ताज़ा खबर
 

आवारा कुत्तों ने बच्चे को नोचकर मार डाला

विक्की अपने मां-बाप के पास खेतों में जा रहा था। इसी बीच उस पर सात-आठ आवारा कुत्तों ने हमला बोल दिया।

Author पांवटा साहिब | January 21, 2018 1:13 AM
आवारा गायों, सांड़ों, सूअरों, बंदरों और कुत्तों का काफिला

पांवटा साहिब के ग्राम अमरकोट में आवारा कुत्तों के झुंड ने एक बच्चे की जान ले ली। सात साल का यह बच्चा खेतों में काम करने वाले प्रवासी मजदूर का था। बताया जा रहा है कि बच्चा विक्की अपने मां-बाप के पास खेतों में जा रहा था। इसी बीच उस पर सात-आठ आवारा कुत्तों ने हमला बोल दिया। उसके साथ जा रहे दूसरे बच्चों ने इसकी जानकारी तुरंत गांव वालों को दी। लेकिन जब तक गांव वाले वहां पहुंचते तब तक बच्चे को कुत्तों ने लहूलुहान कर दिया था। उसे तुरंत पांवटा साहिब के अस्पताल ले जाया गया जहां डाक्टरों ने बताया कि बच्चे की मौत हो चुकी है। बच्चे की मां सदमे में है। उसके पिता धर्मेंद्र ने बताया कि उसे गांव वालों से इस हादसे की सूचना मिली। उत्तर प्रदेश के पीलीभीत के गांव रफियापुर के रहने वाले धर्मेंद्र कुमार पिछले कुछ वर्षों से सपरिवार अमरकोट में रह रहे हैं। पति-पत्नी एक औद्योगिक इकाई में बतौर मजदूर काम करsते हैं।

इसके अलावा सुबह-शाम वह लोगों के खेतों में दिहाड़ी मजदूर के तौर पर भी काम करते हैं। शनिवार को यह दंपति गांव के एक खेत पर मजदूरी करने गया था। उनका सात वर्षीय बेटा विशाल उर्फ विक्की अपने कमरे से खेतों की तरफ जा ही रहा था कि अचानक कुछ कुत्तों ने उस पर हमला बोल दिया। वहां मौजूद कुछ लोगों ने कुत्तों को विक्की पर हमला करते देखा लेकिन कोई भी कुत्तों के खौफ के चलते पास जाने की हिम्मत नहीं जुटा पाया। जब शोर मचा तो कुत्ते वहां से भाग गए। लोग बच्चे तक पहुंचे लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। कुत्तों ने मासूम के सिर व पेट को बुरी तरह नोचा डाला। इस बारे में अमरकोट पंचायत के अध्यक्ष राकेश महरालू ने बताया कि हादसा सुबह साढ़े 10 बजे हुआ था। वहीं स्थानीय लोगों का प्रशासन के प्रति नाराजगी है। प्रशासन ने प्रवासी परिवार को फौरी तौर पर 20 हजार रुपए की राहत राशि प्रदान की है।
आवारा कुत्तों ने बच्चे को नोचकर मार डाला

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App