ताज़ा खबर
 

पंजाब में कोरोना से मौतों पर बोले स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री- हमारे यहां खाना-पीना अच्छा, कम एक्सरसाइज से हालात बिगड़े

"बलबीर सिंह सिद्धू से कहा फिलहाल हमारे पास टीका खत्म हो चुका है। केवल दो दिन का स्टाक है। देश की हालात की चिंता सबको होनी चाहिए। हमारे सीएम, डॉक्टर, फ्रंटलाइन वर्कर सब लोग मेहनत कर रहे हैं।"

Punjab, Covid-19पंजाब के मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह। (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस।)

देश में लगातार बढ़ते कोरोना को लेकर लोगों के साथ-साथ राजनेताओं की भी चिंता बढ़ने लगी है। केंद्र और राज्य सरकारों में लॉक डाउन लगाने या न लगाने को लेकर लगातार मंथन चल रहा है। कोरोना वायरस वैक्सीन की कमी से बेचैनी और बढ़ती जा रही है। लोगों में भी जबरदस्त नाराजगी है। टेलीविजन चैनल रिपब्लिक भारत में एंकर ऐश्वर्य कपूर से बात करते हुए पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा कि हमारे यहां खाना-पीना अच्छा है। लोगों के कम एक्सरसाइज करने से हालात बिगड़ रहे हैं।

एंकर ऐश्वर्य कपूर ने स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू से कहा कि यह समय कांग्रेस-बीजेपी करने का नहीं है। देश की जनता को बचाना है। आप बताइए कि पंजाब में क्या हाल है। इस पर स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा, “महाराष्ट्र के बाद पंजाब दूसरा राज्य है जहां स्थिति काफी गंभीर है। सेंटर का रोल पिता के समान होता है। उसे सभी राज्यों को बराबर समझना चाहिए। हम रोजाना 50 हजार की टेस्टिंग कर रहे हैं और 50 हजार का सैंपलिंग कर रहे हैं। फिलहाल हमारे पास टीका खत्म हो चुका है। केवल दो दिन का स्टाक है। देश की हालात की चिंता सबको होनी चाहिए। हमारे सीएम, डॉक्टर, फ्रंटलाइन वर्कर सब लोग मेहनत कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “हमारे पास जो लोग देर से आते हैं, वे गंभीर हो चुके होते हैं। हमारे राज्य में कई लोग हार्ट, किडनी, दमा जैसी कई बीमारियों से ग्रस्त हैं। हमारा राज्य स्वस्थ और मजबूत लोगों वाला माना जाता है, लेकिन अभी जो लाइफस्टाइल है, उसमें लोग एक्सरसाइज नहीं कर रहे हैं। इससे वे गंभीर रूप से परेशान हैं।”

इस बीच सरकार ने बुधवार को कहा कि उसने रेमडेसिविर की विनिर्माण क्षमता बढ़ाने की मंजूरी दे दी है। इसके तहत उत्पादन प्रति माह लगभग 78 लाख शीशी तक बढ़ायी जायेगी। रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय ने एक बयान में कहा, रेमडेसिविर के सात निर्माताओं की वर्तमान कुल स्थापित क्षमता 38.80 लाख शीशी प्रतिमाह की है।

मंत्रालय ने कहा, “छह विनिर्माताओं को 10 लाख शीशी प्रति माह की उत्पादन क्षमता वाले सात अतिरिक्त साइटों के लिए त्वरित मार्ग से स्वीकृति दी गई है। 30 लाख शीशी प्रति माह का उत्पादन भी शुरू होने वाला है। इससे विनिर्माण की उत्पादन क्षमता लगभग 78 लाख शीशी प्रति माह हो जाएगी।”

बयान में कहा गया है कि रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने रेमडेसिविर की उपलब्धता के मुद्दे की समीक्षा सभी विनिर्माताओं एवं अन्य अंशधारकों के साथ हुई बैठक में की। बैठक में रेमडेसिविर का उत्पादन व आपूर्ति बढ़ाने और कीमतों को कम करने के बारे में फैसले लिए गए।

Next Stories
1 चुनाव आयोग ने पंजाब विधानसभा चुनाव की तैयारियां शुरू कीं
2 पंकज शर्मा : खोज निकाले तीन क्षुद्र ग्रह
यह पढ़ा क्या?
X