ताज़ा खबर
 

जेपी नड्डा ने दी रालोपा सांसद हनुमान बेनीवाल को नसीहत, कहा- भाजपा नेताओं पर नहीं करें टिप्पणी; बागी विधायकों की अर्जी पर 20 तक टली सुनवाई

ऑडियो टेप की सच्चाई की जांच होने तक कांग्रेस विधायक भंवर लाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया गया है

Congress rajasthan governmentराजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत। (PTI)

राजस्थान में राजनीतिक उठापटक के बीच सचिन पायलट गुट की याचिका पर शुक्रवार को हाई कोर्ट में सुनवाई हुई। दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद हाई कोर्ट ने सुनवाई जारी रखने का फैसला किया। इसके बाद हाई कोर्ट ने सोमवार सुबह 10 बजे तक सुनवाई स्थगित कर दी। कोर्ट ने मुख्य सचेतक महेश जोशी को 18 जुलाई तक जवाब देने का समय दिया है। साथ ही हाई कोर्ट ने स्पीकर की कार्रवाई पर मंगलवार तक रोक लगा दी। यानी अब मंगलवार शाम 5 बजे तक स्पीकर बागी विधायकों पर कोई कार्रवाई नहीं कर सकते हैं।

इस बीच, रालोपा सांसद हनुमान बेनीवाल की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को लेकर किए गए ट्वीट को लेकर पार्टी गंभीर नजर आ रही है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बेनीवाल को साफ किया है कि राजस्थान में चल रहे राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर वे भाजपा के किसी भी नेता को लेकर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे। हालांकि, नड्डा की नसीहत के बाद भी बेनीवाल की ओर से किए गए ट्वीट नहीं हटाए गए हैं।

Rajasthan Government Crisis LIVE Updates: यहां पढ़ें सभी लाइव अपडेट

इससे पहले हाई कोर्ट ने महेश जोशी की अपील को स्वीकार कर लिया। नोटिस के लिए तीन दिन देने पर बहस हुई। बता दें कि सचिन पायलट गुट की ओर से हरीश साल्वे लंदन से पेश हो रहे हैं। दूसरी ओर, ऑडियो क्लिप्स सामने आने के बाद कांग्रेस ने भाजपा पर सरकार गिराने के लिए खरीद फरोख्त का आरोप लगाया है। राजस्थान सरकार के ओएसडी लोकेश शर्मा ने एक ऑडिया जारी किया है। दावा किया गया है कि केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह जयपुर के संजय जैन के जरिए विधायक भंवर लाल शर्मा के संपर्क में हैं।

Live Blog

Highlights

    06:20 (IST)18 Jul 2020
    पायलट खेमे को चार दिन की राहत मिली, अयोग्यता नोटिसों पर अगले सप्ताह तक नहीं होगी कार्रवाई

    राजस्थान उच्च न्यायालय ने विधानसभा अध्यक्ष के नोटिस के खिलाफ असंतुष्ट विधायकों की याचिका पर सुनवाई सोमवार तक के लिए स्थगित कर दी। इससे सचिन पायलट और कांग्रेस के 18 अन्य असंतुष्ट विधायकों को जारी अयोग्यता नोटिसों पर विधानसभा अध्यक्ष की किसी कार्रवाई से शुक्रवार को चार दिनों के लिए राहत मिल गई।

    05:40 (IST)18 Jul 2020
    राजस्थान पुलिस के एसओजी ने संजय जैन को गिरफ्तार किया

    राजस्थान पुलिस के विशेष कार्यबल (एसओजी) ने शुक्रवार को राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार को अस्थिर करने के लिये विधायकों की खरीद फरोख्त वाले ओडियो टेप में कथित रूप से नाम आने पर संजय जैन को गिरफ्तार कर लिया है। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एटीएस एवं एसओजी) अशोक राठौड ने बताया कि जैन को सोशल मीडिया पर वायरल हुई आडियो रिकॉर्डिंग के आधार पर दर्ज प्राथमिकी के सिलसिले में पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया गया है।पुलिस के अनुसार जैन को बृहस्पतिवार और शुक्रवार को पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया है।

    05:01 (IST)18 Jul 2020
    आयकर विभाग ने राजस्थान के तीन कारोबारी समूहों पर छापों के बाद 12 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की

    आयकर विभाग ने कर चोरी के आरोप में इस सप्ताह की शुरुआत में राजस्थान के तीन कारोबारी समूहों के ठिकानों पर तलाशी के बाद करीब 12 करोड़ रुपये नकद जब्त किए हैं।अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि आयकर विभाग ने दिल्ली, मुंबई, जयपुर और कोटा में 43 ठिकानों पर तलाशी लगभग पूरी करने के बाद करीब 1.5 करोड़ रुपये के आभूषण भी जब्त किए हैं।

    04:41 (IST)18 Jul 2020
    हरियाणा पुलिस ने गुड़गांव के होटल में राजस्थान पुलिस को प्रवेश से रोका

    हरियाणा पुलिस ने शुक्रवार शाम को राजस्थान पुलिस के एक दल को गुड़गांव के एक होटल में कुछ समय तक प्रवेश से रोके रखा जहां कांग्रेस के कुछ असंतुष्ट विधायकों के ठहरे होने की बात कही जा रही है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

    21:50 (IST)17 Jul 2020
    भंवर लाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह को मिला है नोटिस

    ऑडियो टेप की सच्चाई की जांच होने तक कांग्रेस विधायक भंवर लाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया गया है और दोनों को कारण बताओ नोटिस दिया गया है। कांग्रेस द्वारा लगाए गए ऑडियो के आरोप पर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने सफाई दी है। उन्होंने इसको फर्जी बताया है और कहा है कि मैं मारवाड़ भाषा बोलता हूं बल्कि आवाज में झुंझनू का टच है।

    21:11 (IST)17 Jul 2020
    गजेंद्र सिंह शेखावत, भंवर लाल शर्मा और संजय जैन पर राजद्रोह के तहत दर्ज किया गया है केस

    टेप लीक मामले में गजेंद्र सिंह शेखावत, कांग्रेस से निलंबित विधायक भंवर लाल शर्मा और हिरासत में लिए गए संजय जैन के खिलाफ राजद्रोह के प्रावधान के तहत मामला दर्ज किया गया है। इसमें आपराधिक षड्यंत्र रचने की धारा भी लगाई गई है। अशोक राठौड़ (एडीजी- एटीएस और एसओजी) ने बताया कि गुरुवार को सामने आए ऑडियो टेप को लेकर कांग्रेस नेता महेश जोशी की ओर से दो शिकायतें मिली थीं। इसके बाद धारा 124(A) (राजद्रोह) और 120(B) (आपराधिक षड्यंत्र) के तहत दो FIR दर्ज की गई हैं।

    20:54 (IST)17 Jul 2020
    क्या सचिन पायलट की होगी घर वापसी?

    कांग्रेस ने सचिन पायलट को प्रदेश अध्यक्ष और डिप्टी सीएम पद से हटा दिया है। इसके अलावा उनके दो समर्थक मंत्रियों की भी कैबिनेट से छुट्टी कर दी गई है। विधानसभा अध्यक्ष ने नोटिस देकर उनके गुट से दो दिन में जवाब मांगा है। हालांकि, इस सबके बावजूद सच्चाई यह है कि सचिन पायलट अब तक अपना सियासी फैसला नहीं ले पाए हैं।

    20:05 (IST)17 Jul 2020
    यह है मामला

    कांग्रेस ने विधानसभा अध्यक्ष से शिकायत की थी कि विधायकों ने कांग्रेस विधायक दल की सोमवार और मंगलवार को हुई दो बैठकों में भाग लेने के लिए जारी पार्टी के व्हिप का उल्लंघन किया है। इसके बाद, अध्यक्ष ने इन असंतुष्ट विधायकों को नोटिस जारी किए। हालांकि, पायलट खेमे का कहना है कि पार्टी का व्हिप तभी लागू होता है जब विधानसभा का सत्र चल रहा हो। विधानसभा अध्यक्ष को भेजी गई शिकायत में कांग्रेस ने पायलट और अन्य बागी विधायकों के खिलाफ संविधान की 10वीं अनुसूची के पैराग्राफ 2(1)(ए) के तहत कार्रवाई करने की मांग की है।

    18:45 (IST)17 Jul 2020
    राहुल गांधी और सचिन पायलट पर भंवर लाल शर्मा कर चुके हैं विवादित टिप्पणी

    भंवर लाल शर्मा राहुल गांधी पर भी तीखी टिप्पणी कर चुके हैं। भंवर लाल ने कहा था कि राहुल गांधी चार-पांच जोकरों से घिरे हुए हैं। उन्हें चापलूसों ने घेर रखा है। राहुल गांधी और सचिन पायलट जैसे लोग राजनीतिक विरासत से आए हैं। तब कांग्रेस पार्टी ने उनके इस बयान पर उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया था। हालांकि, राजस्थान विधानसभा चुनाव 2008 से पहले फिर से उन्हें बहाल कर दिया गया था।

    18:17 (IST)17 Jul 2020
    भाजपा की लहर में कांग्रेस के टिकट पर जीते थे, भंवर लाल, लेकिन नहीं मिला था मंत्री पद

    2013 में विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा की लहर थी। इसके बावजूद राजस्थान में कांग्रेस के टिकट पर जीतने वालों में भंवर लाल शर्मा भी शामिल थे। वह 2018 में भी 7वीं बार जीतने में सफल रहे, लेकिन गहलोत सरकार में उन्हें जगह नहीं मिली। शायद इसी का नतीजा है कि उन्होंने गहलोत सरकार के खिलाफ बागवत का बिगुल फूंक दिया। अब कांग्रेस ने भाजपा के साथ मिलकर सरकार गिराने की साजिश के आरोपों के चलते उनकी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता खत्म कर दी है।

    17:55 (IST)17 Jul 2020
    पहले भी कांग्रेस के लिए सिरदर्द बन चुके हैं भंवर लाल शर्मा

    भंवर लाल शर्मा अपने 30 साल के राजनीतिक सफर में कई बार कांग्रेस के लिए सिरदर्द बन चुके हैं। वह पहले भी पार्टी से निलंबित हो चुके हैं। हालांकि, कई ऐसे मौके भी आए जब उन्होंने सरकार बचाने में संकटमोचक की भूमिका निभाई। मौजूदा समय में वह अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ सचिन पायलट के साथ बगावत का झंडा उठाए हुए हैं। भंवर लाल शर्मा सात बार के विधायक हैं।

    17:23 (IST)17 Jul 2020
    राजस्थान में तो बहुत सारे गजेंद्र हैं: केंद्रीय मंत्री

    केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के अलावा भाजपा ने भी कांग्रेस पर फर्जी आरोप लगाने की बात कही है। शेखावत का कहना है कि मेरी कोई आवाज नहीं है। कांग्रेस फर्जी ऑडियो चलाकर मेरी प्रतिष्ठा खराब करने की कोशिश कर रही है।” शेखावत ने आगे कहा कि ऑडियो में कहीं भी यह नहीं कहा गया है कि मैं केंद्रीय मंत्री से बात कर रहा हूं। गजेंद्र तो राजस्थान में बहुत सारे हैं।

    16:58 (IST)17 Jul 2020
    सचिन पायलट अब भी हैं कांग्रेस के सदस्य

    लीक हुए टेप को लेकर सचिन पायलट के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है। वे अब भी कांग्रेस के सदस्य हैं, उन्हें पहले राजस्थान के पीसीसी प्रमुख और उपमुख्यमंत्री के पद से हटा दिया गया था। यह पूछे जाने पर कि सचिन पायलट को निलंबित क्यों नहीं किया गया है, सुरजेवाला ने कहा, “हमने उन लोगों को पार्टी से निलंबित किया है जिनके खिलाफ हमारे पास सबूत हैं।”

    15:24 (IST)17 Jul 2020
    शेखावत से पूछताछ के लिए एसओजी दिल्ली रवाना

    ऑडियो क्लिप मामले में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत से पूछताछ के लिए राजस्थान की स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) दिल्ली रवाना हो गई है। शेखावत ने टेप को फर्जी बताया था और कहा था कि मैं मारवाड़ भाषा बोलता हूं बल्कि आवाज में झुंझनू का टच है। केंद्रीय मंत्री के अलावा बीजेपी ने भी कांग्रेस पर फर्जी आरोप लगाने की बात कही है।

    14:45 (IST)17 Jul 2020
    अदालत ने गहलोत सरकार की ओर से मुख्य सचेतक महेश जोशी को पार्टी मान लिया

    सुनवाई के दौरान अदालत ने गहलोत सरकार की ओर से मुख्य सचेतक महेश जोशी को पार्टी मान लिया है। हरीश साल्वे की ओर से कहा गया है कि स्पीकर इस मामले में भेदभाव कर रहे हैं, स्पीकर की मंशा साफ नहीं है। इस दौरान अदालत में ऑडियो मामले में लिखी गई FIR पर भी चर्चा हुई और हरीश साल्वे ने कहा कि देखिए अब किस तरह FIR लिखी जा रही हैं।

    14:03 (IST)17 Jul 2020
    संबित पात्रा ने कहा अपनी विफलताओं के लिए भाजपा को दोष दे रही कांग्रेस

    भाजपा नेता संबित पात्रा ने राजस्थान में कांग्रेस द्वारा भाजपा नेताओं के खिलाफ लगाए जा रहे सभी आरोपों को खारिज करते हुए उसे आधारहीन बताया है। पात्रा ने कहा है कि दरअसल, कांग्रेस निराश है क्योंकि वह अपनी पार्टी को ठीक से नहीं रख पाई। वह एक बनाए गए ऑडियो क्लिप का उपयोग करके अपनी विफलताओं के लिए भाजपा को दोष देना चाहते हैं।

    13:45 (IST)17 Jul 2020
    आलाकमान ने सचिन पायलट पर नरम रुख अपनाने के लिए कहा

    कांग्रेस में नेताओं को पार्टी आलाकमान ने सचिन पायलट पर नरम रुख अपनाने के लिए कहा है और युवा नेता के वापसी के दरवाजे खुले रखे हैं। सचिन पायलट को गांधी परिवार के साथ अच्छे संबंध साझा करने के लिए जाना जाता है।

    13:12 (IST)17 Jul 2020
    IPC की धारा 124 ए और 120 बी के तहत एफआईआर दर्ज

    एडीजी स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के अशोक राठौर का कहना है कि कल वायरस हुई ऑडियो को लेकर महेश जोशी ने दो शिकायत की थीं, IPC की धारा 124 ए और 120 बी के तहत एफआईआर दर्ज की गई हैं। हम ऑडियो में हुई बातचीत की सच्चाई की जांच करेंगे।

    12:49 (IST)17 Jul 2020
    FIR में भंवरलाल शर्मा, गजेंद्र सिंह, संजय जैन का नाम है

    राजस्थान कांग्रेस के मुख्य ​व्हिप महेश जोशी ने कहा "2 FIR दर्ज कराई हैं, एक FIR में 3 नाम हैं और दूसरी में कोई नाम नहीं है। FIR में भंवरलाल शर्मा, गजेंद्र सिंह, संजय जैन का नाम है। FIR में नाम ​गजेंद्र सिंह है लोगों का अनुमान है कि वो गजेंद्र सिंह शेखावत है इसकी जांच SOG करेगी।"

    12:18 (IST)17 Jul 2020
    कांग्रेस फर्जी ऑडियो चलाकर मेरी प्रतिष्ठा खराब करने की कोशिश कर रही है

    ऑडियो टेप को लेकर बोले केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ""मेरी कोई आवाज नहीं है। कांग्रेस फर्जी ऑडियो चलाकर मेरी प्रतिष्ठा खराब करने की कोशिश कर रही है।” शेखावत ने आगे कहा कि ऑडियो में कहीं भी यह नहीं कहा गया है कि मैं केंद्रीय मंत्री से बात कर रहा हूं। गजेंद्र तो राजस्थान में बहुत सारे हैं।

    11:53 (IST)17 Jul 2020
    आपसी लड़ाई का मोहरा भाजपा को बताया जाए, सरकार के पास अगर बहुमत है ​तो तिगड़म क्यों

    बीजेपी अध्यक्ष सतीश पूनिया का कहना है कि कुर्सी का मोह, कुर्सी बचाने की फिक्र कैसी होती है ये कोई अशोक गहलोत से सीखे! बड़ा अजीब नजारा था कि अपना घर टूटता देख कोई विक्ट्री का साइन बनाए। बड़ी विचित्र बात है कि आपसी लड़ाई का मोहरा भाजपा को बताया जाए। सरकार के पास अगर बहुमत है ​तो तिगड़म क्यों।"

    11:31 (IST)17 Jul 2020
    मुख्य ​व्हिप महेश जोशी ने ऑडियो टेप पर यह कहा

    ऑडियो टेप पर राजस्थान कांग्रेस के मुख्य ​व्हिप महेश जोशी का कहने है कि मैंने स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप में इसकी शिकायत की है कि इसकी नियमानुसार जांच हो और जांच के आधार पर कार्रवाई हो, मुकदमा दर्ज हो।

    11:09 (IST)17 Jul 2020
    जाट विधायकों से बोलीं वसुंधरा, अशोक गहलोत को करें समर्थन

    राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के सांसद बेनीवाल ने दावा किया कि वसुंधरा राजे अशोक गहलोत का साथ दे रही हैं। बेनीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा, "पूर्व सीएम वसुन्धरा राजे अशोक गहलोत की अल्पमत वाली सरकार को बचाने का पुरजोर प्रयास कर रही है, राजे द्वारा कांग्रेस के कई विधायकों को इस बारे में फोन भी किए गए।"

    10:38 (IST)17 Jul 2020
    सुरजेवाला ने कांग्रेस नेता भंवरलाल शर्मा और बीजेपी नेता संजय जैन की बातचीत से जुड़े कई खुलासे किए

    कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी राजस्थान की सरकार गिराने की कोशिश की है। इसके कुछ ऑडियो भी सामने आ रहे हैं, जिसमें राजस्थान के कांग्रेस विधायकों को खरीदने की कोशिश की जा रही है। इस दौरान रणदीप सुरजेवाला ने कांग्रेस नेता भंवरलाल शर्मा और बीजेपी नेता संजय जैन की बातचीत से जुड़े कई खुलासे किए।

    10:12 (IST)17 Jul 2020
    हाईकोर्ट में याचिका, इधर पी चिदंबरम से बात; सचिन पायलट चल रहे दोहरी चाल

    एक तरफ पायलट ने बागी विधायकों को विधानसभा स्पीकर द्वारा अयोग्यता नोटिस भेजे जाने पर राजस्थान हाईकोर्ट में याचिका दायर की वहीं दूसरी तरफ उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम से बातचीत की। पढ़ें पूरी खबर 

    09:38 (IST)17 Jul 2020
    राजस्थान हाईकोर्ट आज करेगी सचिन पायलट और 18 विधायकों की याचिका पर सुनवाई

    राजस्थान हाईकोर्ट आज सचिन पायलट और उनके समर्थक 18 विधायकों की याचिका पर सुनवाई करेगी। दरअसल, विधायकों ने स्पीकर के नोटिस के खिलाफ हाईकोर्ट का रुख किया है। कोर्ट इस मामले में दोपहर 1 बजे तक सुनवाई कर सती है। बता दें कि विधायकों को स्पीकर की नोटिस का भी आज तक ही जवाब देना था।

    09:12 (IST)17 Jul 2020
    गजेंद्र शेखावत बोले- राजस्थान में ऑटोपायलट और फाइटर पायलट के बीच मुकाबला

    केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने राजस्थान में चल रही सियासी सरगर्मी पर टिप्पणी की है। उन्होंने कहा है कि सीएम गहलोत और सचिन पायलट के बीच जारी तनाव ऑटोपायलट और फाइटर पायलट के बीच की जंग है। गहलोत पर निशाना साधते हुए शेखावत ने कहा है कि उनका हर बयान कांग्रेस पर गांधी परिवार के हक की भावना झलकाता है।

    08:39 (IST)17 Jul 2020
    भारतीय ट्राइबल पार्टी का रुख बदला, कहा- कांग्रेस को करेंगे सपोर्ट

    भारतीय ट्राइबल पार्टी ने राजस्थान में चल रहे संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का समर्थन करने का फैसला किया है। पार्टी के उपाध्यक्ष परेश भाई वसावा ने कहा कि बीटीपी जनता के फैसले का सम्मान करती है और जनता की चुनी हुई सरकार को नहीं गिराना चाहती। बीटीपी के राजस्थान में दो विधायक हैं। पार्टी ने कुछ समय पहले ही कहा था कि उसके विधायक फिलहाल न तो गहलोत और न ही डिप्टी सीएम सचिन पायलट के प्रति समर्थन जताएं।

    08:14 (IST)17 Jul 2020
    कांग्रेस विधायक बोले- मेरा वायरल हो रहा ऑडियो फेक है

    राजस्थान की राजनीति में उठापटक का दौर जारी है। एक दिन पहले ही कांग्रेस के बागी विधायकों ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। इसके बाद कांग्रेस सरकार ने विधायकों के सरकार गिराने के सबूत के तौर पर कुछ ऑडियो क्लिप्स शेयर की थीं। इसमें एक में विधायक भंवर लाल शर्मा को राजस्थान में सरकार गिराने की बात कहते सुना जा सकता है। हालांकि, अब भंवर लाल शर्मा ने कहा है कि यह ऑडियो फेक है। सीएम गहलोत की निराशा के बीच उनके ओएसडी लोकेश शर्मा विधायकों के फर्जी ऑडियो क्लिप बना रहे हैं।

    07:47 (IST)17 Jul 2020
    राजस्थान संकट पर उछला पूर्व सीएम वसुंधरा राजे का नाम

    नागौर से सांसद और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (रालोपा) के राष्ट्रीय संयोजक हनुमान बेनीवाल ने मौजूदा स्थिति के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व सीएम वसुंधरा राजे में गठजोड़ को जिम्मेदार ठहराया है। वहीं, राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने सारे घटनाक्रम का ठीकरा भाजपा पर फोड़ा। उन्होंने कहा कि भाजपा लोकतंत्र खत्म करने पर आमादा है। धन बल, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी), आयकर विभाग से डरा रहे हैं, हिटलरशाही पर उतर आए हैं।

    06:13 (IST)17 Jul 2020
    भाजपा विधायकों ने पायलट के बयान को हताशा भरा बताया

    भारतीय जनता पार्टी के दो वरिष्ठ विधायकों ने सचिन पायलट के उस बयान को हास्यास्पद व हताशा भर बताया है जिसमें उन्होंने कथित तौर पर कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जनता से किए वादे पूर करने के बजाय पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को आवंटित बंगले को बचाए रखने में उनकी मदद कर रहे हैं। भाजपा के विधायक व पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल तथा पूर्व मंत्री प्रताप सिंह सिंघवी ने एक संयुक्त बयान में कहा कि पायलट का यह बयान हास्यास्पद है और उनकी हताशा को दर्शाता है। बयान के अनुसार, पूर्व मुख्यमंत्री राजे को सरकारी आवास उन्हें वरिष्ठ विधायक के रूप में आवंटित है। इस श्रेणी के आवास समय-समय पर वरिष्ठ विधायकों को आवंटित किए जाते हैं। बयान में कहा गया, अच्छा होता कि पायलट यह बताते कि वह बिना पद के ही पांच केनिंग रोड के बंगले में किस हैसियत से रह रहे हैं?

    04:49 (IST)17 Jul 2020
    गहलोत सरकार को बचाने की कोशिश कर रही हैं वसुंधरा राजे: बेनीवाल

    राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के समन्वयक व नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे राज्य की अशोक गहलोत सरकार को बचाने का प्रयास कर रही हैं। बेनीवाल ने आरोप लगाया कि राजे ने इस बारे में कई कांग्रेसी विधायकों को फोन किए हैं। बेनीवाल ने इस बारे में कई ट्वीट किए। इनमें से एक में उन्होंने लिखा है, ‘‘पूर्व मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे, राजस्थान में अशोक गहलोत की अल्पमत वाली सरकार को बचाने का पुरजोर प्रयास कर रही हैं। राजे द्वारा कांग्रेस के कई विधायकों को इस बारे में फोन भी किए गए।’’

    03:32 (IST)17 Jul 2020
    भाजपा नेता ने छोड़ा पार्टी का व्हाट्सएप ग्रुप

    खबर है कि भाजपा नेता अमित गोयल ने पार्टी का व्हाट्सएप ग्रुप छोड़ दिया है। भाजपा ने मीडिया सेल ने ग्रुप बना रखा है। इस ग्रुप में प्रवक्ता, पैनलिस्ट और मीडियाकर्मी जुड़े थे। दूसरी ओर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राज्य में अपनी स्थिति और मजबूत करने के लिए सचिन पायलट की सदस्यता तक पर खतरे के संकेत दे चुके हैं। गहलोत ने एक दिन पहले ही पायलट पर निशाना भी साधा था।

    02:23 (IST)17 Jul 2020
    बीटीपी का गहतोल सरकार को समर्थन

    राजस्थान में सियासी घमासान के बीच भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष परेश भाई वसावा ने डूंगरपुर में प्रेसवार्ता कर गहलोत सरकार को समर्थन देने की बात कही है

    01:17 (IST)17 Jul 2020
    न्यायमूर्ति सतीश चन्द्र शर्मा की अदालत में सुनवाई होगी

    विधानसभा अध्यक्ष द्वारा पायलट सहित कांग्रेस के 19 विधायकों को भेजे गए इस नोटिस पर न्यायमूर्ति सतीश चन्द्र शर्मा की अदालत में सुनवाई होगी। कांग्रेस ने विधानसभा अध्यक्ष से शिकायत की थी कि इन 19 विधायकों ने कांग्रेस विधायक दल की बैठकों में शामिल होने के पार्टी के व्हिप का उल्लंघन किया है, इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष ने मंगलवार को सभी को नोटिस जारी किया। 

    00:01 (IST)17 Jul 2020
    पायलट खेमा अयोग्य करार देने नोटिसों के खिलाफ नयी याचिका दाखिल करेगा

    राजस्थान उच्च न्यायालय ने बृहस्पतिवार को सचिन पायलट और 18 अन्य बागी कांग्रेस विधायकों को राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष द्वारा जारी अयोग्यता नोटिसों को चुनौती देने के लिए संशोधित याचिका दाखिल करने का समय दिया है। राज्य विधानसभा से असंतुष्ट विधायकों को अयोग्य करार देने के खिलाफ उनकी याचिका पर अपराह्न तीन बजे सुनवाई हुई। हालांकि, याचिकाकर्ताओं की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे ने इसमें संशोधन के लिए समय मांगा। साल्वे ने दलील दी कि विधायक नोटिसों की संवैधानिक वैधता को चुनौती देना चाहते हैं और उन्हें इसे नये सिरे से दाखिल करने के लिए और वक्त चाहिए। अब उच्च न्यायालय की खंडपीठ मामले में सुनवाई करेगी।

    22:39 (IST)16 Jul 2020
    सचिन खेमे के बागी विधायकों की याचिका पर 17 जुलाई को सुनावाई

    राजस्थान उच्च न्यायालय, विधानसभा अध्यक्ष द्वारा जारी अयोग्यता नोटिस को चुनौती देने वाली बागी विधायकों की याचिका पर 17 जुलाई को सुनवाई करेगा। याचिका पर गुरुवार दोपहर करीब तीन बजे न्यायमूर्ति सतीश चंद्र शर्मा ने सुनवाई की। लेकिन, पायलट खेमे के वकील वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे ने नए सिरे से याचिका दाखिल करने के लिए समय मांगा।

    21:42 (IST)16 Jul 2020
    2018 से गहलोत से असंतुष्ट चल रहे थे पायलट

    राजस्थान में 2018 विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस द्वारा अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री बनाए जाने के बाद से ही सचिन पायलट असंतुष्ट चल रहे थे। राजस्थान की 200 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के पास 107 और भाजपा के पास 72 विधायक हैं। बता दें कि नोटिस पाने वाले अन्य विधायकों में दीपेंद्र सिंह शेखावत, भंवरलाल शर्मा और हरीश चंद्र मीणा भी शामिल हैं। इन लोगों ने भी गहलोत सरकार को चुनौती देते हुए मीडिया में बयान दिए थे।

    21:15 (IST)16 Jul 2020
    हरीश साल्वे ने विधानसभा स्पीकर के नोटिस को असंवैधानिक बताया

    सचिन पायलट की तरफ से हाई कोर्ट में पेश वकील हरीश साल्वे ने विधानसभा स्पीकर की तरफ से विधायकों को जारी नोटिस को असंवैधानिक बताया और इसे निरस्त करने की मांग की। हालांकि, जस्टिस सतीश चंद शर्मा की बेंच ने पायलट की याचिका पर सुनवाई कल तक के लिए टाल दी। बता दें कि नोटिस का जवाब दाखिल करने के दबाव के चलते अब तक कई विधायक सरकार के खिलाफ बगावती सुर बुलंद कर चुके हैं।

    21:00 (IST)16 Jul 2020
    पायलट की मंशा ठीक नहीं: कांग्रेस आलाकमन

    बताया जा रहा है कि कांग्रेस आलाकमान ने सचिन पायलट को वापस नहीं लेने का फैसला उस समय लिया जब उसे इस बात की जानकारी मिली की हाई कोर्ट में पायलट की पैरवी हरीश साल्वे और मुकुल रोहतगी कर रहे हैं। इसके बाद साफ हो गया कि पायलट की मंशा ठीक नहीं है। वे भाजपा से मिले हुए हैं, जैसा की गहलोत शुरू से ही सचिन पायलट पर आरोप लगाते रहे हैं।

    20:12 (IST)16 Jul 2020
    अमित शाह के करीबी हैं सांसद हनुमान बेनीवाल

    बताते हैं कि हनुमान बेनीवाल अमित शाह के करीबी हैं। वह वसुंधरा राजे के धुर विरोधी माने जाते हैं। राजस्थान में पिछले सात दिनों से चल रहे सियासी उठापटक पर वसुंधरा राजे ने कोई टिप्पणी नहीं की। यहां तक की दो बार भाजपा ने जयपुर में बैठक रखी। उस बैठक में भी वसुंधरा राजे नहीं पहुंचीं। इस बीच, अशोक गहलोत और वंसुधरा राजे के गठजोड़ को लेकर ट्विटर पर भी बातें हुईं। #गहलोत_वसुंधरा_गठजोड ट्विटर के टॉप ट्रेंड में आ गया था।

    19:55 (IST)16 Jul 2020
    विधायक रमेश मीणा ने कहा- हम मुख्यमंत्री के काम से सहमत नहीं

    विधायक रमेश मीणा ने कहा, 'सीएम ने जो बयान दिया है। वह अनुचित है। लोग उनकी कार्यशैली से और उनके कामकाज से असंतुष्ट हैं। राजस्थान में ब्यूरोक्रेसी हावी है। जनप्रतिनिधियों के काम नहीं हो रहे। हमने जो मांगे रखीं, उन पर सीएम ने ध्यान नहीं दिया।' बता दें कि बुधवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहली बार सीधा हमला करते हुए गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा, 'पायलट भाजपा के साथ मिलकर सरकार गिराने की साजिश में लगे थे। 20 करोड़ का सौदा था। मेरे पास इसके सबूत भी हैं।'

    18:57 (IST)16 Jul 2020
    वेंटिलेटर पर है कांग्रेस: आम आदमी पार्टी

    राजस्थान के घटनाक्रम को लेकर आम आदमी पार्टी (आप) ने गुरुवार को कांग्रेस पर हमला बोला। आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता राघव चड्ढा ने कहा, राजनीतिक दलों को खेल खेलने के बजाय महामारी से लड़ने पर अधिक ध्यान देना चाहिए। कांग्रेस का न तो कोई भविष्य है और न ही इस देश को कोई भविष्य दे सकता है। कांग्रेस राज्य के बाद राज्य अपने वोट बेचती जा रही है, अपने विधायक बेचती जा रही है। कांग्रेस पार्टी पूरी तरह बिखर चुकी है बूढ़ी हो चुकी है। लगभग सवा सौ साल पुरानी कांग्रेस पार्टी आज वेंटिलेटर पर है।

    18:39 (IST)16 Jul 2020
    14 माह में भी नहीं शुरू हो पाई जांच: सांसद ने उठाए गहलोत-वसुंधरा राजे पर सवाल

    रालोपा सांसद हनुमान बेनिवाल ने गहलोत को ट्वीट कर कहा, @ashokgehlot51 जी आपके स्मरण के लिए आप द्वारा सदन में कही बात याद दिला रहा हूं, पूर्व सीएम राजे पर 5 करोड़ रुपये प्रतिमाह रिश्वत अवैध बजरी के एवज में देने के आरोप लगाए। आपने अब तक कोई जांच करवाई? क्या सदन में कही हुई बात पर आपकी किसी एजेंसी ने संज्ञान लिया? राजस्थान के मुख्यमंत्री @ashokgehlot51 सदन में पूर्व मुख्यमंत्री @VasundharaBJP पर 5 करोड़ प्रतिमाह रिश्वत बजरी अवैध खनन एवज के आरोप लगा रहे है और 14 माह में जांच के नाम पर एक कागज तक नही लिखा, ना बजरी माफिया पर अंकुश लगा पाए... शायद इनका ये हिसाब इन 14 माह में किश्त जोड़ से आया है।

    18:14 (IST)16 Jul 2020
    'घर वापसी को लेकर क्या ख्याल है,' कपिल सिब्बल का सचिन पायलट पर तंज

    कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने ट्वीट के जरिए बुधवार को सचिन पायलट पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि सचिन पायलट ने कहा कि वह भाजपा में शामिल नहीं होंगे। मुझे लगता है कि मानेसर में रुके विधायक हरियाणा की भाजपा सरकार की निगरानी में छुट्टियां मना रहे हैं। लेकिन घर वापसी का क्या?'

    17:35 (IST)16 Jul 2020
    VIDEO: भाजपा को अपना वोट बेच देती है कांग्रेस: आम आदमी पार्टी

    आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता राघव चड्ढा ने राजस्थान में जारी राजनीतिक संकट पर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, जनता राज्य दर राज्य चुनावों में कांग्रेस को वोट देती है, लेकिन कांग्रेस कुछ समय बाद अपना वोट भाजपा को बेच देती है। कांग्रेस ने गोवा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश में जनता का कीमती वोट ऐसे ही बेचकर भाजपा की सरकार बनवाई है। गोवा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश के बाद राजस्थान के सियासी हालात बता रहे हैं कि कांग्रेस ने अपने वोटरों के उम्मीद तोड़ दी है। ऐसे में अब आम आदमी पार्टी ही लोगों को विकल्प दे सकती है, जो दिल्ली में बहुत अच्छी सरकार चला रही है।

    17:24 (IST)16 Jul 2020
    भाजपा नेता ने छोड़ा पार्टी का व्हाट्सएप ग्रुप

    खबर है कि भाजपा नेता अमित गोयल ने पार्टी का व्हाट्सएप ग्रुप छोड़ दिया है। भाजपा ने मीडिया सेल ने ग्रुप बना रखा है। इस ग्रुप में प्रवक्ता, पैनलिस्ट और मीडियाकर्मी जुड़े थे। दूसरी ओर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राज्य में अपनी स्थिति और मजबूत करने के लिए सचिन पायलट की सदस्यता तक पर खतरे के संकेत दे चुके हैं। गहलोत ने एक दिन पहले ही पायलट पर निशाना भी साधा था।

    16:36 (IST)16 Jul 2020
    यह है कारण

    चीफ व्हिप महेश जोशी ने विधानसभा सचिवालय में शिकायत की थी कि सचिन पायलट, रमेश मीणा, विश्वेंद्रसिंह, दीपेंद्रसिंह, भंवरलाल शर्मा, हेमाराम चौधरी, मुकेश भाकर, हरीश मीणा समेत 19 विधायक विधायक पार्टी विधायक दल की बैठक से बिना सूचना दिए गैरहाजिर रहे, जबकि पार्टी ने व्हिप जारी किया था। इन पर एंटी डिफेक्शन लॉ (दलबदल कानून) लागू होता है। इसके तहत उक्त लोगों को नोटिस भेजे गए थे।

    16:09 (IST)16 Jul 2020
    भाजपा की पूरे घटनाक्रम पर नजर

    इन सबके बीच भाजपा शांति से पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए है। दरअसल, गहलोत और पायलट के बीच मतभेद अब खुल कर बाहर आ रहे हैं। एक दिन पहले ही गहलोत ने पायलट पर सीधे वार करते हुए कहा था कि वे उनकी सरकार को गिराने की भाजपा की साजिश में शामिल थे। गहलोत ने विधायकों की खरीद-फरोख्त के सबूत होने तक की बात कह दी थी।

    15:38 (IST)16 Jul 2020
    राजस्थान में मंत्रिमंडल विस्तार करेंगे गहलोत?

    राजस्थान में जारी राजनीतिक संकट के बीच सूत्रों की ओर से कहा जा रहा है कि सीएम गहलोत बागियों को मनाने और सरकार बचाने के लिए मंत्रीमंडल विस्तार कर सकते हैं। राजस्थान सरकार में अब तक 25 मंत्री रहे हैं, पर 3 मंत्रियों के हटने के बाद मौजूदा समय में 22 मंत्रीपद भरे हैं। गहलोत अब मंत्रियों की संख्या बढ़ाकर 30 कर सकते हैं।

    Next Stories
    1 Bihar, Jharkhand: बिहार में कोरोना का कोहराम: पटना में सात दिनों में हर घंटे मिले आठ मरीज, भागलपुर में चार
    2 राजस्थान: 13 में से 10 निर्दलीय विधायक करेंगे सचिन पायलट का खेल खराब, फिर करा सकते हैं अशोक गहलोत की नैया पार
    3 राहत में बड़ा घपला: नौ परिवारों का एक पिता, मृत और पक्के घरों के रसूखदार मालिक के भी नाम
    ये पढ़ा क्या?
    X