ताज़ा खबर
 

‘हम होंगे कामयाब’, लग्जरी होटल के वेटिंग लॉन्ज में सियासी अंताक्षरी खेल रहे कांग्रेस विधायक, देखें वीडियो

विडियो में गाने से पहले एक विधायक कहते हैं कि हम सबको एक साथ गीत को गाना होगा। इस पर आधा दर्जन से अधिक विधायक हां...हां.. कहते हुए अपनी सहमति व्यक्त करते हैं।

Rajasthan CM, Ashok Gehlot, Rajasthan MLA,इससे पहले गहलोत समर्थक विधायकों के मुगले आजम फिल्म देखने की भी खबर आई थी। (फोटोः वीडियो स्क्रीनशॉट)

राजस्थान में राजनीतिक उठापटक के बीच कांग्रेस विधायकों का अंताक्षरी खेलने का वीडियो सामने आया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समर्थक विधायक जयपुर के होटल फेयरमोंट में ठहरे हुए हैं। वीडियो में कांग्रेसी विधायक ‘हम होंगे कामयाब…हम होंगे कामयाब’ गीत गा रहे हैं। वीडियो में कांग्रेस विधायक बेहद ही रिलैक्स नजर आ रहे हैं। ये लोग एक दूसरे को कॉफी ऑफर कर रहे हैं।

विडियो में गाने से पहले एक विधायक कहते हैं कि हम सबको एक साथ गीत को गाना होगा। इस पर आधा दर्जन से अधिक विधायक हां…हां.. कहते हुए अपनी सहमति व्यक्त करते हैं। वीडियो में विधायक पूरी तरह से लाइट मूड में दिखाई दे रहे हैं। गाने से पहले एक अन्य विधायक यह कहते हुए सुनाई देते हैं कि एक आध मारवाड़ी भी चलेगा। इतना सुनते ही सभी विधायक ठहाके लगाते हैं। हम होंगे कामयाब गीत के साथ विधायक एकजुटता का संदेश देने की कोशिश कर रहे हैं।

इस बीच खबर है कि सीएम अशोक गहलोत ने राज्यपाल कलराज मिश्र से विधानसभा का विशेष सत्र बुलाए जाने की संभावना पर चर्चा की है। ऐसा अनुमान है कि इसी हफ्ते राजस्थान में  विधानसभा का विशेष सत्र आयोजित किया जा सकता है। दूसरी तरफ कांग्रेस विधायक राजेंद्र गुडा का कहना है कि हमारे पास 100 से ज्यादा विधायकों का समर्थन है। अगर हमारे पास बहुमत नहीं होता तो भाजपा फ्लोर टेस्ट की मांग करती। उन्हें पता है कि हमारे पास बहुमत है इसलिए वह फ्लोर टेस्ट के लिए नहीं बोल रहे हैं।

इस संबंध में राजस्थान में विपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया का कहना है कि बीजेपी ने कभी भी फ्लोर टेस्ट की मांग नहीं की थी और अभी भी नहीं कर रहे हैं। हम उनके झगड़े को देख रहे हैं और जब समय सही होगा हम कुछ करेंगे और इस दिशा में चर्चा करेंगे। लेकिन अभी हमें बेवजह इस मामले में घसीटा जा रहा है। मालूम हो कि राजस्थान में 200 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के 107 विधायक हैं जिनमें से 19 असंतुष्ट विधायकों को अध्यक्ष ने अयोग्य करार देने का नोटिस जारी किया है और उन्होंने इसे उच्च न्यायालय में चुनौती दी है।

कांग्रेस ने दावा किया है कि गहलोत सरकार के पास बीटीपी के दो विधायकों समेत 109 विधायकों का समर्थन है। दूसरी तरफ राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के चीफ और एनडीए सहयोगी हनुमान बेनीवाल का कहना है कि वह सचिन पायलट के साथ हैं। यह सरकार गिरेगी। बेनीवाल ने गहलोत सरकार पर फोन टैपिंग कराने का भी आरोप लगाया और इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की। बेनीवाल का यह भी कहना है कि सीएम अशोक गहलोत विधायकों को कैबिनेट मंत्री बनाने का लालच दे रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Delhi Rain: नाले में उफान से किनारे के कई मकान भरभराकर गिरे, झुग्गियों में पानी ही पानी; देखें VIDEO
2 Bihar, Jharkhand Coronavirus HIGHLIGHTS: NMCH के अधीक्षक पद से हटाए गए डॉक्टर निर्मल कुमार सिन्हा, केंद्रीय टीम के सामने राज्य सरकार के खिलाफ बोलना पड़ा भारी
3 बिहार चुनाव से पहले कांग्रेस में बागी सुर: बीच बैठक इस्‍तीफे की पेशकश, राजद से गठबंधन जारी रखने पर भी सवाल
राशिफल
X