ताज़ा खबर
 

सुरक्षा एजंसियों ने एक करोड़ से अधिक रुपए किए बरामद

सुरक्षा एजंसियों ने मुंबई और लुधियाना में छापा मारकर अलग-अलग लोगों से एक करोड़ तीन लाख से अधिक रुपए बरामद किए हैं।

Author ठाणे/चंडीगढ़/सूरत | December 28, 2016 3:11 AM
पुराना पांच सौ का नोट।

सुरक्षा एजंसियों ने मुंबई और लुधियाना में छापा मारकर अलग-अलग लोगों से एक करोड़ तीन लाख से अधिक रुपए बरामद किए हैं। इनमें दो हजार के नोटों में 49.5 लाख रुपए हैं। बरामद रुपयों में डेढ़ लाख रुपए विदेशी की मुद्रा है। वहीं गुजरात के सूरत में पुलिस ने छह लाख रुपए के जाली नोटों के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। ये नोट एक हजार के थे। गिरफ्तार लोगों में से एक ने खुद को ब्रितानी नागरिक बताया है।  मुहाराष्ट्र के नवी मुंबई के खारघर में एक फर्म के वाणिज्यिक परिसरों में छापेमारी की कार्रवाई में दो हजार रुपए के नए नोटों में कुल 45 लाख रुपए की नकदी बरामद की गई है। एसीपी नितिन कौठाडिकर ने यहां पत्रकारों को बताया कि ये छापे सोमवार शाम मारे गए। इसके बाद पांच लोगों को इस संबंध में हिरासत में लिया गया। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि कुछ लोग कमीशन पर पुराने नोटों को नए नोटों से बदल रहे हैं। हिरासत में लिए गए लोगों की पहचान 34 साल के जैदास विलास तेलावने, 32 साल के सुरेश मांजी फाटक, 46 साल के इकबाल करीम पटेल, 31 साल के महेश वसंत पटेल और 40 साल के जुबेर निजामुद्दीन पटेल के रूप में की गई है।

जब्त की गई नकदी आयकर विभाग के अधिकारियों को सौंप दी गई है, जो इस मामले की आगे की जांच कर रहा है। वहीं प्रवर्तन निदेशालय ने पंजाब के लुधियाना जिले में एक व्यापारी के परिसर से 58 लाख रुपए से ज्यादा बिना-दस्तावेज का नकद बरामद किया है। इसमें 2000 रुपए के नोटों में 4.50 लाख रुपए और 1.50 लाख रुपए विदेशी मुद्रा में हैं। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर ईडी ने लुधियाना के किचलू नगर स्थित एक व्यापारी के परिसर पर छापा मारा। ईडी के एक अधिकारी ने मंगलवार को कहा, जब्ती में 100 के नोटों में 54 लाख रुपए, 2000 रुपए के नोटों में 4.50 लाख रुपए और 1.50 लाख रुपए विदेशी मुद्रा (अमेरिकी और सिंगापुर डॉलर) में बरामद किए गए। ईडी ने इस महीने चंडीगढ़ में तीन अभियान चलाए थे।

इसके पहले अभियान में 14 दिसंबर को ईडी ने 2.19 करोड़ रुपए जब्त किए थे। 16 दिसंबर को दूसरे अभियान में 30 लाख रुपए और तीसरे अभियान में 18 दिसंबर को 50 लाख रुपए जब्त किए थे। वहीं गुजरात के सूरत शहर पुलिस की अपराध शाखा ने चलन से बाहर हो चुके 1,000 रुपए के जाली नोटों में छह लाख रुपए के साथ तीन लोगों को मंगलवार को गिरफ्तार किया। पुलिस उपायुक्त विशाल वाघेला ने बताया कि एक गुप्त सूचना के आधार पर शहर के लिम्बायत क्षेत्र में एक अस्पताल के नजदीक जाली नोटों के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार किया। वाघेला ने बताया कि इनमें से एक आरोपी, 40 साल का जाकिर पटेल ने खुद को ब्रिटिश नागरिक होने का दावा किया है। उसने पुलिस को बताया कि वह इन नोटों की अदला-बदली कराने के लिए इन्हें ब्रिटेन से लेकर आया था। दो अन्य आरोपियों की पहचान 26 साल के फैजल पटेल और 35 साल के सरफराज याकूब के रूप में हुई है।

 

मायावती का पलटवार: बीजेपी अब बसपा की छवि खराब कपना चाहती है

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App