scorecardresearch

गौरव भाटिया जैसे लोग… केसरिया हमारे स्वाभिमान का प्रतीक- जोधपुर हिंसा पर गहलोत के मंत्री बोले, BJP नेता ने भी किया पलटवार

जयपुरः मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि ये लोग महंगाई और 15 लाख से ध्यान हटाने के लिए कर रही है। तेल लोगों की पहुंच से बाहर है तो लोगों के पास रोजगार तक नहीं है। बीजेपी मुद्दों से बचने को ऐसा कर रही है।

AAJTAK, TV Debate, Jodhpur violence, Gaurav bhatia, Congress Gehlot minister,
जोधपुर में लाठीचार्ज करती पुलिस। (एक्सप्रेस फोटो)

जोधपुर में ईद के दिन भड़की हिंसा के लिए कांग्रेस ने बीजेपी कोस जिम्मेदार ठहराया तो बीजेपी ने उसे मुस्लिमों की पार्टी ही करार दे दिया। बीजेपी का कहना था कि दंगों को नियंत्रित करने में गहलोत सरकार की नाकामी पूरे देश ने देखी है।

राजस्थान के मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि स्थिति अब भी नियंत्रण में है। हालात बिगड़ने के लिए बीजेपी दोषी है। उनका कहना था कि दंगे को रोकना सबकी जिम्मेदारी है। वहां के हिंदू मुस्लिम एक हो चुके हैं। दंगे की पटकथा रात में ही लिख दी गई थी। उन्होंने बीजेपी पर आरोप जड़ते हुए कहा कि ये लोग महंगाई और 15 लाख से ध्यान हटाने के लिए कर रही है। तेल लोगों की पहुंच से बाहर है तो लोगों के पास रोजगार तक नहीं है। बीजेपी मुद्दों से बचने को ऐसा कर रही है।

आजतक पर डिबेट के दौरान खाचरियावास बीजेपी प्रवक्ता से उलझते भी दिखे। वो बोले कि कमरे में बैठकर राजनीति में करते हो शर्म नहीं आती। गौरव भाटिया ने एंकर से उन्हें चुप कराने को कहा। वो बोले कि इनका भोपू बंद कराएं। एंकर चित्रा त्रिपाठी ने भी मंत्री को शांति बनाए रखने को कहा। लेकिन उसके बाद भी तीखी झड़प होती रही। गहलोत के मंत्री ने पलटवार कर भाटिया को ही भोपू करार दिया। उन्होंने बीजेपी को झूठा तक कहा।

गौरव भाटिया ने कहा कि राहुल गांधी ने जब कहा था कि कांग्रेस मुस्लिम पार्टी है तो सारे देश के लोगों को चोट पहुंची थी। उनका सवाल था कि क्या हम मुस्लिमों की पार्टी को वोट देते हैं। रमजान के दौरान गहलोत सरकार मुस्लिम इलाकों की बिजली तक गुल नहीं होने देती। जबकि हिंदुओं के पर्व पर ऐसा नहीं करती। गहलोत सरकार दंगों के समय क्या कर रही थी।

राजस्थान के जोधपुर में ईद से पहले दो समुदायों के बीच धार्मिक झंडा हटाने को लेकर झड़प हो गई थी। सोमवार देर रात शहर के जालोरी गेट के पास दो समुदायों के लोगों के बीच मारपीट हुई। उसके बाद मंगलवार सुबह नमाज के बाद एक बार फिर हंगामा हुआ। प्रतिमा से धार्मिक झंडा हटाने की कोशिश पर हंगामा हुआ।

पढें जयपुर (Jaipur News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.