ताज़ा खबर
 

पंजाब में अकालियों के संरक्षण में चल रहा है ‘नशे का कारोबार’: राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा, ‘कांग्रेस के सत्ता में आने पर प्रदेश में नशे के कारोबार को रोकने के लिए नया कानून बनाया जाएगा।'
Author जालंधर | June 13, 2016 19:39 pm
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के साथ पंजाब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अमरिन्दर सिंह। (पीटीआई फोटो)

पंजाब में सत्तारूढ़ शिरोमणि अकाली दल के नेताओं पर नशे के कारोबार को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार (13 जून) को यहां कहा कि प्रदेश में केवल एक ही प्रकार का व्यापार करने में आसानी है और वह है ‘नशे का कारोबार।’ साथ ही राहुल गांधी ने प्रदेश के लोगों को आश्वासन दिया कि यदि 2017 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस सत्ता में आती है तो वह ना सिर्फ नशे के कारोबार पर रोक के लिए कानून बनाएगी बल्कि इससे अवैध धन कमाने वालों से पूरा पैसा भी वसूल करेगी।

पंजाब की बिगड़ती कानून व्यवस्था और नशे की बढ़ती समस्या पर प्रदेश कांग्रेस की ओर से यहां आयोजित धरना प्रदर्शन में हिस्सा लेने आये कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘पंजाब में केवल एक व्यापार हो सकता है। वह है नशे का कारोबार। यह व्यापार यहां सत्तारूढ अकाली दल के नेताओं के संरक्षण में खूब फलफूल रहा है।’ कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘सत्तारूढ़ नेताओं के इस कारोबार से पंजाब बर्बाद हो चुका है, क्योंकि पूरी युवा पीढ़ी नशे की चपेट में है। इससे न केवल युवा वर्ग बल्कि पूरा प्रदेश इस नशे के गर्त में समा रहा है। इससे पंजाब को बचाना होगा। सत्ता में आने पर कांग्रेस पार्टी निश्चित तौर पर पंजाब को बचाने के लिए नशे के खिलाफ संघर्ष शुरू करेगी।’

उन्होंने कहा, ‘किसानों की लड़ाई लड़ने के लिए मैं भट्टा परसौल गया था। वहां जाने के लिए मीडिया और राजनीति के लोगों ने मेरी आलोचना की थी। मैं कहना चहता हूं कि जिस तरह की लड़ाई मैने भट्टा परसौल में किसानों के लिए लड़ी थी, वैसी ही लड़ाई प्रदेश को बचाने के लिए, युवाओं को बचाने के लिए तथा किसानों को बचाने के लिए हम पंजाब में भी लड़ेंगे।’ राहुल गांधी ने कहा, ‘प्रदेश को नशे से बचाना है तो पुलिस को छूट देनी होगी। लेकिन यह काम यहां की अकाली दल की सरकार नहीं कर सकती। सरकार अच्छे पुलिस अधिकारियों के हाथ बांधे हुए है और बुरे पुलिस अधिकारियों को छूट दे रही है क्योंकि उनका मकसद केवल नशे के कारोबार और अपराध को बढ़ावा देना है।’

उन्होंने कहा, ‘चार साल पहले जब मैं पंजाब आया था और नशे की समस्या पर बात की। मैनें सरकार से कहा था कि नशे की समस्या विकाराल हो चुकी है इसे समाप्त करने के लिए ठोस कारर्रवाई जरूरी है। इस पर सुखबीर बादलजी ने मेरा मजाक उड़ाया था और कहा था कि यहां नशे की समस्या नहीं है और पंजाब को बदनाम किया जा रहा है।’ उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस के सत्ता में आने पर हम इस लड़ाई को लड़ेंगे। हम आपके साथ हैं। आपके सामने एक विशालकाय दुश्मन खड़ा है। पंजाब के बेहरत भविष्य के लिए हम सबको मिल कर इस दुश्मन से लड़ना होगा।’

उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस के सत्ता में आने पर प्रदेश में नशे के कारोबार को रोकने के लिए नया कानून बनाया जाएगा। इतना ही नहीं, इसमें यह भी व्यवस्था होगी कि नशे के तस्करों से वह पैसा वापस लिया जाए जो उन्होंने नशा बेचकर कमाया है। वह पैसा पीड़ितों को वापस दिया जाएगा।’ राहुल ने कहा, ‘पंजाब में एक तरफ जहां नशे की समस्या है वहीं दूसरी ओर बेरोजगारी और कानून व्यवस्था की समस्या है। हालांकि, यहां की पुलिस अक्षम नहीं है, वह लाचार है। जिसे काम नहीं करने दिया जा रहा है।’ उन्होंने कहा कि पंजाब के लोगों की इस समस्या और किसानों के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उनकी लड़ाई जारी रहेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.