ताज़ा खबर
 

राजस्‍थान: 6 महीने तक पिता करता रहा 13 साल की बेटी का बलात्‍कार, गिरफ्तार

राजस्थान के झालावाड़ में जिले से बाप-बेटी के पवित्र रिश्ते और इंसानियत को शर्मसार करने वाली खबर सामने आई है। एक 43 वर्षीय शख्स पर उसकी 13 वर्षीय बेटी के साथ कई महीनों तक बार-बार बलात्कार करने आरोप लगा है।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

राजस्थान के झालावाड़ में जिले से बाप-बेटी के पवित्र रिश्ते और इंसानियत को शर्मसार करने वाली खबर सामने आई है। एक 43 वर्षीय शख्स पर उसकी 13  वर्षीय बेटी के साथ कई महीनों तक बार-बार बलात्कार करने आरोप लगा है। पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया है और अदालत ने उसे 14 दिन की न्यायायिक हिरासत में भेजा है। पुलिस के मुताबिक आरोपी को बीते सोमवार (4 जून) को मनहोरेथाना इलाके से गिरफ्तार किया गया था। पुलिस में दर्ज शिकायत के मुताबिक आरोपी अपने घर में ही बेटी के साथ 6 महीनों तक बलात्कार करता रहा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने बताया कि आरोपी पेशे से मजदूर है। वह काफी समय से अपनी पत्नी से अलग रह रहा है। पुलिस के मुताबिक आरोपी शराब पीने का आदी है। आरोपी के तीन बच्चे हैं। करीब 6 महीने पहले आरोपी अपनी पत्नी के पास वापस लौटा और बच्चों की देखभाल करने का आश्वासन देकर 13 वर्षीय बेटी और छोटे लड़के को अपने साथ ले आया।

मामला उस वक्त उजागर हो गया जब आरोपी की पत्नी अपने बच्चों से मिलने पति के घर आई। पीड़िता ने अपनी मां को सारी आपबीती कह सुनाई। पीड़िता की मां ने देर न करते हुए बीती 29 मई को पति के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस के मुताबिक आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (रेप) और पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। राजस्थान के ही मालखेड़ा थाना इलाके से एक और चौंकाने वाली खबर में एक 11 वर्षीय बच्ची के साथ उसी के दो चचेरे भाइयों ने कई दफा बलात्कार किया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बच्ची अपने भाइयों के साथ घूमने गई थी, जहां दोनों ने उसके साथ रेप कर उसका एमएमएस बनाया और उसे धमकाकर कई दफा रेप किया। आरोपी चचेरे भाइयों की उम्र 18 वर्ष से कम बताई जा रही है। मामला तब सामने आया जब तीन महीने बाद बच्ची ने पेट में दर्द होने की शिकायत परिजनों से की। डॉक्टरी जांच में बच्ची को 3 महीने का गर्भवती बताया गया। पुलिस ने दोनों आरोपियों में से एक को गिरफ्तार किया है और बच्ची डॉक्टरों की देखभाल में बताई जाती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App