सुदर्शन न्यूज के सुरेश चव्हाणके पर मीणा समुदाय को अपशब्द कहने का आरोप, FIR

आदर्शनगर के सहायक पुलिस आयुक्त नील कमल ने बताया कि प्राथमिकी भारतीय दंड संहिता तथा सूचना प्रौद्योगिकी कानून की संबंधित धाराओं और अनुसूचित जाति-जनजाति (उत्पीड़न से निवारण) कानून के तहत दर्ज की गयी है।

suresh chavhanke, suresh chavhanke fir, fir against suresh chavhanke
सुदर्शन न्यूज के संपादक सुरेश चव्हाणके। (फाइल फोटोः फेसबुक/SureshChavhankeOfficial)

राजस्थान के जयपुर स्थित ट्रांसपोर्ट नगर थाने में अंबागढ किले से हाल में कथित रूप से भगवा झंडा हटाने के विवाद में मीणा समुदाय की भावनाओं को आहत करने के सिलसिले में एक समाचार चैनल के प्रधान संपादक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार राजस्थान आदिवासी मीणा सेवा संघ के सूरजपोल शाखा प्रमुख गिरिराज मीणा की ओर से ट्रांसपोर्ट नगर थाने में सुदर्शन टीवी के प्रधान संपादक सुरेश चव्हाणके के खिलाफ शुक्रवार को प्राथमिकी दर्ज करवाई गई है। पुलिस के अनुसार मीणा का आरोप है कि चैनल में मीणा समुदाय को अपशब्द कहे और पूरे समुदाय की भावनाओं को आहत किया है। उसके बाद उनके खिलाफ शुक्रवार को मामला दर्ज करवाया गया।

आदर्शनगर के सहायक पुलिस आयुक्त नील कमल ने बताया कि प्राथमिकी भारतीय दंड संहिता तथा सूचना प्रौद्योगिकी कानून की संबंधित धाराओं और अनुसूचित जाति-जनजाति (उत्पीड़न से निवारण) कानून के तहत दर्ज की गयी है।

वह आगे बोले कि किसी को भी इलाके में सद्भाव और कानून व्यवस्था को बिगाडने नहीं दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि इलाके में सुरक्षा कडी कर दी गई है और शनिवार को फ्लैग मार्च भी निकाला गया है।

सुरेश चव्हाणके देश के पहले सामाजिक देशभक्ति जगाने वाले हिंदी चैनल सुदर्शन न्यूज के चेयरमैन, एमडी, एडिटर इन चीफ और प्राइम टाइम ऐंकर हैं। यह चैनल साल 2006 के आस-पास लॉन्च हुआ था।

इस न्यूज चैनल की खबरों और कार्यक्रमों में राष्ट्रभक्ति का भाव उमड़ कर आता रहा है। यहां तक कि उसका उद्देश्य है कि चैनल ही नहीं बल्कि देश को भी नंबर-1 बनाना है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट