निकालने की घोषणा करने के बाद उदयपुर और राजसमंद में धारा 144 लागू की गई थी। किसी प्रकार की अप्रिय घटना से बचने के लिए दोनों शहरों में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई थीं।

निषेधात्मक कदम उठाए जाने के बावजूद गुरुवार को हिंसक प्रदर्शनकारियों ने ‘लव जेहाद’ के नाम पर हत्या के आरोपी शंभूलाल रैगर के पक्ष में सड़कों पर वाहनों की रैलियां निकालीं और नारे लगाए। रैगर पर पश्चिम बंगाल के एक मुसलमान मजदूर की इस महीने के आरंभ में हत्या करने का आरोप है। भगवाधारी दक्षिणपंथी गुटों के कार्यकर्ताओं को भवनों की छतों पर चढ़कर नारेबाजी व पत्थरबाजी करते देखा गया। पुलिस की ओर से स्थिति पर नियंत्रण करने के लिए लाठी चार्ज किया गया। इसके बाद पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच तनाव बढ़ गया और प्रदर्शकारियों ने पुलिस की टीम पर हमला कर दिया, जिसमें एएसपी सुधीर चौधरी और 12 अन्य पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। कई प्रदर्शनकारियों को भी चोटें आईं। पुलिस ने क्रोधित भीड़ को तीतर-बितर करने के लिए हवा में गोलियां भी चलाईं।

जिलाधीश विशु मलिक ने बताया कि शुक्रवार को आठ बजे रात तक इंटरनेट सेवा बंद रहेगी। उन्होंने बताया कि किसी भी प्रकार की अशांति को रोकने के लिए दोनों जिलों में पर्याप्त पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पुलिस ने गुरुवार को दक्षिणपंथी गुट के कार्यकर्ता ठाकुर उपदेश राणा को जयपुर सीमा पर बागरु से गिरफ्तार किया। उन्होंने ही उदयपुर में रैगर के समर्थन में रैली बुलाई थी।

पढें जयपुर (Jaipur News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट