ताज़ा खबर
 

राजस्थानः राजनीतिक संकट के बीच संगीत की धुन पर ताली बजाने लगे CM अशोक गहलोत, देखें VIDEO

बता दें कि राजस्थान कांग्रेस ने 'लोकतंत्र बचाओ-संविधान बचाओ' कार्यक्रम के तहत राज भवन के सामने प्रदर्शन के आह्वान को रविवार को वापस ले लिया था।

जयपुर | Updated: July 27, 2020 3:13 PM
जयपुरः ‘लोकतंत्र बचाओ, संविधान बचाओ’ नारे के तहत जयपुर के एक होटल में आयोजित प्रार्थना सभा के दौरान राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत। (फोटोः पीटीआई)

राजस्थान के Congress विधायकों ने ‘लोकतंत्र बचाओ-संविधान बचाओ’ कार्यक्रम के तहत सोमवार को एक प्रार्थना सभा में हिस्सा लिया। सूबे के सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस सभा में संगीत की धुन पर ताली बजाते दिखे। उनके साथ बैठे और लोग भी इस दौरान धीमे-धीमे ताली बजा रहे थे।

यह कार्यक्रम उसी होटल में हुई, जिसमें गहलोत सरकार के समर्थक कांग्रेस, निर्दलीय और अन्य विधायक ठहरे हैं। प्रार्थना सभा में सीएम के साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता अविनाश पांडे और अजय माकन ने भी उपस्थित रहे।

आपको बता दें कि राजस्थान कांग्रेस ने ‘लोकतंत्र बचाओ-संविधान बचाओ’ कार्यक्रम के तहत राज भवन के सामने प्रदर्शन के आह्वान को रविवार को वापस ले लिया था। देखें, VIDEO:

राजस्थान के घटनाक्रम को लेकर कांग्रेस का दिल्ली में प्रदर्शन, कई नेता हिरासत मेंः कांग्रेस की दिल्ली इकाई के कई नेताओं और कार्यकर्ताओं ने राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार को गिराने के भाजपा के कथित प्रयास के खिलाफ सोमवार को यहां प्रदर्शन किया। हालांकि, इन लोगों को पुलिस ने उस वक्त हिरासत में ले लिया जब इन्होंने उप राज्यपाल के कार्यालय की तरफ बढ़ने की कोशिश की। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार के नेतृत्व में पार्टी के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया।

कुमार ने कहा कि यह विरोध प्रदर्शन राजस्थान में भाजपा के ‘लोकतंत्र एवं संविधान विरोधी कदमों’ के खिलाफ था। उन्होंने कहा, ‘‘हम उप राज्यपाल महोदय को बताना चाह रहे थे कि भाजपा और केंद्र की उसकी सरकार किस तरह से राजस्थान में लोकतंत्र की हत्या कर रही हैं। परंतु, दिल्ली पुलिस ने हमें उप राज्यपाल के कार्यालय की तरफ बढ़ने से पहले ही रोक दिया है।’’

3 पूर्व कानून मंत्रियों ने राज्यपाल से कहा- सत्र न बुलाने से संवैधानिक संकट पैदा होगाः संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार में कानून मंत्री रहे कांग्रेस के तीन वरिष्ठ नेताओं कपिल सिब्बल, सलमान खुर्शीद और अश्वनी कुमार ने सोमवार को राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र को पत्र लिखकर आग्रह किया कि वह अशोक गहलोत मंत्रिमंडल की अनुशंसा पर विधानसभा सत्र बुलाएं क्योंकि ऐसा नहीं करने से संवैधानिक संकट पैदा होगा।

तीनों ने इस सत्र में यह भी कहा कि राज्यपाल की तरफ से सत्र बुलाने में विलंब करने से राजस्थान में एक ऐसा संवैधानिक गतिरोध पैदा हो गया है जिसे पहले ही टाला जा सकता था। उन्होंने 2016 के ‘नबाम रेबिया मामले’ और 1974 के ‘शमशेर सिंह बनाम भारत सरकार’ मामले में उच्चतम न्यायालय के निर्णय का हवाला देते हुए कहा, ‘‘ राज्यपाल मंत्रिपरिषद की सलाह पर विधानसभा सत्र बुलाने को बाध्य हैं।’’

Next Stories
1 बिहार में लगातार दूसरे दिन फूटा कोरोना बम; 2 हजार से ज्यादा आए नए केस, 41 हजार के पार पहुंची संक्रमितों की संख्या
2 बेड से गिरा COVID-19 मरीज, ऑक्सीजन सप्लाई हुई बंद, तड़प-तड़पकर मौत
3 बुजुर्ग पति को घसीट कर चढ़ाने की कोशिश करती रही पत्नी, एंबुलेंस में सवार नहीं हो पाने से गयी कोरोना संक्रमित की जान
ये पढ़ा क्या?
X