ताज़ा खबर
 

सचिन पायलट को लेकर पत्ते नहीं खोल रही भाजपा, कांग्रेस नेता की तरफ से पहल का कर रही इंतजार; जानें क्या है वजह

भाजपा के एक नेता ने कहा कि ऐसा लगता है कि पायलट ने अपना मन बना लिया है और वह गहलोत के नेतृत्व के साथ जाने को तैयार नहीं हैं। वहीं, भाजपा सूत्रों ने इस बारे में कुछ भी कहने से इनकार किया है कि उसकी पायलट से कोई बात हुई है या नहीं।

Author Edited By Anil Kumar नई दिल्ली | Updated: July 13, 2020 9:14 AM
rajasthan govt, CM Ashok Gehlot, Sachin Pilotसचिन पायलट ने कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल होने से इनकार किया है। (फाइल फोटो)

राजस्थान में कांग्रेस सरकार के ऊपर छाए संकट के बादलों पर भारतीय जनता पार्टी “इंतजार करो और देखो” की मुद्रा में है। पार्टी सूत्रों ने रविवार को कहा कि अगली कार्रवाई की योजना पर निर्णय लेने से पहले भाजपा, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच शक्ति प्रदर्शन के परिणाम का इंतजार करेगी।

राजस्थान में कांग्रेस सरकार के संकट को लेकर भाजपा में भी बैठकों का दौर जारी है। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान में रविवार शाम को इस मुद्दे पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से बातचीत की। मालूम हो कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को भाजपा में शामिल कराने में भी प्रधान ने अहम भूमिका अदा की थी। वहीं, भाजपा के नेताओं को भी राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के पार्टी में शामिल होने को लेकर कोई विरोध नहीं है।

राजस्थान से भाजपा के एक सांसद ने कहा कि सचिन पायलट को लेकर गहलोत खेमे से उनकी छवि खराब करने को लेकर अफवाहें फैलाई जा रही हैं। वहीं, एक अन्य सांसद ने कहा कि गहलोत राज्य सरकार में  सचिन पायलट की स्थिति को कमजोर करना चाहते हैं। इससे पहले गहलोत ने सोमवार को कांग्रेस विधायकों की बैठक बुलाई है जिसमें इस बात के स्पष्ट संकेत मिलने की उम्मीद है कि गहलोत और पायलट को कितने विधायकों का समर्थन प्राप्त है।

माना जा रहा है कि राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष पायलट भाजपा के कुछ नेताओं के संपर्क में हैं लेकिन भाजपा सूत्रों ने इस बारे में कुछ भी कहने से इनकार किया है कि उसकी पायलट से कोई बात हुई है या नहीं।

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पायलट अभी दिल्ली में हैं और उन्होंने खुले तौर पर पार्टी के खिलाफ असंतोष प्रकट किया है। पायलट का दावा है कि उन्हें कांग्रेस के 30 विधायकों और कुछ अन्य निर्दलीय सदस्यों का समर्थन प्राप्त है। भाजपा के एक नेता ने कहा कि ऐसा लगता है कि पायलट ने अपना मन बना लिया है और वह गहलोत के नेतृत्व के साथ जाने को तैयार नहीं हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 रोजी-रोटी के लिए फिर दिल्ली लौट रहे प्रवासी मजदूर लेकिन अनलॉक होने के बावजूद नहीं मिल रहा काम, मजदूरों ने बयां किया दर्द
2 मध्यप्रदेश उपचुनाव से पहले कांग्रेस की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, भाजपा के संपर्क में पार्टी के 6 विधायक
3 बेड के लिए किया घंटों इंतजार, अस्पताल के बाहर कोरोना संक्रमित 41 वर्षीय महिला ने तोड़ा दम
ये पढ़ा क्या?
X