ताज़ा खबर
 

मेवात के गांव में 3 घंटे तक लुटेरों का उत्‍पात, दंपति की हत्‍या, नाबालिग सहित दो से गैंगरेप

हरियाणा के मेवात जिले में एक गांव में अज्ञात लोगों ने एक परिवार के घर में घुसकर एक दंपति की हत्या कर दी। साथ ही दो लड़कियों से गैंगरेप किया, इनमें से एक लड़की नाबालिग है।

Author चंडीगढ़ | Updated: August 26, 2016 12:38 PM
मेवात के तौरू थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है।

हरियाणा के मेवात जिले में एक गांव में अज्ञात लोगों ने एक परिवार के घर में घुसकर एक दंपति की हत्या कर दी। साथ ही दो लड़कियों से गैंगरेप किया, इनमें से एक लड़की नाबालिग है। पुलिस ने कहा कि हमलावरों ने दिगेरहेड़ी गांव में खेत के नजदीक मकान में घुसकर पहले धारदार हथियारों से दंपति की हत्या की और फिर परिवार के छह अन्य सदस्यों को घायल कर दिया जो उस वक्त सो रहे थे। इस घटना को अंजाम देने के बाद अपराधियों ने घायलों को रस्सी से बांध दिया और घटनास्थल से फरार हो गए।

पुलिस में शिकायत दर्ज कराने वाली एक पीडि़ता ने बताया कि वह अपने चाचा से मिलने के लिए आई हुई थी। उसने आरोप लगाया कि चार से पांच लोग आधी रात के समय घर में घुसे। वह तीन चचेरी बहनों के साथ सो रही थी जबकि चाचा व चाची बाहर सो रहे थे। उन्‍होंने चुन्नियों से चाचा और चाची को बांध दिया। इसके बाद लाठियों से उन्‍हें पीटा। बदमाश इसके बाद फिर से कमरे में आए और उनमें से तीन ने उससे और 15 साल की चचेरी बहन से बारी-बारी रेप किया।

पीडि़ता ने बताया कि लुटेरों ने उनके घर को निशाना बनाने से पहले पास में ही रहने वाले चाचा के साले और उनकी पत्‍नी को भी पीटा। पुलिस ने बताया कि दोनों की चोटों के चलते मौत हो गई। लुटेरे घर से की‍मती सामान ले गए और अनाज के टैंक को भी खाली कर दिया। भागने से पहले उन्‍होंने लड़कियों को कमरे में बंद कर दिया। वे परिवार की मोटरसाइकिल भी ले गए। पीडि़ता ने बताया कि लुटेरों के पास देसी कट्टा था। सभी घायलों को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। लुटेरों ने इस वारदात को तीन घंटे में अंजाम दिया। मामले की शिकायत तौरू थाने में दर्ज कराई गई है।

Next Stories
1 भाषण के कारण केजरीवाल को पसंद आए थे सुचा सिंह छोटेपुर, गोल्‍डन टेंपल में कार्रवाई के विरोध में छोड़ दिया था मंत्री पद
2 पंजाब: प्रदेश संयोजक सुच्चा सिंह को आम आदमी पार्टी कर सकती है निलंबित, पैसों के बदले टिकट बांटने का आरोप
3 अमरिंदर सिंह लेंगे नवजोत सिंह सिद्धू को कांग्रेस में शामिल करने का फैसला
ये पढ़ा क्या?
X