ताज़ा खबर
 

राजस्थानः CM बोले- BJP में बड़ी फूट, डोटासरा ने कहा- षडयंत्र विफल होगा; गुजरात गए 6 भाजपा MLA अज्ञात स्थान को रवाना

राजस्थान में 14 अगस्त से विधानसभा सत्र शुरू होना है, इससे पहले ही सीएम अशोक गहलोत और कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि हमारी सरकार पूरे 5 साल चलेगी।

जयपुर | Updated: August 9, 2020 9:58 PM
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः रोहित जैन पारस)

राजस्थान में जारी सियासी सरगर्मी के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भाजपा पर निशाना साधा है। गहलोत ने कहा कि भाजपा के लोग देश में लोकतंत्र को कमजोर कर रहे हैं। इसे देश और प्रदेश की जनता बर्दाश्त नहीं करेगी। जैसलमेर में मीडिया से बातचीत के दौरान भाजपा विधायकों को गुजरात ले जाने के सवाल पर गहलोत ने कहा, “भाजपा में वो क्या करते हैं, उससे मुझे कोई मतलब नहीं। सरकार में तो हम लोग हैं, खरीद फरोख्त हो रही थी, इसलिए हमें विधायकों को एकसाथ रोकना पड़ा। पर बीजेपी के विधायकों को किस बात की चिंता है, वो लोग बाड़ेबंदी कर रहे हैं तीन-चार जगह पर, वो भी चुन-चुनकर के, उनमें इतनी बड़ी फूट पड़ गई दिखती है।”

उन्होंने आगे कहा, “हमारी खुद की प्रतिबद्धता है कि कभी नहीं करना चाहिए तो हमारी सरकार कैसे कर सकती है। ऐसा सोशल मीडिया पर चला गया कि पता नहीं हमारे खुद के विधायकों पर विश्वास ना हो.. यह षडयंत्र का हिस्सा है.. षडयंत्र के किरदार में जो जो लोग शामिल हैं वो सब मिलकर जनता को गुमराह करने का काम कर रहे है।”

उन्होंने कहा, “राज्य में सरकार को अस्थिर करने की इन घटनाओं को लेकर आज घर-घर में गुस्सा है, यह भाजपा के नेताओं के लिये और उन नेताओं के लिये है जो हमारी पार्टी के थे और चले गये। मैं समझता हूं कि वो खुद समझ रहे होंगे। अधिकांश लोग वापस आ जायेंगे हमारे साथ।”

विधायकों के फोन टैपिंग के सवाल पर गहलोत ने कहा, “एक भी विधायक का चाहे एमएलए हो या एमपी हो किसी का भी कोई टेलीफोन टैप करने का सवाल ही पैदा नहीं होता है सरकार कर भी नहीं सकती और ना ही करना चाहिए।” उन्होंने कहा, “विजय हमारी होगी। अंतिम विजय सरकार की होगी। सरकार पूरे पांच साल निकालेगी। जमकर सेवा करेगी जनता अपेक्षा करती है.. आशा करती है उसको मैं पूरा करूंगा।”

कांग्रेस ने लोकतंत्र को 70 साल बचाकर रखा: गहलोत ने कहा कि लोकतंत्र को 70 साल हमने बचाकर रखा है, सरकारें आई भी हैं, गई भी हैं। इंदिरा गांधी जैसी महान नेता चुनाव हार गई थीं, पुनः जनता ने उनको सत्ता सौंप दी ढाई साल के अंदर। राजीव गांधी जी शहीद हो गए, वाजपेयी जी के वक्त में देखा आपने, वो खुद बार-बार कहते थे कि लोकतंत्र हमारे लिए सर्वोपरि होनी चाहिए, लोकतंत्र की रक्षा होनी चाहिए। पर आज जिस प्रकार का हमला लोकतंत्र पर हो रहा है और एक के बाद एक, जहां जहां पर कांग्रेस की सरकारें हैं वहां पर षडयंत्र करके सरकारें बदली गईं। यह दुर्भाग्य है देश का।”

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष बोले- सरकार पूरे पांच साल चलेगी: दूसरी तरफ राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने रविवार को कहा कि राजस्थान में सरकार पूरे पांच साल चलेगी। इसमें कोई दिक्कत वाली बात नहीं है। ये (भाजपा) केवल षडयंत्र रच रहे है, लेकिन ये राजस्थान में सफल नहीं होंगे।

वहीं केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के विधायकों के फोन टैपिंग के आरोपों पर हर चुना हुआ जनप्रतिनिधि जो हमें समर्थन दे रहा है चाहे वो निर्दलीय हो, चाहे बीटीपी हो चाहे कांग्रेस के लोग हो वो अपनी पूरी स्वतंत्रता के साथ रह रहे हैं और इसलिये रह रहे है कि राजस्थान की सरकार को पांच साल के लिये जनाधार दिया गया है। पांच साल यह सरकार चलेगी। षडयंत्र और धनबल के आधार पर इस सरकार को नहीं गिरा सकते।

विधानसभा सत्र से पहले भाजपा विधायक गुजरात पहुंचे: गौरतलब है कि राजस्थान में 14 अगस्त से शुरू होने वाले महत्वपूर्ण विधानसभा सत्र से पहले गुजरात पहुंचे राजस्थान भाजपा के छह विधायक शनिवार देर रात किसी अज्ञात स्थान के लिए रवाना हो गए। छह विधायक शनिवार शाम में पोरबंदर से सोमनाथ पहुंचे थे। उनमें से एक विधायक ने संवाददाताओं से कहा था कि राजस्थान में कांग्रेस सरकार विपक्षी विधायकों को ‘प्रताड़ित’ कर रही है और वे मानिसक शांति के लिए सोमनाथ की तीर्थयात्रा पर आये हैं। सूत्रों के मुताबिक, छह विधायक- निर्मल कुमावत, गोपीचंद मीणा, जब्बार सिंह सांखला, धरमवीर मोची, गोपाल लाल शर्मा और गुरुदीप सिंह शाहपीनी स्थानीय भाजपा नेताओं के साथ कल देर रात दो से तीन बजे के बीच अतिथि-गृह से किसी अज्ञात स्थान के लिए निकल गए।

Next Stories
1 बाढ़ से बिहार के 16 जिलों की 75 लाख आबादी प्रभावित, देशभर से स्वयंसेवी संस्थाओं ने बढ़ाए मदद के हाथ
2 महाराष्ट्र सरकार को अस्थिर करने की हो रही कोशिश, बिहार से लेकर दिल्ली तक रची जा रही साजिश, शिवसेना सांसद ने जताया रंज
3 मुस्लिम युवक ने हिन्दू रीति-रिवाज से किया लावारिस शवों का अंतिम संस्कार, गुजरात में चक्रवाती कहर से लेकर भुज में भूकंप के कोहराम के बीच करते रहे हैं सेवा
ये पढ़ा क्या?
X