ताज़ा खबर
 

जब ज्योतिरादित्य सिंधिया और सचिन पायलट ने मिलकर कांग्रेस के पक्ष में संभाला था मोर्चा, देखें VIDEO

सिंधिया की तरह सचिन पायलट ने बगावत कर दी है और उनकी ओर से दावा किया जा रहा है कि उनके समर्थन में 30 विधायक हैं। लेकिन एक समय था जब दोनों युवा नेता साथ मिलकर एक ही मंच से कांग्रेस पार्टी का बचाव करते नज़र आते थे। इसका एक वीडियो भी सामने आया है।

ज्योतिरादित्य सिंधिया और सचिन पायलट का यह वीडियो साल 2017 का है। (indian express)

मध्यप्रदेश की तरह राजस्थान में भी भाजपा सत्ता में बदलाव के लिए पूरी तैयार बैठी है। एमपी में ज्योतिरादित्य सिंधिया की बगावत के बाद अब राजस्थान में उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट पार्टी से नाराज़ चल रहे हैं। सिंधिया की तरह सचिन पायलट ने बगावत कर दी है और उनकी ओर से दावा किया जा रहा है कि उनके समर्थन में 30 विधायक हैं। लेकिन एक समय था जब दोनों युवा नेता साथ मिलकर एक ही मंच से कांग्रेस पार्टी का बचाव करते नज़र आते थे। इसका एक वीडियो भी सामने आया है।

ज्योतिरादित्य सिंधिया और सचिन पायलट का यह वीडियो साल 2017 का है। इसमें दोनों ही नेता 2014 में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस पार्टी का बचाव करते नज़र आ रहे हैं। एनडीटीवी के इस वीडियो में पायलट कह रहे हैं कि 2014 हम बुरी तरह हारे लेकिन आने वाले समय में हम वापसी करेंगे। पायलट ने कहा था लोकतन्त्र में कांग्रेस मुक्त भारत की बात करना सही नहीं है। देश के विकास में कांग्रेस का कोई हाथ नहीं ऐसा बोलना अदूरदर्शी है।

वहीं सिंधिया ने कांग्रेस का बचाव करते हुए कहा था कि समय किसी के लिए नहीं रुकता। जैसे जैसे समय बदलता है लोग बादल जाते हैं, देश बादल जाता है आकांक्षा बादल जाती है। मेरा मानना है बिज़नस मॉडल की तरह पार्टियों को कार्य करने के तरीके बदलना चाहिए। अगर आप ऐसा नहीं करते तब आप खत्म हो जाएंगे। हां 2014 में हमने बहुत सी चीज़ें सही से नहीं की हैं। हालांकि 10 साल सरकार में रहते हुए हमने अच्छी स्कीम लाई, अच्छी ग्रोथ दी लेकिन शायद हमारी मार्केटिंग अच्छी हैं थी।

बता दें ज्योतिरादित्य सिंधिया कुछ महीने पहले कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हो गए थे। वे अपने साथ 22 विधायक भी ली गए जिसके चलते मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार गिर गई। ऐसा ही कुछ अब राजस्थान में होता दिखाई दे रहा है। मुख्यमंत्री पद को लेकर नाराज़ पायलट ने भी बगावत कर दी है। विधानसभा चुनाव के दौरान खुद को राजस्थान के सीएम पद के लिए प्रबल दावेदार मान रहे सचिन पायलट को कांग्रेस आलाकमान ने झटका देते हुए अशोक गहलोत को सीएम बना दिया। जिसके बाद बात बिगड़ना शुरू हो गई और पार्टी में सियासी घमासान शुरू हो गया।

Next Stories
1 Coronavirus: भाजपा नेता ने मुकुट पहन उत्तरी दिल्ली नगर निगम के चेयरमैन का संभाला पदभार, लोगों ने बताया नौटंकी
2 कांग्रेस पार्टी एक खूबसूरत समस्या है, बाहरवालों से नहीं अंदरवालों से लड़ते हैं-आप सांसद ने किया ट्वीट; हो गए ट्रोल
3 योगी आदित्यनाथ सरकार के मंत्री ने बाढ़ रोकने के लिए सिंचाई विभाग को दिए नियमित पूजा के निर्देश, ट्रोल
आज का राशिफल
X