ताज़ा खबर
 

SC/ST को लेकर भाषण दे रहे थे सीएम बादल, दो दलित महिलाओं ने भाषण रुकवाकर यह कहा

पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के कार्यक्रम में दो दलित महिलाओं के हंगामे के बाद प्रोग्राम को वहीं रोकना पड़ा।
पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल। (फाइल फोटो)

पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के कार्यक्रम में दो दलित महिलाओं के हंगामे के बाद प्रोग्राम को वहीं रोकना पड़ा। उन महिलाओं ने आरोप लगाया था कि उन्हें किसी सरकारी स्कीम का फायदा नहीं मिल रहा है। दरअसल, बादल लांबी के किल्लनवाले में ‘दलित चेतना रैली’ में हिस्सा ले रहे थे। वहां बादल ने जैसे ही SC/ST के लिए चलाई जा रही स्कीम का जिक्र करना शुरू किया तब ही दोनों महिलाओं ने उन्हें बीच में ही रोक दिया। इन महिलाओं का नाम रजनी रानी और मंजीत कौर बताया जा रहा है। रजनी ने कहा, ‘मुख्यमंत्री साहब आप इन स्कीम को चला जरूर रहे होंगे लेकिन हमें कोई फायदा नहीं हो रहा। हम लोगों तक कुछ नहीं पहुंच रहा। इसका मतलब है कि आपके नेता या फिर सरकारी लोग इस स्कीम को खा जाते हैं।’

हालांकि, मामले के ज्यादा तूल पकड़ने से पहले ही पुलिस ने महिलाओं को नीचे बैठा दिया। मौके पर मौजूद एसएसपी गुरप्रीत सिंह गिल ने कहा, ‘वे SAD की ही कार्यकर्ता थीं लेकिन उनकी राय कुछ अलग थी। उन्होंने अपनी बात रखी और फिर एक बार कहने पर ही नीचे बैठ गईं।’

दूसरी तरफ बादल सरकार दावा करती रही है कि वह SC/ST के लिए लगातार काम करती रही है। सीएम बादल ने दावा किया है कि पंजाब पहला ऐसा राज्य है जहां आटा-दाल स्कीम के तहत 3,415 करोड़ रुपए के गेहूं और दालें घर-घर पहुंचाई गई हैं। उनके मुताबिक, जल्द ही 7 लाख और परिवारों को इस स्कीम का फायदा दिया जाएगा। जिससे स्कीम का फायदा उठाने वालों की संख्या 1.41 करोड़ तक पहुंच जाएगी।

Read Also: विरोधी तत्वों के नापाक मंसूबों को नाकाम करें: प्रकाश सिंह बादल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.