ताज़ा खबर
 

बठिंडा: जहरीली धुंध के चलते ट्रक ने 9 बच्चों सहित 10 की जान ली

बठिंडा और आसपासके कई छात्र निजी बसों में अपने स्कूल और कोचिंग सेंटर जाते हैं। ये विद्यार्थी बुधवार सुबह एक बस से अपने-अपने स्कूल और कोचिंग सेंंटर जा रहे थे।

Author चंडीगढ़   | November 9, 2017 4:54 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर। (ANI Photo)

पंजाब में जहरीली धुंध के कारण हो रहे सड़क हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। बुधवार को बठिंडा जिले में कस्बा भुच्चो मंडी में कई वाहन आपस में टकराए और सीमेंट मिक्सर ट्रक ने सड़क किनारे खड़े 13 स्कूली विद्यार्थियों को कुचल दिया। हादसे में नौ विद्यार्थियों समेत 10 लोगों की मौत हो गई जबकि वाहनों की भिड़ंत में 17 लोगों के घायल होने की खबर है। पंजाब सरकार ने मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख रुपए की वित्तीय मदद करने का एलान किया है। बठिंडा और आसपासके कई छात्र निजी बसों में अपने स्कूल और कोचिंग सेंटर जाते हैं। ये विद्यार्थी बुधवार सुबह एक बस से अपने-अपने स्कूल और कोचिंग सेंंटर जा रहे थे।

इसी दौरान बठिंडा शहर के बाहर भुच्चो खुर्द फ्लाईओवर पर धुंध के कारण बस और वाहनों की टक्कर हो गई। इससे बस क्षतिग्रस्त हो गई। हालांकि इस हादसे में बस में सवार विद्यार्थियों को कोई खरोंच तक नहीं आई। बस टकरा जाने के बाद विद्यार्थी बस से उतर कर फ्लाई ओवर पर खड़े होकर दूसरी बस का इंतजार करने लगे। इसी दौरान एक तेज रफ्तार सीमेंट मिक्सर ट्रक वहां आया और कई वाहनों से टकराते हुए सड़क किनारे खड़े विद्यार्थियों को कुचलते हुए आगे खड़े वाहन से जा टकराया। मिक्सर ट्रक की स्पीड इतनी तेज थी कि कई वाहनों से टकराने के बाद वह नहीं रुका। ट्रक ने फ्लाई ओवर पर खड़े करीब 13 बच्चों को कुचल दिया। इस हादसे में अलग-अलग वाहनों में सवार करीब 17 लोग घायल हो गए।

आसपास के लोगों और फ्लाईओवर के पास मौजूद पुलिस कर्मियों ने घायल विद्यार्थियों को अस्पताल पहुंचाया। हादसे में नौ विद्यार्थियों समेत दस लोगों की मौत हो गई। जबकि तीन विद्यार्थियों की हालत गंभीर बनी हुई है। ट्रक का चालक हादसे के बाद से फरार है। पुलिस ने ट्रक को कब्जे में ले लिया है और घटना की जांच की जांच कर रही है।बठिंडा के उपायुक्त दीप्रवा लाकरा और पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने घटनास्थल का दौरा करने के बाद मृतकों के आश्रितों को एक-एक लाख और घायलों को पचास-पचास हजार रुपए मुआवजा प्रदान करने व मुफ्त उपचार का एलान किया है।

जिला प्रशासन ने इस हादसे के मृतकों की शिनाख्त मनदीप कौर निवासी पक्खो, रफी मोहम्मद (20) निवासी दयालपुरा मिर्जा, विनोद कुमार मित्तल (18) निवासी एसबीएस कॉलोनी रामपुरा मंडी, शिखा (17) निवासी चाउके रामपुरा मंडी, खुशवीर कौर (20) निवासी महराज बस्ती रामपुरा मंडी, जसप्रीत कौर (18) निवासी बस स्टैंड रामपुरा मंडी, नैंसी निवासी रामपुरा मंडी, मनप्रीत कौर (18) निवासी लहरा खाना, ईश्वर सिंह (18) निवासी भुच्चो मंडी के रूप में की है। हादसे में घायल व्यक्तियों की शिनाख्त अमनप्रीत कौर निवासी पत्थो, रमनदीप कौर निवासी जेठूके,जगविंदर कौर निवासी ढपली, अमृतपाल कौर निवासी बठिंडा, गुरप्रीत सिंह निवासी भुच्चो कलां, हरप्रीत कौर निवासी भुच्चो कलां, प्रिया गर्ग निवासी रामपुरा फूल, तान्या बंसल निवासी रामपुरा फूल, सत्या रानी निवासी बठिंडा, मंथन सिंह व हरप्रीत सिंह निवासी रामपुरा फूल के रूप में की है।

-कार पेड़ से टकराई, एक की मौत
उधर होशियारपुर-फगवाड़ा मार्ग पर बुधवार दोपहर हुए सड़क हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि छह लोग घायल हुए। हादसे का शिकार हुए सभी लोग एक ही परिवार के हैं जोकि धार्मिक यात्रा से लौट रहे थे। गुरदासपुर के गांव किला लाल सिंह (डेरा बाबा नानक) निवासी अमनप्रीत सिंह अपने परिवार के साथ गुरुद्वारा श्री भैणी साहिब माथा टेकने गया था। अमनप्रीत के साथ पत्नी हरजीत कौर, दो बेटियां अमरकौर और दूसरी बेटी अवनीत कौर और चचेरे भाई नरिंदर सिंह और गुरप्रीत सिंह थे। मंगलवार को माथा टेकने के बाद रास्ते में ज्यादा धुंध होने के कारण वे लोग रात गुरुद्वारा साहिब में ही रुक गए और बुधवार को अपने गांव के लिए रवाना हुए। उनकी कार जैसे ही होशियारपुर के गांव मरनाइयां के पास पहुंची तो संतुलन बिगड़ने से पेड़ से जा टकराई। घटना की सूचना मिलते ही आसपास के ग्रामीणों ने पुलिस को सूचित करते हुए कार में फंसे पीड़ितों को बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में गुरप्रीत ने दम तोड़ दिया, जबकि कमलजीत कौर की हालत गंभीर होने के कारण उसे पीजीआइ चंडीगढ़ रैफर कर दिया गया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App