scorecardresearch

हम आस लगाए बैठे थे, आप वादा करके भूल गए- वीडियो शेयर कर सिद्धू ने केजरीवाल पर साधा निशाना

नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान किए गए वादों को लेकर आम आदमी पार्टी पर हमला बोला है। उन्होंने मुफ्त बिजली और मोहल्ला क्लीनिक जैसे मुद्दों को उठाया है।

Navjot Singh Sidhu|Navjot Singh Sidhu attacks AAP|Punjab Government
नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब की आप सरकार पर किया हमला (Photo Credit- द इंडियन एक्सप्रेस)

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू लगातार पंजाब की आप सरकार पर हमलावर हैं। नवजोत ने किसानों के मुद्दे के बाद अब बिजली को लेकर आम आदमी पार्टी को निशाने पर लिया है। उन्होंने आप के मुखिया अरविंद केजरीवाल पर हमला करते हुए मुफ्त बिजली और मोहल्ला क्लीनिक का मुद्दा उठाया है। उन्होंने ट्वीट कर पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान आप की तरफ से किए गए वादों को लेकर राज्य सरकार को घेरा है।

उन्होंने तंज कसते हुए कहा, “हम आस लगाए बैठे थे, आप वादा करके भूल गए।” इसके आगे उन्होंने लिखा, कहां है सबके लिए मुफ्त बिजली? इस आर्थिक संकट में, कृपया हमें बताएं कि मुफ्त बिजली और मोहल्ला क्लीनिक के लिए पैसा कहां से आएगा।” साथ ही कांग्रेस नेता ने सवाल करते हुए कहा कि कहां है रेत खनन से मिलने वाले 20 हजार करोड़ रुपेय।

बता दें कि विधानसभा चुनाव के दौरान आप ने राज्य की जनता को मुफ्त बिजली का वादा किया था, भगवंत मान सरकार की तरफ से फ्री बिजली को लेकर की गई घोषणा में कई प्रावधान हैं। इसी बात को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू ने राज्य सरकार को घेरा है। वहीं, सिद्धू ने इस ट्वीट के साथ अरविंद केजरीवाल का एक वीडियो भी शेयर किया है, जिसमें वे पंजाब की जनता से कई वादे करते दिख रहे हैं।

वीडियो में केजरीवाल ने 18 साल से ऊपर की हर महिला के अकाउंट में हर महीने एक हजार रुपये ट्रांसफर करने का भी वादा किया। इसके अलावा, उन्होंने राज्य में मोहल्ला क्लीनिक बनाने की बात कही थी।

मुख्यमंत्री भगवंत मान के दिल्ली दौरे पर भी बोले सिद्धू
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान इस समय दिल्ली के दो दिवसीय दौरे पर हैं। उनके इस दौरे को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि उनका ये दौरा वास्तविक मुद्दों से परे है। उन्होंने कहा कि अन्य चुनावों के लिए सिर्फ फोटो सेशन और सरकारी खजाने की बर्बादी है। सिद्धू ने कहा कि पंजाब को वित्तीय, किसानों और बिजली संकट से बाहर लाने के लिए नीति की जरूरत है।

पढें पंजाब (Punjab News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X