ताज़ा खबर
 

राजस्थान में बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, केंद्र के बाद CM गहलोत ने भी बढ़ाया टैक्स, कहा- चुनाव जीतने के लिए BJP ने किया था कम

राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर 4 फीसदी वैट बढ़ा दिया। राजस्थान सरकार के फैसले से राज्य के लोगों को 4 से 4 रूपए 59 पैसे तक अधिक देने होंगे।

Author जयपुर | July 6, 2019 5:03 PM
मोदी और गेहलोत (फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस)

Union Budget 2019 Petrol Diesel Price: लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत के बाद नरेंद्र मोदी सरकार ने शुक्रवार को अपना बजट पेश किया। जिसमें उन्होंने पेट्रोल-डीजल पर एक रूपए प्रति लीटर सेस लगाने और उत्पाद शुल्क बढ़ाने की घोषणा की। मोदी सरकार के इस कदम के फौरन बाद राजस्थान (Rajasthan) की अशोक गहलोत सरकार ने भी पेट्रोल-डीजल पर 4 फीसदी वैट बढ़ा दिया। ऐसे में जहां केंद्र सरकार के फैसले से देश के लोगों को पेट्रोल-डीजल भरवाना 2 से 2.50 रुपए महंगा होगा तो वहीं राजस्थान सरकार के फैसले से राज्य के लोगों को 4 से 4 रूपए 59 पैसे अधिक देने होंगे। इस फैसले पर बोलते हुए सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि हमने बीजेपी की गलती को सुधारा है और हमारा फैसला सही है।

क्या बोले गहलोत: राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि पेट्रोल-डीजल पर चार फीसदी टैक्स पहले भी लगता था। लेकिन पिछली बीजेपी सरकार ने चुनाव जीतने के लिए इसको हटा दिया था। इसलिए हमने फिर से इसको (टैक्स) लगाकर के बीजेपी की गलती को सुधारा है और हमारा फैसला सही है। केंद्र ने भी इसे कई बार बढ़ाया है। गौरतलब है कि पेट्रोल डीजल पर टैक्स बढ़ाने पर इनके दामों में भी बढ़ोत्तरी हुई है। सबसे ज्यादा कांग्रेस शासित राज्य राजस्थान और मध्य प्रदेश में इनकी कीमतों में उछाल देखने को मिला है। दोनों राज्यों में पेट्रोल पर चार रुपए प्रति लीटर से ज्यादा की बढ़ोतरी देखने को मिली है। बताया जा रहा है कि राजस्थान में इस समय पेट्रोल 75.89 रुपए और मध्य प्रदेश में 78.16 रुपए का हो गया है।

पेट्रोल के साथ-साथ डीजल की कीमतों में भी बढ़ोतरी देखने को मिली है। राजस्थान में डीजल जहां 4.59 रुपए बढ़कर 71.35 रुपए प्रति लीटर हो गया तो वहीं मध्य प्रदेश में 4.43 रुपए बढ़कर 70.09 रुपए प्रति लीटर हो गया है। बता दें कि कल ही मोदी सरकार-2 ने बजट पेश करते हुए पेट्रोल-डीजल पर अतरिक्त कर लगाया था। जिसके बाद राजस्थान में भी इसपर वैट बढ़ा दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App