ताज़ा खबर
 

राजस्‍थान की महिला का आरोप- जबरन कश्‍मीर ले जाकर कबूलवाया इस्‍लाम, दुबई भेजने की थी तैयारी

अपनी शिकायत में पीड़िता ने बताया कि उससे एक कोरे कागज पर हस्ताक्षर कराए गए, जिसे बाद में शादी के डॉक्यूमेंट में बदल दिया गया और इस्लाम कबूल करने के लिए दबाव डाला गया।

Author January 13, 2019 2:58 PM
पुलिस ने मामले की जांच शुरु कर दी है।(image source-ani)

राजस्थान के बाड़मेर में 18 वर्षीय एक महिला ने गंभीर आरोप लगाते हुए खुलासा किया है कि उसे एक व्यक्ति द्वारा ब्लैकमेल कर जम्मू कश्मीर ले जाया गया, जहां उसे इस्लाम कबूल करने के बाध्य किया गया। फिलहाल महिला किसी तरह वहां से भागने में सफल हुई और अब बाड़मेर स्थित अपने घर पहुंची है। न्यूज एजेंसी एएनआई की एक खबर के अनुसार, बाड़मेर की रहने वाली पीड़िता ने पुलिस को दी शिकायत में बताया है कि आरोपी व्यक्ति ने उसकी एडिट की गई तस्वीरों के दम पर उसे ब्लैकमेल किया और उसे जम्मू कश्मीर ले गया। वहां जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा इलाके में पीड़िता को 9 माह तक रखा गया।

अपनी शिकायत में पीड़िता ने बताया कि उससे एक कोरे कागज पर हस्ताक्षर कराए गए, जिसे बाद में शादी के डॉक्यूमेंट में बदल दिया गया और इस्लाम कबूल करने के लिए दबाव डाला गया। महिला के साथ मारपीट भी की गई। महिला का आरोप है कि उसे दुबई भेजे जाने की योजना बनायी जा रही थी। लेकिन किसी तरह वह वहां से भागने में सफल रही और अपने घर बाड़मेर लौट आयी। कुछ खबरों में बताया गया है कि आरोपियों ने पीड़िता को बीफ खाने और नमाज अदा करने के लिए भी दबाव बनाया।

वहीं पीड़िता की शिकायत पर राजस्थान पुलिस ने मामले की जांच शुरु कर दी है। पुलिस जांच में पता चला है कि बीते साल 16 मार्च को पीड़िता वडोदरा जाते वक्त गायब हो गई थी। गायब होने से कुछ दिन पहले से ही आरोपी पीड़िता को ब्लैकमेल कर रहा था। वहीं इस मामले पर बाड़मेर की एसपी राशि डोगरा ने बताया कि मामले की जांच के लिए पुलिस अधिकारियों को जम्मू कश्मीर भेजा जाएगा। एसपी ने बताया कि महिला को इंसाफ मिलेगा। पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 164 के तहत मामला दर्ज किया गया है। वहीं पीड़िता ने पुलिस से सुरक्षा देने की मांग की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App