ताज़ा खबर
 

नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार ने दिया इस्तीफा? 8 महीने से बिना वेतन कर रहे थे काम

कहा जा रहा है कि सिद्धू के सलाहकार मुख्यमंत्री की स्वीकृति के बिना काम कर रहे थे। इससे पहले सिंद्धू ने मामला सीएम के समक्ष भेजा था जहां उन्होंने अमर सिंह की नियुक्ति को स्वीकृति नहीं धी। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार वह पिछले करीब आठ महीने से बिना वेतन के काम कर रहे थे।

नवजोत सिंह सिद्धू।

पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार में स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार डॉक्टर अमर सिंह ने सोमवार (19 फरवरी, 2018) को अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। रिपोर्ट के अनुसार वह सोमवार को अपने ऑफिस भी नहीं आए। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि अमर सिंह सूबे के मुख्यमंत्री की स्वीकृति के बिना काम कर रहे थे। दरअसल सिंद्धू ने मामला सीएम के समक्ष भेजा था जहां उन्होंने अमर सिंह की नियुक्ति को स्वीकृति नहीं धी। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार वह पिछले करीब आठ महीने से बिना वेतन के काम कर रहे थे।

इस मामले में अमर सिंह से बातचीत नहीं हो सकी है, हालांकि कैबिनेट मंत्री नवजोत सिद्धू ने इस मामले में प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने इंडियन एक्सप्रेस से कहा, ‘उन्हें हटाने के लिए हमने कोई पत्र नहीं भेजा है। उन्हें नियुक्ति के लिए एक लेटर भेजा लेकिन हमने उन्हें नहीं हटाया है। अगर वो इस्तीफा देने चाहते हैं तो यह उनकी इच्छा है। मैं उनका बहुत सम्मान करता हूं। उन्होंने बिना वेतन आठ महीने काम किया है। मैंने नहीं सोचा था कि वो इस्तीफा भेज देंगे।’

बता दें कि सिद्धू बीते दोनों भी प्रकाश में आए थे जब शिरोमणी अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल उन्हें बंदर कहा था। उन्होंने सिद्धू पर सिख स्मारकों का अपमान करने का आरोप लगाया था। समाचार एजेंसी एएनआई की खबर के मुताबिक सुखबीर सिंह बादल ने कहा- ‘नवजोत सिंह सिद्धू जो कि एक बंदर की तरह है, उन्होंने हमारे द्वारा बनाई गई सिख स्मारकों को सफेद हाथी कहकर अपमान किया है। क्या उन्होंने ‘विरासत-ए-खालसा’ को सफेद हाथी कहा है, जो कि सिख इतिहास को सलाम करता है?’

सुखबीर सिंह बादल पर एक बार सिद्धू को मेंटल कहने का भी आरोप लग चुका है। बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू ने भारतीय जनता पार्टी को छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम लिया था। इसके बाद पंजाब में कांग्रेस की सरकार बनने पर उन्हें स्थानीय निकाय मंत्री बनाया गया। हाल ही में सुखवीर सिंह बादल की एक बार तब जुबान फिसल गई थी जब वह गुंडा टैक्स की बात कर रहे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App