ताज़ा खबर
 

अफसर का आरोप: बीजेपी विधायक ने धमकाया- थप्पड़ मारा तो पैंट में पेशाब कर दोगे

किसानों ने जब कहा कि खरीद प्रकिया में अनियमितताएं बरती गई तो विधायक अपना आपा खो बैठे और उन्होंने संबंधित अधिकारी तो बुला भेजा। पनवार के पहुंचने तक विधायक इंतजार करते रहे। मीडिया में आए एक वीडियो में राजावत पनवार को थप्पड़ मारने की धमकी देते हुए दिखाई देते हैं।

राजस्थान के लाडपुरा से बीजेपी विधायक भवानी सिंह राजावत। (Image Source: facebook/@mlabhawanisinghrajawat)

राजस्थान के कोटा की लाडपुरा विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक भवानी सिंह राजावत पर आरोप लगा है कि उन्होंने एक अधिकारी को थप्पड़ मारने की धमकी दी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राजस्थान राज्य सहकारी विपणन संघ लिमिटेड के डिप्टी रजिस्ट्रार अजय सिंह पनवार को विधायक भवानी सिंह राजावत ने कथित तौर पर धमकाया। विधायक ने अधिकारी से कथित तौर पर कहा, ”अगर एक थप्पड़ मारा तो पैंट में पेशाब कर दोगे।” स्थानीय मीडिया के मुताबिक राजावत भामाशाह मंडी में खरीद की गई उड़द दाल के भंडार के बारे में जानने के लिए पहुंचे थे। किसानों ने जब कहा कि खरीद प्रकिया में अनियमितताएं बरती गई तो विधायक अपना आपा खो बैठे और उन्होंने संबंधित अधिकारी तो बुला भेजा। पनवार के पहुंचने तक विधायक इंतजार करते रहे। मीडिया में आए एक वीडियो में राजावत पनवार को थप्पड़ मारने की धमकी देते हुए दिखाई देते हैं।

विधायक ने कहा, 1,11,000 क्विंटल उड़द की दाल मंडी पहुंची थी, अब तक केवल 100 क्विंटल दाल खरीदी गई। उन्होंने अधिकारी को खरीद प्रकिया में तेजी लाने का निर्देश दिया। बाद में मीडिया से बात करते हुए राजावत ने कहा कि उन्होंने पनवार को डाटा क्योंकि अधिकारियों के रूखेपन के चलते किसान भारी नुकसान उठा रहे हैं। उन्होंने कहा, ”मैं किसानों के लिए अपनी आवाज उठाता रहूंगा।”

भवानी सिंह राजावत ने 2008 के विधानसभा चुनाव में भी जीत हासिल की थी। 2011 में राजावत को विधानसभा में कांग्रेस विधायक रघु शर्मा पर जूता फेंकने के चलते एक वर्ष के लिए सस्पेंड होना पड़ा था। राजस्थान में अब एक बार फिर विधानसभा चुनाव करीब हैं। राज्य में 7 दिसंबर को मतदान होगा। राजावत के कथित बिगड़े बोल ऐसे समय सामने आए हैं जब सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी राज्य में अगले एक और कार्यकाल की उम्मीद करते हुए कांग्रेस को साध रही है और वोटरों को लुभाने की कोशिश कर रही है। वहीं, चुनावी मौसम में कांग्रेस के लिए राजावत के कथित बिगड़े बोल बीजेपी के खिलाफ माहौल बनाने में हथियार साबित हो सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App