राजस्थान: CM पद का मामला जितेंद्र सिंह ने सुलझाया था, नाराज पायलट को इस तरह मनाया

अहमद पटेल ने अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री बनाने के लिए पार्टी आलाकमान को राजी किया था। खबर के मुताबिक पटेल ने सोनिया गांधी से इस संदर्भ में बात की थी

अशोक गहलोत और सचिन पायलट, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

राजस्थान में कांग्रेस पार्टी ने अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री पद के लिए चुना है लेकिन कांग्रेस पार्टी के लिए अशोक गहलोत के नाम का ऐलान करना इतना आसान नहीं था क्योंकि मुख्यमंत्री पद की रेस में कांग्रेस के युवा नेता और राजस्थान में कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष सचिन पायलट भी थे। दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक कांग्रेस के नेता जितेंद्र सिंह ने पर्दे के पीछे अहम भूमिका निभाई और सचिन पायलट को डिप्टी सीएम बनने के लिए राजी किया था।

पायलट ने रखे थे ये तर्क-

खबर के मुताबिक मुख्यमंत्री पद से नीचे ना तो सचिन पायलट और ना ही अशोक गहलोत मानने को तैयार थे। यही कारण है कि कांग्रेस पार्टी को कई बैठकें करनी पड़ी थी। खबरों के मुताबिक सचिन पायलट ने राहुल गांधी को तर्क दिया था कि 2013 में कांग्रेस पार्टी को अशोक गहलोत के नेतृत्व में हार का सामना करना पड़ा था। तब गहलोत राजस्थान में कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष क्यों नहीं बने? इसके साथ ही पायलट ने अपने आप को कास्ट फैक्टर से अलग करते हुए कहा मुझे एक जाति से क्यों जोड़ा जा रहा है।

‘गहलोत बोले’, मोदी लहर में गुजरात में कांग्रेस के पक्ष में बनाया था माहौल-

वहीं अशोक गहलोत ने अन्य राज्यों में किए गए कामों को गिनाया। खबर के मुताबित अशोक गहलोत ने गुजरात, कर्नाटक और अन्य राज्यों में अपने कामों को पार्टी के सामने रखा। दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक गहलोत ने पार्टी से कहा, ‘जब मोदी लहर थी तब मैंने गुजरात जाकर कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाया था।’

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी और पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने सचिन पायलट को डिप्टी सीएम का ऑफर दिया था। लेकिन पायलट ने इसे इनकार कर दिया था। लेकिन बाद में शुक्रवार को सचिन और जितेंद्र सिंह के बीच मुलाकात हुई जिसके बाद दोनों ही नेता ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी। इस मुलाकात में अशोक गहलोत भी शामिल थे। इस मीटिंग में मुख्यमंत्री पद और डिप्टी सीएम पर सहमति बनी जिसके बाद सबकुछ साफ हो गया। बता दें, अहमद पटेल ने अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री बनाने के लिए पार्टी आलाकमान को राजी किया था। खबर के मुताबिक पटेल ने सोनिया गांधी से इस संदर्भ में बात की थी।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट