ताज़ा खबर
 

पश्चिम बंगाल: सरकारी स्कूल के एग्जाम में सवाल- जय श्रीराम के नारे से होने वाले दुष्प्रभाव बताएं, कट मनी पर भी क्वेश्चन

हुगली जिले के सरकारी स्कूलों में 10वीं के बच्चों से बंगाली भाषा के एग्जाम में सवाल पूछा गया कि जय श्रीराम के नारे से समाज पर क्या दुष्प्रभाव पड़ रहा है? साथ ही, यह भी सवाल है कि कट मनी लौटाने से लोगों को क्या फायदा हो रहा है?

प्रतीकात्मक तस्वीर

जय श्रीराम का नारा और कट मानी लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान अहम मुद्दे बन गए थे, जिन्होंने पश्चिम बंगाल की राजनीति में भूचाल ला दिया। हालांकि, अब ये दोनों मुद्दे पश्चिम बंगाल के सरकारी स्कूलों में एग्जाम के दौरान भी पूछे जा रहे हैं। दरअसल, पश्चिम बंगाल के हुगली जिले के सरकारी स्कूलों में 10वीं के एग्जाम चल रहे हैं। कोलकाता से करीब 55 किलोमीटर दूर स्थित अकना यूनियन हाईस्कूल में बच्चों को प्रश्न पत्र में ऐसे 2 सवाल मिले, जिन्होंने उन्हें हैरान कर दिया। पहला सवाल था, ‘‘जय श्रीराम के नारे से समाज पर क्या दुष्प्रभाव पड़ रहा है?’’ वहीं, दूसरे सवाल में पूछा गया, ‘‘कट मनी लौटाने से लोगों को क्या फायदा हो रहा है?’’

5 अगस्त को हुई थी परीक्षा: जानकारी के मुताबिक, 10वीं की यह परीक्षा 5 अगस्त को हुई थी। इसमें स्टूडेंट्स से 2 में से एक टॉपिक पर ‘अखबार के लिए रिपोर्ट’ लिखने को कहा गया। पहला सवाल ‘जय श्रीराम के नारे का समाज पर दुष्प्रभाव’ था और दूसरा सवाल ‘कट मनी के पैसे लौटाकर भ्रष्टाचार रोकने के लिए सरकार का साहसिक कदम’ से संबंधित था।

National Hindi News, 09 August 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

बीजेपी पर निशाना साधने की कोशिश: जानकारों का कहना है कि परीक्षा में यह सवाल पूछने का सीधा मतलब चुनावी रैलियों में बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा लगाए गए जय श्री राम के नारे को लेकर है। बता दें कि इस मामले में जय श्रीराम से सीएम ममता बनर्जी का अभिवादन करने पर भी विवाद हुआ था। इसके बाद सीएम ने घोषणा की थी कि उनकी पार्टी ‘जय हिंद’ और ‘जय बंगला’ के नारे से बीजेपी के नारे का विरोध करेगी।

Bihar News Today, 09 August 2019: बिहार से जुड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

कट मनी पर इमेज सुधारने का प्रयास: इसके अलावा कट मनी पर पूछे गए सवाल का मकसद ममता बनर्जी सरकार की इमेज सुधारने को लेकर माना जा रहा है। बता दें कि पश्चिम बंगाल में सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए टीएमसी कार्यकर्ताओं पर कमीशन लेने का आरोप है। बीजेपी ने लोकसभा चुनाव के दौरान यह मुद्दा उठाया तो ममता बनर्जी ने लोगों से लिया गया पैसा लौटाने का ऐलान किया था।

स्कूल लेगा यह एक्शन: स्कूल के हेडमास्टर रोहित पायने ने बताया, ‘‘इस मामले में कोई शिकायत नहीं मिली है, लेकिन हम इस पर एक्शन जरूर लेंगे। हमने इन दोनों सवालों को रद्द करने का फैसला किया है। अगर किसी स्टूडेंट ने इसका जवाब दिया है तो उसे पूरे नंबर दिए जाएंगे। वहीं, यह एग्जाम पेपर तैयार करने वाले बंगाली टीचर ने माफी मांग ली है।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bihar News Today 09 August 2019: बिहार पुलिस में बंपर भर्तियां, दरोगा और और सिपाही के पद भरे जाएंगे 
2 मध्य प्रदेशः खतरे के निशान से ऊपर बह रही नर्मदा, बाढ़ जैसे हालात, 100 लोग सुरक्षित स्थान पर पहुंचाए गए
3 वडोदराः नदी का जल स्तर बढ़ने पर आवासीय क्षेत्रों में आ गए थे मगरमच्छ, 22 रेस्क्यू किए गए
IPL 2020 LIVE
X