ताज़ा खबर
 

राजस्‍थान: ‘लव जिहाद’ के खिलाफ पोस्‍टर्स में करीना कपूर खान की फोटो, बुकलेट में लिखा- लड़की पर नजर रखो, मुस्लिमों को गद्दार बताओ

बुकलेट में हिंदू महिलाओं को मुस्लिमों से सावधान रहने, मुस्लिमों को गद्दार बताने, उन्हें राष्ट्र विरोधी कहने के साथ पाकिस्तानी कहने की अपील की गई है।

तस्वीर तेजी से सोशल मीडिया में वायरल हो रही है। (ट्विटर फोटो)

राजधानी जयपुर में चल रहे आध्यात्मिक मेले में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और बजरंग दल के सदस्यों द्वारा कथित तौर पर विवादित ‘लव जिहाद’ की बुकलेट बेचने का मामला सामने आया है। गुरुवार (16 नवंबर) से शुरू हुए इस मेले में जो बुकेलट बेची जा रही हैं उनमें हिंदू महिलाओं को मुस्लिमों से सावधान रहने, मुस्लिमों को गद्दार बताने, उन्हें राष्ट्र विरोधी कहने के साथ पाकिस्तानी कहने की अपील की गई है। बुकेलट का नाम ‘जिहाद और लव जिहाद.. हिंदू लड़कियां सावधान रहें’ है। बुकेलट पांच रुपए से बिना शुल्क के भी दी जा रही है। इसके मुख्य पृष्ठ पर करीना कपूर खान की पूरी तस्वीर छपी है। इसमें उनका आधा चेहरा नकाब से ढका है। किताब में बॉलीवुड स्टार आमिर खान और शाहरुख खान का उदाहरण देकर लव जिहाद से बचने की अपील की गई है।

किताब में लिखा गया है, ‘हिंदू घरों में मुस्लिम लड़कों का आना, अलग कमरों में बैठ कर लड़की से गप्पे लगाना, अपने को हिंदू बताना, लाल कलावा हाथ में बांधना। माताजी-पिताजी कहकर सम्मानित करना, भाग-भागकर उनके घरों के काम हुए मां-बाप के दिल में श्रेष्ठता निर्माण करना। फिर आराम से घर आना-जाना। लड़की के साथ एकान्त में बैठना, प्यार मोहब्बत की बातें करते-करते वह उसी लड़के से विवाह करेगी इस जिद्द पर उतर आती है। मां-बाप तैयार नहीं हुए तो लड़कियां धर से भाग कर इस्लामिक रीति रिवाज से शादी कर मुस्लिम बन जाती है।’

बुकलेट में आगे लिखा गया है, ‘इस्लाम में दूसरों को मुस्लिम बनाना ये मजहब की सेवा है। लव-जिहाद का एक सशक्त हथियार है, यह तरीका मुगलों में एक हजार सालों से चला रखा है। इसके उदाहरण  सैफ अली खान, आमिर खान हैं जिन्होंने अपनी हिंदू पत्नियों को छोड़कर दूसरी हिंदू पत्नियों को फंसा लिया।’

बुकलेट में लव जिहाद की पीड़ित को विहिप वर्करों से सम्पर्क करने की भी अपील की गई है। लिखा गया है कि लव जिहाद का भूत उतारने के लिए तांत्रिक का भी इंतजाम किया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App