ताज़ा खबर
 

ब्‍वॉयफ्रेंड्स होने के शक पर पेरेंट्स ने ले ली बेटियों की जान, नशे की दवाई खिलाकर नहर में फेंक दिया

पुलिस ने बताया कि ज्योति के पिता उदय चंद और मां लक्ष्मी के खिलाफ हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया गया है।

मृत छात्र के परिजनों के शिकायत के आधार पर पुलिस ने तीनों लड़कों को गिरफ्तार कर लिया है। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पंजाब के लुधियाना में एक ऑटो ड्राइवर और उसकी पत्नी ने अपनी ही बेटियों को नशीला पदार्थ खिलाकर नहर में फेंक दिया। दरअसल, मामला बुधवार का है। यहां एक पिता ने अपनी दो बेटियों को नशीला पदार्थ खिलाकर नहर में फेंक दिया। बताया जा रहा है कि परिजनों को शक था कि उनकी दोनों बेटी का ब्यॉयफ्रेंड है। मामला, सामने तब आया जब नहर में दो लड़कियों की लाश बहती हुई देखी गई। पुलिस के मुताबिक, बड़ी बेटी ज्योति (15) उसकी मौत हो गई है, जबकि दूसरी बेटी प्रीति सुरक्षित है। पुलिस ने बताया कि ज्योति के पिता उदय चंद और मां लक्ष्मी के खिलाफ हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि दोनों बहन 10वीं कक्षा की छात्रा हैं। जब वो दोनों बहनें सोमवार को देर शाम तक स्कूल से घर पहुंची तो इससे नाराज परिजनों ने उसे खूब डांटा और उसे जबरन नशीली दवाई खिलाकर उसे नहर में फेंक दिया।

पुलिस ने बताया कि पहले माता-पिता ने ज्योति के दुपट्टे से उसका गला घोंटना चाहा। इसके बाद उसको नहर में फेंक दिया। घटना के एक दिन बाद सिधवान नहर में दोनों के शव को बहते हुए देखा गया। जिसके बाद कुछ लोगों ने दोनों लड़कियों को पास के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने ज्योति को मृत घोषित कर दिया।

पुलिस ने बताया कि प्रीति इस घटना में सुरक्षित है और वो नाम बदलकर पास के मंदिर में भीख मांगती हुई देखी गई। जब पुलिस को शक हुआ तो पूछताछ में पूरे मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने बताया कि प्रीति किसी भी तरह से बाकी भिखारियों की तरह नहीं लग रही थी। पुलिस ने बताया कि प्रीति जिस परिवार के यहां ठहरी हुई थी। वो बिहार का रहने वाला है और उसने प्रीति को नहर से निकालकर बचाया था। परिवार बरेवाल रोड में एक किराए के मकान में रहता है।

देखिए वीडियो - विजयवाड़ा: बस के नहर में गिरने से करीब 7 लोगों की मौत, 30 घायल

ये वीडियो भी देखिए - विधानसभा चुनाव 2017: क्या चाहता है पंजाब

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App