ताज़ा खबर
 

राजस्थान: हिंदुओं से मिली धमकी तो मुस्लिम परिवारों ने छोड़ा गांव, पुलिस सुरक्षा में रह रहे हैं 200 मुस्लिम

पुलिस का कहना है कि गांव लौट जाने के लिए हम लोग मुस्लिम परिवारों को मना रहे हैं।
यह स्थिति एक लोक गायक की हत्या के बाद पैदा हुई है।

राजस्थान के जैसलमेर जिले के एक गांव में करीब 20 मुस्लिम परिवारों को गांव छोड़कर जाने के लिए मजबूर किए जाने का मामला सामना आया है। एक लोक गायक की हत्या के बाद हिंदू उच्च जाति के लोगों की तरफ से धमकी मिलने के बाद इन परिवारों को गांव छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा। जिले के दांतल गांव के रहने वाले करीब 200 मुस्लिम पास के बलाड़ गांव में अपने रिश्तेदारों के घर में पुलिस सुरक्षा में रहे रहे हैं।

अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि 27 सितंबर को गांव में एक धार्मिक समारोह आयोजित करवाया गया था। जिसमें आमद खान नाम का लोक गायक भजन गा रहा था। एक श्रद्धालु रमेश सुथार ने एक विशेष भजन गाने की फरमाइश की, ताकि उसके अंदर देवी आ सके। लेकिन उसके अंदर देवी आई नहीं तो उसने गायक खान पर आरोप लगाया कि उसने धीमे भजन गाया है, जिसकी वजह से देवी नहीं आई। उसके बाद उसने गायक का वाद्य यंत्र तोड़ दिए और उसके साथ मारपीट की। साथ ही आरोप लगाया गया है कि सुथार ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर खान को उसी रात उसके घर से उठा लिया। जिसके बाद उसका शव घर के बाहर मिला था।

हिंदू समुदाय के लोगों ने कथित तौर पर खान परिवार को शिकायत दर्ज ना कराने की धमकी दी। जिसके बाद परिवार वालों ने उसे चुपचाप दफना दिया। उसके बाद उनके रिश्तेदारों ने शिकायत दर्ज कराने के लिए कहा। जब हत्या की शिकायत दर्ज कराई गई तो गांव की ऊंची जाति के लोगों ने मुस्लिमों को गांव छोड़कर चले जाने के लिए कहा। गायक खान के भाई सुगे खान के हवाले से एचटी ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है, ‘उन्होंने हमें धमकी दी कि अगर हमने गांव नहीं छोड़ा तो वे लोग हमें भी मार देंगे। उसके बाद करीब 20 परिवार के 200 लोगों ने गांव छोड़ दिया और पास के बलाड़ गांव में हमारे रिश्तेदार के घर शरण ली।’

जैसलमेर के एसपी गौरव यादव का कहना है कि वे लोग मुस्लिमों को वापस गांव लौट जाने के लिए मना रहे हैं। रिपोर्ट में यादव के हवाले से लिखा है, ‘हमने उन लोगों को पूरी सुरक्षा देने का भरोसा दिया है, अगर वे लोग वापस लौट जाते हैं तो। हम लोगों ने गांव के बड़े लोगों से भी बात की है कि अगर उन्होंने मुस्लिमों को धमकाया तो मामला दर्ज किया जाएगा।’ पुलिस ने रमेश को 4 अक्टूबर को गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन उसके दो साथी अभी भी फरार हैं। खान के शव को कब्र से बाहर निकालकर पोस्टमार्टम करवाया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. H
    Hindu
    Oct 7, 2017 at 6:56 am
    थिस मई हैवे बीन थे दोंग ऑफ़ कांग्रेस तो लय ब्लामे ों बीजेपी सर्कार.
    (0)(0)
    Reply
    1. Siddharth Shanker
      Oct 6, 2017 at 11:20 pm
      Jo hota hai woh acche ke liye hota hai.
      (0)(4)
      Reply
      1. S
        sameer
        Oct 7, 2017 at 8:23 am
        I m sure one day your sister will be raped and then u say that jo hua acche ke liye huaaa... U bloody mother er....
        (4)(0)
        Reply