scorecardresearch

राजस्थानः जोधपुर में दबंगों ने रोका दलितों का रास्ता, पीड़ित लोगों ने वीडियो पोस्ट कर प्रशासन से की गुहार

राजस्थान के लोहावट विधानसभा क्षेत्र के एक गांव में दबंगों ने दलित भील समाज का रास्त बंद कर दिया।

राजस्थानः जोधपुर में दबंगों ने रोका दलितों का रास्ता, पीड़ित लोगों ने वीडियो पोस्ट कर प्रशासन से की गुहार
जोधपुर: रास्ता रोके जाने के विरोध में प्रदर्शन करते दलित भील समाज के परिवार। (फोटो सोर्स: @abp_karan)

राजस्थान के जोधपुर में दबंगों द्वारा दलितों का रास्ता रोकने का मामला सामने आया है। मामला जिले के लोहावट विधानसभा क्षेत्र के डेलाना गांव का है। यहां दलित भील समाज के 80 परिवार का रास्ता पिछले कुछ दिनों से दबंगों ने तार लगाकर बंद कर दिया है। भील समाज के लोगों ने रास्ता खुलवाने के लिए पुलिस और प्रशासन से मदद मांगी, लेकिन दंबगों पुलिस-प्रशासन की भी बात पर ध्यान नहीं दिया।

इसके बाद दलित भील समाज के लोगों ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया के माध्यम से पुलिस-प्रशासन और जनप्रतिनिधि से मदद की गुहार लगाई है। वीडियो में दलित भील समाज एक जगह एकत्रित होकर रास्ता खुलवाने के लिए गुहार लगा रहे हैं। उसमें एक युवक पूरी यथास्थिति के बारे में बता रहा है।

वीडियो में एक शख्स कहता हुआ दिखाई दे रहा है कि दबंगों ने तार लगाकर हमारा आना-जाना बंद कर दिया है। हम लोग बुरी तरह से यहां फंस चुके हैं।

रास्ते को लेकर जनप्रतिनिधि वोट बैंक की राजनीति करते हैं, लेकिन हमारी कोई सुनवाई नहीं होती है। सरकार से हमारी अपील है कि वो कार्रवाई करते हुए हम लोगों का आम रास्ता खुलवाए। हमारा रास्ता घर से कुछ ही दूरी पर है। इसी रास्ते के आगे हमारे भीलों की श्मशान भूमि है।

दलित भील समाज के लोगों के कहना है कि उनके घरों में बिजली का कनेक्शन भी नहीं है। रास्ता बंद होने से बच्चे स्कूल नहीं जा पा रहे हैं। साथ ही बुजुर्ग और बच्चों का बीमारी के वक्त उपचार भी नहीं हो पाता है। दलितों ने रास्ता बंद करने का आरोप दबंग खेत मालिकों पर लगाया है। वहीं वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस-प्रशासन हरकत में आया है।

जोधपुर ग्रामीण के एडिशनल एसपी सुनील के पंवार ने जानकारी देते हुए कहा, ‘हमने पुलिस हमने टीम को तत्काल भेजा है। पुलिस टीम मौके पर पहुंच चुकी है। रास्ता खुलवाने की कार्रवाई की जा रही है। बता दें, राजस्थान में दलितों का रास्ता रोके जाने का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी इस तरह के मामले सामने आते रहे हैं।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट