ताज़ा खबर
 

RSS नेता इंद्रेश कुमार का विवादित बयान, कहा – वैलेंटाइन डे की वजह से होता है बलात्कार

कुमार ने कहा कि केवल भारत ही नहीं इस प्रकार की परेशानी आज के समय में दुनिया के कई देश झेल रहे हैं।

वैलेंटाइन डे भारत में व्यावसाय बन गया है जिसे देश में त्योहार का दर्जा दे दिया गया है। (Photo Source: PTI)

राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ के नेता इंद्रेश कुमार ने एक विवादित बयान दे दिया है। कुमार का कहना है कि देश में प्रेमियों का त्योहार वैलेंटाइन डे की वजह से बलात्कार जैसे घटनाएं होती हैं। उनका कहना है कि बच्चों के साथ जो अवैध संबंध बनाए जाते हैं और महिलाओं के प्रति हिंसा केवल वैलेंटाइन डे की वजह से होती है। कुमार ने यह बात शुक्रवार को जयपुर में स्वंयसेवकों को उनकी ट्रेनिंग प्रोग्राम के खत्म होने के अवसर पर कही। भारत में प्यार को पवित्रता का दर्जा दिया गया है लेकिन पश्चिमी देशों की सभ्यता भारतीय लोगों ने अपना ली है। वैलेंटाइन डे भारत में व्यावसाय बन गया है जिसे देश में त्योहार का दर्जा दे दिया गया है।

भगवान कृष्ण-राधा, प्रेमी लैला-मजनू और हीर-रांझा के प्यार के बारे में बताते हुए कुमार ने कहा कि भारत में इन सभी के प्यार की गाथा गाई जाती हैं लेकिन पश्चिमी देशों की देन वैलेंटाइन डे का देश में चलन चल गया है जिसके कारण रेप और अन्य घटनाएं महिलाओं के साथ घटित होती हैं। कुमार ने कहा कि केवल भारत ही नहीं इस प्रकार की परेशानी आज के समय में दुनिया के कई देश झेल रहे हैं। कुमार ने कहा कि संघ के सदस्य बनने से पहले लोगों को ट्रेनिंग देकर बेहतर इंसान बनाया जाता है और उन्हें नैतिकता सिखाई जाती है। इस प्रोग्राम के जरिए इंसान की आत्मा को पवित्र किया जाता है जिससे कि समाज और देश का विकास हो सके।

इसके बाद कुमार ने कहा कि आरएसएस छुआछूत और जाति जैसी चीजों के बिलकुल खिलाफ है इसलिए हम चाहते हैं कि सब शपथ लें कि समाज से इस प्रकार की बुराइयों को मिटाने के लिए अपना योगदान देंगे। इतना ही नहीं कुमार ने उन लोगों की निंदा भी की जो कश्मीर में पत्थरबाजों के लिए मानवाधिकार की बात करते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे जवानों को कश्मीर घाटी में वे निशाना बना रहे हैं, जो कि पत्थरबाज हैं, गौहत्या करते हैं और उनका ना तो कोई इमान है और न ही जिनका कोई नैतिक अधिकारी है।

देखिए वीडियो - कांग्रेस नेता का विवादित बयान- "माहवारी में अपवित्र होती हैं महिलाएं, पूजा घर, मस्जिद में न जाएं"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App