राजस्थान: 1952 से अब तक सिर्फ पांच डिप्टी सीएम बने, इस लिस्ट में शामिल हुए सचिन पायलट

पायलट ने राजस्थान में कार्यकर्ताओं को एकजुट किया और चुनाव में कांग्रेस को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई है।

सचिन पायलट

राजस्थान में पांच साल बाद कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है। कांग्रेस पार्टी ने कई दौर की बैठकों के बाद अशोक गहलोत और सचिन पायलट में से अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री पद के लिए चुना है। वहीं सचिन पायलट को राजस्थान का नया डिप्टी सीएम बनाया गया है। साल 2002 के बाद एक बार फिर से राजस्थान को डिप्टी सीएम मिलने वाला है।

मुख्यमंत्री पद की रेस में अनुभवी नेता अशोक गहलोत और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट थे। बता दें, लगभग पांच साल पहले सचिन पायलट को कांग्रेस पार्टी ने प्रदेश अध्यक्ष बनाकर राजस्थान भेजा था। पायलट ने राजस्थान में कार्यकर्ताओं को एकजुट किया और चुनाव में कांग्रेस को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई है। इसी की वजह से उन्हें डिप्टी सीएम बनाया जा रहा है। पायलट ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा था कि ‘इस बार राजस्थान में मेरा और अशोक गहलोत का जादू चल गया’

राजस्थान को मिला डिप्टी सीएम-

राजस्थान में सबसे पहले टीकाराम पालीवाल डिप्टी सीएम बने थे। टीकाराम लगभग दो सालों तक इस पद पर रहे थे। इसके बाद साल 1993 में बीजेपी की सरकार में हरिशंकर भाभड़ा को डिप्टी सीएम बनाया गया था। इसके बाद साल 2002 में जब अशोक गहलोत मुख्यमंत्री थे तब बनवारी लाल बैरवा को उपमुख्यमंत्री बनाया गया। लेकिन छह महीने के बाद ही कांग्रेस ने जातीय समीकरण को देखते हुए कमला बेनीवाल को उपमुख्यमंत्री बनाया था। बनवारी लाल बैरवा और कमला बेनीवाल एक साथ उप मुख्यमंत्री रहे थे। अब सचिन पायलट राजस्थान के पांचवे डिप्टी सीएम होंगे।

इस बार राजस्थान में कांग्रेस पार्टी को 99 सीटों पर जीत मिली है। कांग्रेस पार्टी का वोट प्रतिशत 39.3 प्रतिशत रहा। वहीं बीजेपी को इस बार 73 सीटें मिली हैं और उसका वोट प्रतिशत 38.8 प्रतिशत रहा।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

X